ये हैं भारत के सबसे Longest Bridge

Deeksha Nandini

असम और अरुणाचल प्रदेश को जोड़ने वाला यह भारत का सबसे Longest Bridge है। भूपेन हजारिका सेतु या ढोला-सदिया सेतु भारत का सबसे लम्बा पुल है। जिसका उद्घाटन 26 मई 2017 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा कर दिया गया। यह 9.15 किलोमीटर लम्बा सेतु लोहित नदी को पार करता है, जो ब्रह्मपुत्र नदी की एक मुख्य उपनदी है।

Bhupen Hazarika Setu (भूपेन हजारिका सेतु) | Zeeshan Mohd -RE

दिबांग रिवर ब्रिज 6.2 किमी लंबा बीम ब्रिज है जो भारत के अरुणाचल प्रदेश में दिबांग नदी पर बना है। यह बोमजिर और मालेक गांवों को जोड़ता है और अरुणाचल प्रदेश के पूर्वी हिस्से में डम्बुक और रोइंग के बीच सभी मौसम में कनेक्टिविटी प्रदान करता है। दिबांग नदी पुल भारत में पानी के ऊपर दूसरा सबसे Longest Bridge है और NH13 ट्रांस-अरुणाचल राजमार्ग का हिस्सा है।

Dibang River Bridge (दिबांग नदी पुल) | Zeeshan Mohd -RE

महात्मा गांधी सेतु भारत के सबसे Longest नदी Bridge में से एक है, जो गंगा नदी पर 5.75 किमी की लंबाई में फैला है। पुल पटना और हाजीपुर को जोड़ता है। इसका उद्घाटन 1982 में इंदिरा गांधी द्वारा किया गया था। पुल के निर्माण में 1972 से 1982 तक लगभग दस साल लगे।

Mahatma Gandhi Setu (महात्मा गांधी सेतु) | Zeeshan Mohd -RE

बिहार में यह पुल क्षेत्रीय कनेक्टिविटी और परिवहन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह 8वीं शताब्दी ईस्वी में राजा धर्मपाल ने स्थापित किया था। भारत में पानी के ऊपर छठा सबसे लंबा पुल है, जो 4.7 किमी में फैला है, यह NH 33 और NH 31 को जोड़ता है।

Vikramshila Setu (विक्रमशिला सेतु) | Zeeshan Mohd -RE

यह अरब सागर पर एक केबल-आधारित पुल है, जो मुंबई के क्षितिज को बढ़ाता है। इसका निर्माण बांद्रा और वर्ली के बीच यात्रा के समय को कम करने के लिए किया गया था। पुल 5.6 किमी लंबा है और 424 केबलों द्वारा समर्थित है, जिनमें से प्रत्येक में 2,000 टन वजन हो सकता है। इस पल के निर्माण में भी 10 साल का समय लगा था।

Bandra-Worli Sea Link (बांद्रा - वर्ली समुद्र लिंक) | Zeeshan Mohd -RE

यह भारत का दूसरा सबसे लंबा रेल-सह-सड़क पुल है, जो आंध्र प्रदेश में गोदावरी नदी पर फैला है। पुल की कुल लंबाई 4.1 किमी है, जिसमें रेलवे खंड 2.7 किमी की लंबाई और सड़क खंड 1.4 किमी की लंबाई को कवर करता है।

Godavari Fourth Bridge (गोदावरी चौथा पुल) | Zeeshan Mohd -RE

भारत के तमिल नाडु राज्य में पम्बन द्वीप को मुख्यभूमि में मण्डपम से जोड़ने वाला एक रेल सेतु है। यह अगस्त 1911 से बनना शुरु हुआ और इसका उदघाटन 24 फ़रवरी 1914 में हुआ था। तब यह भारत का एकमात्र समुद्री सेतु था। यह सन् 2010 में बान्द्रा-वर्ली समुद्रसेतु के खुलने तक भारत का सबसे लम्बा समुद्री सेतु रहा।

Pamban Bridge (पंबन ब्रिज) | Zeeshan Mohd -RE

इस राज्य की सबसे अधिक है जनसंख्या

इस राज्य की सबसे अधिक है जनसंख्या | Naval Patel - RE