करोड़ों में है देश के मुख्यमंत्रियों की संपत्ति

Kavita Singh Rathore

जगन मोहन रेड्डी आंध्र प्रदेश के 17वें और वर्तमान मुख्यमंत्री हैं जो भारत के सबसे अमीर मुख्यमंत्रियों की लिस्ट में टॉप पर हैं। 2023 में उनकी कुल संपत्ति 510 करोड़ दर्ज हुई है।

जगन मोहन रेड्डी | RE

पेमा खांडू अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं। यह पहले भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य रहे फिर 2016 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। उनकी कुल संपत्ति 163 करोड़ हैं और वह इस लिस्ट में दूसरे स्थान पर हैं।

पेमा खांडू | RE

नवीन पटनायक ओडिशा के वर्तमान और सबसे लंबे समय तक रहने वाले मुख्यमंत्री हैं। उन्होंने लगातार पांच बार चुनाव जीता है। उनकी कुल संपत्ति 63 करोड़ है।

नवीन पटनायक | RE

नेफ्यू रियो नागालैंड के सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहने वाले और लगातार पांच बार मुख्यमंत्री रहने वाले मुख्यमंत्री हैं। उनके उत्कृष्ट नेतृत्व और राजनीति में योगदान के लिए, रियो को द मदर टेरेसा मिलेनियम अवार्ड से सम्मानित किया गया है। उनकी कुल संपत्ति 46 करोड़ हैं।

नेफ्यू रियो | RE

38 करोड़ की संपत्ति के साथ एन रंगासामी भारत के सबसे अमीर मुख्यमंत्रियों की सूची में पांचवें स्थान पर हैं। रंगासामी ने अपनी पार्टी बनाने के बाद तीन महीने के भीतर मुख्यमंत्री बनने और चौथी बार पुडुचेरी के मुख्यमंत्री बनने का भी रिकॉर्ड बनाया है।

एन रंगासामी | RE

के.चंद्रशेखर राव वर्तमान में 2014 से तेलंगाना के पहले और वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। वह राज्य पार्टी, भारत राष्ट्र समिति के संस्थापक हैं। उनकी कुल संपत्ति 23 करोड़ है।

के.चंद्रशेखर राव | RE

2021 से हिमंत बिस्वा सरमा असम के CM के रूप में कार्यरत हैं। इससे पहले, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य, सरमा 2015 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे। 2023 तक उनकी कुल संपत्ति 17 करोड़ है।

हिमंत बिस्वा सरमा | RE

कॉनराड संगमा नेशनल पीपुल्स पार्टी का प्रतिनिधित्व करते हुए 2018 से मेघालय के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यरत हैं। इससे पहले वह कॉनराड ने राष्ट्रवादी युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में कार्य किया था। उनकी कुल संपत्ति 15 करोड़ है।

कॉनराड संगमा | RE

इस लिस्ट में 10वें स्थान पर माणिक साहा का नाम है। वह भारतीय जनता पार्टी के सदस्य हैं और त्रिपुरा के 11वें और वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। वह भी पहले भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सदस्य थे। उनकी कुल संपत्ति 13 करोड़ है।

माणिक साहा | RE