Raj Express
www.rajexpress.co
 Axis Bank Employees Quit Jobs
Axis Bank Employees Quit Jobs |Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

CEO सहित 15 हजार कर्मचारियों ने मारी Axis बैंक की नौकरी को लात

Axis बैंक के CEO सहित 15 हजार कर्मचारियों ने पिछले कुछ महीनों के दौरान नौकरी छोड़ दी, वहीं बैंक में नए CEO का पद अमिताभ चौधरी ने संभाला। जानिए, कर्मचारियों द्वारा नौकरी छोड़ने का कारण।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • एक्सिस बैंक के कर्मचारियों ने छोड़ दी नौकरी

  • 15 हजार कर्मचारियों में बैंक CEO भी शामिल

  • बैंक में नए CEO का पद अमिताभ चौधरी ने संभाला

  • वर्तमान में बैंक में 28 हजार कर्मचारी कार्यरत

राज एक्सप्रेस। जहां एक तरफ पूरे देश में नौकरी एक मुख्य मुद्दा बना रहता है, लोगों का कहना रहता है कि, नौकरी नहीं है, वहीं एक्सिस बैंक (Axis Bank) में पिछले कुछ महिनों के दौरान कार्यरत 15 हजार कर्मचारियों ने अपना पद छोड़ दिया, अर्थात नौकरी छोड़ दी।

क्यों छोड़ी नौकरी :

खबरों के अनुसार, इतने लोगों के नौकरी छोड़ने का कारण बैंक के मैनेजमेंट (Axis Bank Management Changes) में बदलाव का होना बताया जा रहा है, अर्थात बैंक के कर्मचारी नए मैनेजमेंट के साथ कार्य करने में कम्फर्टेबल नहीं थे उन्हें लगातार काम के दौरान दिक्कतें आ रही थीं, इसी के चलते मिड लेवल के लगभग एग्जीक्यूटिवों ने अपनी मर्जी से नौकरी छोड़ दी। बताते चलें कि, नये मैनेजमेंट द्वारा बैंकों की ग्रोथ बढ़ाने के लिए कई ब्रांच के ऑपरेशन में बदलाव किये जा रहे हैं, शायद यह बदलाव उन कर्मचारियों को पसंद नहीं आये।

किसने संभाला एमडी और सीईओ का पद :

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, MD और CEO की पद शिखा शर्मा द्वारा छोड़ने के बाद यह पद अमिताभ चौधरी ने संभाला है। चौधरी ने अपना कार्यभार 1 जनवरी 2019 से एक्सिस बैंक में MD और CEO पद का कार्यभाल संभाल लिया है, अब उनका कार्यकाल अब से 3 साल अर्थात 2020 से दिसंबर 2022 तक रहेगा। अमिताभ चौधरी इससे पहले साल 2010 से HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस के MD और CEO भी रह चुके हैं।

बैंक के वर्तमान के कुल कर्मचारी :

एक्सिस बैंक में वर्तमान वित्त वर्ष में कुल 28 हजार कर्मचारी कार्यरत हैं। साथ ही बैंक का विचार इसी साल जनवरी-मार्च की तिमाही में अन्य 4 हजार और कर्मचारियों को नौकरी पर रखने का है।

बैंक का कहना :

बैंक का कहना है कि, बैंक बहुत तेजी से बैंकों क क्रियाकलापों में बदलाव कर रहा है साथ ही बैंक नए लोगों को भर्ती भी कर रहा है। बैंक के एक कर्मचारी द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार, बैंक द्वारा हुए नए बदलावों के तहत कई कर्मचारी तो बैंक में उनके रोल और कार्य को लेकर चिंता में थे। इन नए बदलावों के होने से कर्मचारी बहुत ही असहज महसूस कर रहे थे। जिसके कारण उन्हें और कोई रास्ता नज़र नहीं आया।

MD और CEO ने बताया :

बैंक के MD और CEO अमिताभ चौधरी ने बताया कि, "रेगुलेटरी द्वारा मिली मंजूरी के बाद बैंक इंश्योरेंस की फील्ड में कदम रखेंगे। Axis Bank इंश्योरेंस का बड़ा डिस्ट्रीब्यूटर है और इंश्योरेंस से काफी अच्छी ग्रोथ होती है। RBI ने रेगुलेटरी में बदलाव किए हैं। हालांकि, बैंक को इंश्योरेंस में ज्यादा हिस्सेदारी की मंजूरी नहीं मिली है। उन्होंने यह भी बताया कि इसके लिए अलग से कोई नई इंश्योरेंस कंपनी नहीं बनाते हुए बैंक किसी अच्छी इंश्योरेंस कंपनी को खरीदने पर विचार कर रहा है।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।