पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से छुटकारा दिलाने राजस्थान सरकार ने किया बड़ा ऐलान
गहलोत सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर घटाया 2% वैट Social Media

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से छुटकारा दिलाने राजस्थान सरकार ने किया बड़ा ऐलान

पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने से वाहन चालक परेशान हैं। इस बीच राजस्थान की गहलोत सरकार ने शुक्रवार को अपने प्रदेशवासियों के लिए राहत का ऐलान किया है।

राज एक्सप्रेस। नए साल से जहां देश में कोरोना के बढ़ते मामलों में पहले की तुलना में कुछ कमी दर्ज की गई है। जिससे लोगों को कुछ राहत नजर आरही है। ऐसे में जहां, एक तरफ वैक्सीन अभियान शुरू होने से देश में ख़ुशी का माहौल है। वहीं, पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने से वाहन चालक परेशान भी हैं। इस बीच राजस्थान की गहलोत सरकार ने शुक्रवार को अपने प्रदेशवासियों के लिए राहत का ऐलान किया है।

वैट की दर में 2% की कमी :

दरअसल, पूरे भारत में पेट्रोल-डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही है। इसी बीच अशोक गहलोत सरकार ने राजस्थान राज्य में पेट्रोल और डीजल पर लगने वाले वैट की दर में 2% की कमी करते हुए बड़े राहत की खबर दी है। इस बारे में जानकारी राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर दी। उन्होंने लिखा कि,

'राज्य सरकार ने राजस्थान में लोगों को राहत देने के लिए पेट्रोल और डीजल दोनों पर वैट 2 प्रतिशत घटा दिया है। उन्होंने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि केंद्र सरकार भी कटौती की घोषणा करेगी ताकि आम लोगों पर वित्तीय बोझ कम हो।'
अशोक गहलोत, राजस्थान के मुख्यमंत्री

कब से लागू होंगी नई दरें :

बताते चलें, पेट्रोल और डीजल की कीमत पर लगने वाले वैट को लेकर वित्त विभाग ने आदेश जारी कर दिए हैं और नई दरें 28 जनवरी रात 12 बजे यानी 29 जनवरी से प्रभावी हो गई हैँ। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया है कि, अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल के दाम लंबे समय तक न्यूनतम स्तर पर होने के बावजूद पेट्रोल-डीजल के दाम उच्चतम स्तर पर होने से महंगाई बढ़ रही है और आमजन को आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। भारत सरकार द्वारा वर्तमान में पेट्रोल पर 32 रुपए 98 पैसे प्रति लीटर और डीजल पर 31 रुपए 83 पैसे प्रति लीटर उत्पाद शुल्क लिया जा रहा है, जो 'अत्यधिक' है।

मुख्यमंत्री का दावा :

मुख्यमंत्री का दावा है कि, 'भारत सरकार की नीतियों के कारण राजस्थान सहित सभी राज्यों को राजस्व की भारी हानि हो रही है और आमजन को महंगे पेट्रोल-डीजल की मार झेलनी पड़ रही है। राज्य सरकार ने जो पहल की है, केन्द्र सरकार भी उसका अनुसरण करे और पेट्रोल और डीजल पर केन्द्रीय करों में कमी लाकर लोगों को राहत दे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co