जर्मनी में पायलटों की हड़ताल के चलते परेशान हो रहे लाखों यात्री
जर्मनी में पायलटों की हड़ताल के चलते परेशान हो रहे लाखों यात्रीSyed Dabeer Hussain - RE

जर्मनी में पायलटों की हड़ताल के चलते परेशान हुए लाखों यात्री, प्रभावित हुई कई यात्राएं

जर्मनी में सेकड़ों पायलट हड़ताल पर बैठे हैं। जिसके चलते कई यात्राएं रद्द हो गई हैं।पायलटों की हड़ताल के चलते रद्द हुई फ्लाइट्स से लाखों हवाई यात्रीयों को परेशान होना पड़ा।

जर्मनी, दुनिया। हम आज किसी भी क्षेत्र की बात करें, wo चाहे बैंक हो या कोई कंपनी। यदि किसी संस्था के कर्मचारी हड़ताल करते हैं, तो उसका नुकसान आम जनता को भी उठाना पड़ता है। इसी कड़ी में आज जर्मनी में हुई पायलटों की हड़ताल के चलते कई यात्राएं रद्द हो गई। बता दें, यह हड़ताल जर्मनी की लुफ्थांसा एयरलाइंस के पायलटों ने की थी। इस हड़ताल के चलते लाखों हवाई यात्रीयों को परेशान होना पड़ा।

पायलटों की हड़ताल के चलते लाखों यात्री हुए परेशान :

दरअसल, कई बार ऐसा होता है कि, कंपनी के कर्मचारी अपनी संस्था से नाखुश रहते हैं और वह अपनी मांग लगातार अपनी कंपनी के सामने रखते हैं, लेकिन जब कंपनी उनकी मांग को अनाजरंदाज़ करती जाती है तो, कर्मचारियों के पास कोई चारा नहीं बचता है। फिर वह हड़ताल का रास्ता चुनते हैं। इस दौरान वह कंपनी में कर रहे सभी काम करना बंद कर देते है और एक जगह जमा होकर अपनी मांग को रखते ही नारेवाजी करते हैं। इसी तरह जर्मनी की 'लुफ्थांसा एयरलाइंस' (Lufthansa Airlines) के पायलटों ने अपनी मांग रखते हुए आज शुक्रवार को एक दिवसीय हड़ताल का आह्वान किया था। पायलटों की हड़ताल के चलते इस दौरान 800 उड़ानें रद्द करनी पड़ी। जिससे लगभग 1 लाख 30 हजार हवाई यात्री प्रभावित हुई।

क्यों की गई यह हड़ताल :

जानकारी के अनुसार, जर्मनी में पायलटों ने यह हड़ताल पायलट संघ ने वेतन वृद्धि (Salary Increment) को मंजूरी नहीं देने एक चलते की। यह पायलट बीती आधी रात से आज दिनभर हड़ताल पर रहे। बता दें, पायलट यूनियन ने अपने 5 हजार से ज्यादा पायलटों के लिए इस साल सलेरी में 5.5% कि बढ़ोतरी करने और उसके बाद महंगाई में भारी इजाफे के लिए मुआवजे की मांग की है। इस मामले में लुफ्थांसा एयरलाइन के एक प्रवक्ता ने कहा था कि, 'हमें जल्द से जल्द से बातचीत की उम्मीद है। हालांकि हम उनकी मांगों से जुड़ी लागत वृद्धि को सहन नहीं कर सकते हैं।'

लुफ्थांसा एयरलाइंस की प्रेस विज्ञप्ति :

बताते चलें, लुफ्थांसा एयरलाइंस ने अपनी प्रेस विज्ञप्ति में पहले ही साफ़ तौर पर जानकारी देते हुए कहा था कि, 'हड़ताल से 1 लाख 30 हजार यात्री प्रभावित हो सकते हैं। सैलरी में इजाफे को लेकर बातचीत फेल हो गई है और लुफ्थांसा एयरलाइंस के पायलट गुरुवार की आधी रात के बाद से 24 घंटे की हड़ताल करेंगे। इससे यात्रियों और कार्गो दोनों सेवाएं प्रभावित होंगी। एयरलाइंस ने कहा कि गुरुवार को भी कई उड़ाने रद्द कर दी गईं थीं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co