चीनी नव वर्ष के पहले लाल सागर में बढ़ते तनाव के बीच हवाई माल भाड़ा दरों में देखने को मिली बढ़ोतरी

वैश्विक हवाई माल ढुलाई की दरों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी देखने को मिली है। लाल सागर से गुजरने वाले जहाजों पर हमलों की वजह से इस मार्ग से आवागमन कम हो गया है।
Freight rates increase due to tension in the Red Sea
Freight rates increase due to tension in the Red SeaRaj Express

हाईलाइट्स

  • लाल सागर संकट की वजह से हवाई माल ढुलाई की दरों में वृद्धि

  • हमलों की वजह से लाल सागर से बचकर निकल रहे हैं जहाज

  • तनाव की वजह से आजकल वायु मार्ग से कार्गो भेज रही कंपनियां

राज एक्सप्रेस । चीनी चंद्र नव वर्ष से पहले के सात सप्ताहों में पहली बार वैश्विक हवाई माल ढुलाई की दरों में रिकॉर्ड बढ़ोतरी देखने को मिली है। लाल सागर से गुजरने वाले जहाजों पर हूथी विद्रोहियों के हमलों की वजह से इस व्यापारिक मार्ग से आवागमन कम हो गया है। इस स्थिति ने विभिन्न कंपनियों को महंगे एयर कार्गो में जगह सुरक्षित करने के लिए बड़े स्तर पर प्रेरित किया है। मूल्य रिपोर्टिंग एजेंसी टीएसी इंडेक्स ने बताया कि बाल्टिक एयर फ्रेट इंडेक्स, जो कई मार्गों पर कार्गो की साप्ताहिक लेनदेन दर को प्रदर्शित करता है, इस सप्ताह 6.4% तक बढ़ गया है। जो दिसंबर के मध्य में सीजनल पीक के बाद गिरावट में चल रहा था।

लाल सागर में हूती विद्रोहियों के हमलों ने बढ़ाई चिंता

गाजा में फिलिस्तीनियों के साथ एकजुटता व्यक्त करने के लिए लाल सागर से गुजरने वाले जहाजों पर विद्रोही हैती समूहों द्वारा किए गए हमलों ने जहाजों को लंबे मार्ग लेने के लिए मजबूर कर दिया है। इसकी वजह से जहाजों को लंबा मार्ग तय करना पड़ता है। टीएसी इंडेक्स में बताया गया है कि हवाई किराए में यह बढ़ोतरी उन उम्मीदों के अनुरूप है जिनमें बताया गया था कि लाल सागर में समुद्री शिपिंग में व्यवधान की वजह से हवाई दरों में इजाफा देखने को मिल सकता है। हालांकि सूत्रों ने यह भी बताया है कि किराए की दरें अक्सर चीनी नव वर्ष से पहले बढ़ती हैं।

हवाई माल ढ़ुलाई की दरों में देखने को मिली बड़ी बढ़ोतरी

चीन में कई फ़ैक्टरियाँ इस साल 10 फ़रवरी से शुरू होने वाली 8-दिवसीय छुट्टियों में बंद रहने वाली हैं। ये कंपनियाँ छुट्टियों के पहले अपने ग्राहकों तक स्टॉक पहुँचाने पर ज़ोर दे रही हैं। यूरोप के लिए बड़ी वृद्धि के साथ शंघाई से हवाई माल ढुलाई दरों में सोमवार को सप्ताह दर सप्ताह आधार पर 8.8% की वृद्धि देखने को मिली। हांगकांग से बाहर दरें 5.9% बढ़ीं हैं और दक्षिण पूर्व एशिया से बाहर दरों में 10% बढ़ोतरी देखने को मिली है। हाल के सप्ताहों में माल ढुलाई कंपनियों ने अधिक एयर कार्गो स्थान सुरक्षित किया है और कुछ ग्राहकों ने देरी से बचने के लिए पूरी तरह या आंशिक रूप से हवाई मार्ग से माल भेजना शुरू कर दिया है।

वायु वार्ग की तुलना में समुद्री मार्ग से होती है ज्यादा ढुलाई

हालाँकि, इस दौरान हवाई माल ढुलाई की कीमतें अपेक्षाकृत स्थिर बनी रहीं, क्योंकि शिपिंग संकट क्रिसमस के बाद मांग में कमी के साथ मेल खाता था। वैश्विक हवाई माल ढुलाई दरों में 2022 की शुरुआत से महामारी के दौरान सर्वकालिक उच्चतम स्तर से गिरावट का रुख देखने को मिला है। बाल्टिक एयर फ्रेट इंडेक्स सोमवार को साल दर साल आधार पर लगभग 24% नीचे था। एयरलाइन उद्योग संघ आईएटीए के अनुसार, हवाई माल ढुलाई, समुद्री माल ढुलाई से अधिक महंगा है, जो मात्रा के हिसाब से वैश्विक व्यापार का 1% से भी कम प्रतिनिधित्व करता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co