समय के साथ आपको अमीर बना देगा धैर्य और अनुशासन के साथ शेयर बाजार में किया गया एक छोटा सा निवेश

अमीर बनने के लिए अच्छी नौकरी होना या बड़ी पूंजी से कोई कारोबार शुरू करना ही जरूरी नहीं है। अगर आप वित्तीय प्रबंधन का महत्व समझते हैं तो आप कम समय में कम संसाधनों के साथ आप अच्छा पैसा बना सकते हैं।
Nivesh Mantra
Nivesh MantraSocial Media

राज एक्सप्रेस। अमीर बनने के लिए अच्छी नौकरी होना या बड़ी पूंजी से कोई कारोबार शुरू करना ही जरूरी नहीं है। अगर आप वित्तीय प्रबंधन का महत्व समझते हैं तो आप कम समय में कम संसाधनों के साथ आप अच्छा पैसा बना सकते हैं। निवेश के लिए शेयर बाजार एक अच्छी जगह है। शेयर बाजार में धैर्य और अनुशासन के साथ निवेश करके आप उम्मीद से कही अधिक पैसा बना सकते हैं। अगर आप नियमित रूप से शेयर बाजार में पैसा लगाते हैं, तो यकीन जानिए, एक समय बाद आपको अच्छे रिटर्न मिलना तय है। अगर आपने अपने शुरुआती जीवन में ही शेयर बाजार में निवेश करना शुरू कर दिया, तो तय है कि कुछ ही सालों में आपके पास बड़ी पूंजी होगी और पैसों को लेकर आपकी सारी चिंताएं मिट जाएंगी। हर कोई अमीर बनना चाहता है, हर कोई कम समय में अधिक से अधिक अमीर बनना चाहता है, लेकिन यह काम कैसे होगा उन्हें इसकी धारणा नहीं होती। स्वाभाविक रूप से हम सभी सपने देखते हैं इन्हें पूरा करने के लिए दिन-रात मेहनत भी करते हैं। कोई बड़ी सरकारी जॉब की तैयारी करता है, तो कोई किसी अच्छी कंपनी में नौकरी पाने की कोशिश करता है। कुछ लोग अपना कारोबार शुरू करते हैं। आर्थिक रूप से निश्चिंत होने के लिए अच्छी नौकरी और बढ़िया आय ही जरूरी नहीं है। कई लोग सबकुछ होने के बाद भी पूंजी एकत्र नहीं कर पाते। अमीर बनने के लिए जो चीज सबसे ज्यादा जरूरी है, वह है धैर्य और अनुशासन। आप की इनकम कितनी भी ज्यादा क्यों नहीं हो,, अगर आप छोटी-छोटी बचतों पर ध्यान नहीं देते तो आप बड़ी पूंजी नहीं जुटा सकते। बचत के लिए सबसे पहली शर्त है कि आपको वित्तीय प्रबंधन आता हो। अगर आपका खर्चों पर नियंत्रण नहीं है। आप पैसा ठीक जगह लगाना नहीं जानते तो आप कभी बचत नहीं कर पाएंगे, आपकी आय चाहे जितनी हो। धन संचय के लिए जरूरी है सामान्य जरूरतें पूरी करने के बाद बचे हुए धन का उचित प्रबंधन। यह काम कोई छोटी मोटी नौकरी या धंधा रोजगार करके भी कर सकते हैं। शर्त यही है कि आपको अनुशासित तरीके से आगे बढ़ना होगा।

कला है वेल्थ क्रिएशन, मन लगाकर सीखें

वेल्थ क्रिएशन एक कला है और अगर आपको इसमें सफलता पानी है, तो आपको कुछ व्यवहारिक युक्तियां सीखनी होंगी। पैसा अपने आप में बहुत बड़ा मोटिवेटर होता है। आपके पास जितना अधिक पैसा होता है, उतना ही यह आपको कम लगता है। वेल्थ क्रिएशन के लिए जरूरी है कि आप नियमित रूप से छोटी-छोटी बचतों का सही तरह से निवेश करें। जब पैसा बनाने की बात आती है तो कंपाउंडिग यानी चक्रवृद्धि ब्याज सबसे पावरफुल फैक्टर्स में से एक माना जाता है। एक रुपये को 10 रुपये में बदलना किसी के लिए भी एक बड़ा टास्क हो सकता है, लेकिन मैथेमेटिकल बेसिस पर आपको सिर्फ यह करना है कि 26 पर्सेंट की रेट पर अगले 10 वर्षों के लिए अपने धन को हर साल कंपाउंड करना है। अगर आप ऐसा कर पाए तो आपको बड़ी पूंजी जुटाने से कोई नहीं रोक सकता।  जब पैसा बनाने की बात आती है तो लीवरेज का सपोर्ट भी बेहद जरूरी होता है। आप चाहे जितने मेहनती हों, लेकिन आपके काम करने की सीमा है। इसका मतलब है कि आप परिश्रम करके धनवान नहीं बन सकते। यह सहायक हो सकता है, लेकिन यह अंतिम उपाय नहीं है। एक दिन में सिर्फ 24 घंटे ही होते हैं। इसी में आपको सोना होता है, परिवार को समय देना होता है और इसी दौरान काम भी करना होता है। आपके पास नॉलेज और स्किल भी सीमित है। ऐसे में लीवरेज की जरूरत होती है, जो कि पैसा बनाने का बेहतर तरीका है। अब लीवरेज कई प्रकार का हो सकता है। फाइनेंशियल लीवरेज, जैसे कि हमारे फंड मैनेजर्स और बैंक अपने लिए पैसा बनाने के लिए हमारे धन का उपयोग करते हैं। इसके बाद आता है टाइम लीवरेज, जहां आप कर्मचारियों और फ्रीलांसर्स को काम आउटसोर्स करके अपने लिए बहुत कुछ हासिल कर सकते हैं। फिर आता है टेक्नोलॉजी लीवरेज, जहां आप काफी कम मेहनत करके अधिक लोगों के लिए काम कर सकते हैं।

धन संचय में समय का महत्व समझें

आप चाहे कुछ भी कर रहे हों, किसी परीक्षा की तैयारी कर रहे हों, ऑफिस जा रहे हों या वेल्थ क्रिएशन में लगे हों। तीन चीजें बेहद जरूरी हैं। आपको स्किल की जरूरत होती है। आपको एक निश्चित अनुशासन में काम करने की जरूरत होती है। इसके साथ ही आपको अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए समय की भी जरूरत होती है। इन तीनों में से समय ही एक ऐसा कारक है, जिस पर आपका कोई नियंत्रण नहीं है। इस लिए अमीर बनने या धन संजचय का सबसे पहला सूत्र है कि अपनी शुरुआती उम्र में ही धन संचय के प्रयास शुरू कर दीजिए। जल्दी बचत और निवेश शुरू करते हैं, तो आपको बड़ी पूंजी खड़ी करने में आसानी होगी। आपकी बचत का प्रतिफल समय पर आपको मिलने लगेगा। हमें सीखना होगा कि हमारे और धन संचय के बीच समय एक महत्वपूर्ण फैक्टर है, इसलिए समय का सम्मान करना चाहिए ओर बचत की आदत को कम उम्र से ही प्रोत्साहित करना चाहिए। हम जितनी जल्दी अपनी बचत योजनाओं की शुरुआत करेंगे, उतनी ही जल्दी बड़ी पूंजी जुटा पाएंगे।

आय से ज्यादा खर्चे पर लगाएं अंकुश

आप अमीर हों या गरीब, अगर आप जितना कमाते हैं उससे अधिक खर्च करते हैं तो तय है कि आप कभी धन का संचय नहीं कर पाएंगे। वेल्थ क्रिएशन के लिए जरूरी है कि आपके खर्चे आपकी आय से कम होनी चाहिए। आज से समय में लाइफ स्टाइल से जुड़े खर्चे बहुत बढ़ गए हैं। लग्जरी लाइफ स्टाइल के चक्कर में लोग अपनी मेहनत की कमाई का एक बड़ा इसी पर खर्च कर देते हैं। यही वजह है कि अच्छी खासी आय होने के बाद भी अधिकांश लोग बड़ी पूंजी नहीं जुटा पाते। इस ट्रेंड के उलट अमीर लोग शालीनता का जीवन बिताते हुए काम करने को ज्यादा महत्व देते हैं। कमाई से कम खर्च करते हैं। जो बचत होती है, उसे सही जगह निवेश करते हैं। यही वजह है कि वे कुछ ही समय में बड़ी पूंजी जुटाने में सफल हो जाते हैं। अगर आपने अपनी छोटे-छोटे निवेश से संतोषजनक पूंजी जुटा ली तो बाकी का काम यह संचय ही कर कर लेगा। सही जगह लगाने पर पैसा तेजी से बढ़ता रहेगा और आप अमीर होते जाएंगे। यही वजह है कि आम आदमी जिस समय में अपनी जरूरतों से ही नहीं उबर पाता, उसी समय में एक दूसरा व्यक्ति बड़ी पूंजी एकत्र कर लेता है।    

अच्छे शेयरों में निवेश से बनेगी पूंजी

एक बात और गौर करने की है। अब से पहले अमीर बनना कभी इतना आसान नहीं था। आज एक बटन के क्लिक पर आप शेयर मार्केट, म्यूचुअल फंड, ईटीएफ, गोल्ड बॉन्ड, एफडी और दूसरे इंस्ट्रूमेंट्स में पैसा लगा सकते हैं। इन विकल्पों में नियमित रूप से छोटी-छोटी बचतों को लगाकर आप पूंजी जुटा सकते हैं। इसके साथ ही क्रिप्टोकरेंसी, एनएफटी, मीम कॉइन, ग्रीन टेक्नोलॉजीज, एसपीएसी, बीएनपीएल आदि विकल्प भी हैं। हालांकि, इनमें हाथ आजमाना थोड़ा जोखिम भरा है। कई लोग इनमें पैसे लगाकर बर्बाद भी हो जाते हैं। इसलिए निवेश के लिए हमेशा सुरक्षित विकल्पों पर ही निर्भर होना चाहिए। एक हफ्ते में 5 या 6 दिन एक्टिवली काम करके आप जो पैसे जुटाते हैं, उसकी तुलना में कहीं निवेश करके आप काफी अधिक वेल्थ जनरेट कर सकते हैं। अगर आप शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो ध्यान रखें कि केवल अच्छी कंपनियों में ही निवेश करें, जिनका डिवीडेंड देने का इतिहास अच्छा रहा हो और जो बोनस शेयर भी देते हों। इस मामले में निफ्टी 50 में आने वाली कंपनियां काफी सुरक्षित रहती हैं। यह तकनीक का युग है, हालांकि आजकल अंतर्राष्ट्रीय दबावों की वजह से आईटी कंपनियों, बैंकों और आटोमोबाइल कंपनियों के शेयर नीचे चल रहे हैं, लेकिन इनमें किया गया निवेश लंबी अवधि में हमेशा लाभ देने वाला साबित होता है। लंबे समय के निवेश का नजरिया लेकर शेयर बाजार में जाने पर आपको कभी नुकसान नहीं होगा, यह बात हम अनुभव से समझ सकते हैं। इसके लिए शेयर बाजार का विशेषज्ञ होना जरूरी नहीं है।   

भाग्य़ बदल सकता है छोटा सा निवेश

छोटी-छोटी बचतों के माध्यम से बड़ी पूंजी जुटाने की बात आपको दिमागी पुलाव जैसा लगता होगा, लेकिन अगर आप इसे उदारण से समझने का प्रयास करेंगा तो आपको यह काम कठिन नहीं दिखाई देगा। कल्पना की जिजिए कि आपने अपनी छोटी-छोटी बचतों से एक लाख रुपए जुटाकर शेयर बाजार में किसी प्रीमियम शेयर में निवेश किया है। लगभग सभी शेयर आपके निवेश पर 20 से 25 फीसदी का सालाना रिटर्न देते हैं। इस तरह आपने जो एक लाख रुपया लगाया था, वह अगले साल 1, 25, 000 हो जाएगा। अगले साल फिर आपको लगभग इसी दर से रिटर्न मिलेगा और आपकी पूंजी 31250 रुपए बढ़कर 1,56,250 रुपए हो जाएगी। तीसरे साल आपका यह धन 25 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 1,95,312 रुपए हो जाएंगे। कंपाउन्डिंग का कमाल है कि आपने जो एक लाख रुपया लगाया था, वह तीन साल बाद लगभग दूना हो गया। आप कैलकुलेट कीजिए कि दस साल की अवधि में यह धन कितना हो जाएगा। इस निवेश को अगर आप 30 साल तक जारी रखेंगे तो आपके पास इतनी पूंजी एकत्र हो सकती है, जिसकी आपने कभी कल्पना ही नहीं की होगी। आपका एक लाख रुपए का निवेश लंबे समय में बढ़कर करोड़ों में तब्दील हो जाएगा। बाद के दिनो में यह पूंजी बहुत तेजी से बढ़ती है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co