Raj Express
www.rajexpress.co
Aditya Birla Idea Payment Bank
Aditya Birla Idea Payment Bank|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक ने लिया चौंका देने वाला बड़ा फैसला

डिजिटल पेमेंट के समय में कई कंपनियों ने अपने-अपने पेमेंट बैंकों की शुरुआत की थी, जिनमें से बहुत से बैंक बंद हो चुके हैं। अब आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक भी अपनी सेवाएं देना बंद करने जा रहा है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक का फैसला

  • RBI द्वारा आवेदन पर मिली मंजूरी

  • बैंक बंद करने की घोषणा जुलाई 2019 में की थी

  • वरिष्ठ निदेशक पद के लिए विजयकुमार वी. अय्यर नियुक्त

राज एक्सप्रेस। यदि आपका पैसा किसी बैंक में जमा हो और अचानक आपको खबर मिले कि, बैंक बंद होने वाला है तो, आपके मन में पहला विचार क्या आएगा ? अब ऐसी ही कुछ नौबत आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक के ग्राहकों पर आने वाली है , क्योंकि जल्द ही यह बैंक बंद होने जा रहा है। हालांकि यह बैंक ऐसा फैसला अपनी मर्जी से ले रहा है न ही किसी नुकसान के तहत। जानकारी के लिए बता दें कि, आदित्य बिड़ला आइडिया बैंक एक तरह का पेमेंट बैंक है और यह पहला पेमेंट बैंक नहीं है, जिसने इस तरह का फैसला लिया है, इससे पहले भी चार पेमेंट बैंक ऐसा फैसला ले चुके है।

बैंक की घोषणा :

आदित्य बिड़ला ने बैंक को बंद करने की घोषणा इसी साल (2019) के जुलाई माह की शुरुआत में ही कर दी थी। बैंक के अनुसार, इस फैसले को लेने का मुख्य कारण ‘अप्रत्याशित घटनाक्रम’ है, जिसके कारण बैंक का कार्य ‘अव्यवहारिक’ हो रहा था। ऐसे में और कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा था। तब बैंक ने RBI को आवेदन दिया। जिसके लिए मुंबई हाई कोर्ट ने 18 सितंबर 2019 को आदेश जारी किये थे।

RBI का कहना :

सोमवार को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने जानकारी देते हुए कहा कि, आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक ने स्वेच्छा से अपना कारोबार समेटने का आवेदन दिया है, जिसके लिए उन्हें मंजूरी दे दी गई है। इसके अलावा बॉम्बे हाईकोर्ट द्वारा डेलॉयट टूश तोमात्सु इंडिया (LLP) के वरिष्ठ निदेशक विजयकुमार वी. अय्यर को इस में लिक्विडेटर पद के लिए नियुक्त किया है।

इन कंपनियों ने भी की थी घोषणा :

पहले भी 4 कंपनियां स्वेच्छा से अपनी कंपनी को बंद कर चुकी हैं, जिनके नामों में टेक महिंद्रा, चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट एंड फाइनैंस कंपनी और दिलीप सांघवी, आईडीएफसी बैंक लिमिटेड और टेलिनॉर फाइनैंशल सर्विसेज के गठबंधन से बना भुगतान बैंक भी शामिल हैं। बताते चलें कि, इन कंपनियों को RBI द्वारा 2015 में लाइसेंस दिया गया था।

आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक की शुरुआत :

आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक की शुरुआत अप्रैल 2016 में हुई थी, आइडिया सेलुलर ने सब्सिडियरी आइडिया मोबाइल कॉमर्स सर्विसेज को पेमेंट बैंक में मर्ज कर आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक नाम से एक नए पेमेंट बैंक की शुरुआत की थी। इस गठबंधन में आदित्य बिड़ला नुवो की 51% हिस्सेदारी है। आपको यह भी बताते चलें कि, इस पेमेंट बैंक के बंद होने के बाद ग्राहकों के लिए Airtel, Paytm, Jio, इंडिया पोस्ट जैसी कुछ मुख्य कंपनियों की ही पेमेंट बैंक रह जाएंगे।

पेमेंट बैंक का कहना :

आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट बैंक ने अपनी वेबसाइट www.adityabirla.bank पर ग्राहकों को मैसेज करके अश्वासन दिया है कि, बैंक ने अपने सभी ग्राहकों की जमा राशि को वापस करने की पूरी व्यवस्था की है। साथ ही बैंक ने अनुरोध भी किया कि, सभी पेमेंट बैंक ग्राहक अपने बैलेंस को जल्द से जल्द ट्रांसफर करा लें।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।