Raj Express
www.rajexpress.co
Notice Issued to Nirav Modi
Notice Issued to Nirav Modi |Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

PNB घोटाले के मामले में नीरव मोदी को दोबारा नोटिस जारी

लंदन कोर्ट में चल रही नीरव मोदी के खिलाफ कार्यवाही के तहत डेट्स रिकवरी ट्रिब्यूनल-आई (DRT-I) द्वारा नीरव मोदी और उसकी कंपनियों सहित अन्य आरोपियों को नोटिस जारी किया गया है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • PNB घोटाले के मामले में नीरव मोदी को दोबारा नोटिस जारी

  • नोटिस में कही गई बकाया रकम चुकाने की बात

  • PNB घोटाले की रकम 2017 की तिमाही के मुनाफ़े की 50 गुना थी।

  • मुख्य आरोपी में नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के नाम आये थे सामने

राज एक्सप्रेस। कुछ साल पहले सामने आये पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के घोटाले के आरोपी और भारत द्वारा भगोड़ा घोषित कर दिए गए नीरव मोदी को 19 मार्च को लंदन में पकड़ा गया था, जिस पर फ़िलहाल कार्यवाही चल रही है। कोर्ट की पिछली सुनवाई पर उन्हें भारत भेजने की बात पर नीरव मोदी ने आत्महत्या कर लेने वाला बयान दिया था। उनके खिलाफ एक और नोटिस जारी किया गया है।

क्या है नोटिस में ?

यह नोटिस मुंबई डेट्स रिकवरी ट्रिब्यूनल-आई (DRT-I) द्वारा जारी किया गया है। जारी किये गए इस नोटिस में पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के घोटाले से संबंधित बची हुई रकम को चुकाने की बात कही गई है। इतना ही नहीं हीरा कारोबारी नीरव मोदी समूह और उससे जुड़ी अन्य कंपनियों को PNB की बकाया 7,030 करोड़ रुपये की राशि जो पिछले दो सालों से नहीं चुकाई गई है उसे चुकाने की बात लिखी है।

जारी किया गया नोटिस :

डेट्स रिकवरी ट्रिब्यूनल-आई (DRT-I) द्वारा पहले भी नोटिस जारी किया जा चुका है, यह पहला नोटिस 22 नवंबर को जारी किया गया था, जो नीरव मोदी और उससे जुड़े सभी अन्य आरोपियों के लिए था, इस नोटिस में 30 जून, 2018 से लेकर एन्ड तक की पूरी राशि पर 14.30% की दर से ब्याज लगा कर पूरी रकम चुकाने के निर्देश दिए गए थे। इस मामले में नीरव मोदी के साथ उनके करीबी रिश्तेदार अमि एन. मोदी, निशाल डी. मोदी, दीपक के. मोदी, नेहाल डी. मोदी, रोहिन एन. मोदी, अनन्या एन. मोदी, अपाशा एन. मोदी और पूर्वी मयंक मेहता सभी शामिल हैं और यह नोटिस इन सभी लोगों के लिए जारी किया गया है।

कंपनियों को भी भेजे नोटिस :

नीरव मोदी के ग्रुप की लगभग सभी कंपनियों को इसी मुद्दे को लेकर दोबारा नोटिस जारी किये जा चुके हैं, यह नोटिस DRT-I मुंबई के रिकवरी इंचार्ज सुजीत कुमार के हस्ताक्षर से पास किया गया हैं। जानकारी के लिए बता दें कि नीरव मोदी के ग्रुप की कंपनियों में स्टेलर डायमंड्स, सोलर एक्सपोर्ट्स, डायमंड आरयूएस, फायरस्टार इंटरनेशनल लि. और मुंबई, गुजरात और राजस्थान में इसकी 13 शाखाएं, एएनएम एंटरप्राइजेज प्रा. लि. और एनडीएम एंटरप्राइजेज प्रा. लि. शामिल हैं।

यहां भेजा नोटिस :

DRT-I द्वारा यह नोटिस नोटिस को मुंबई स्थित ग्रॉसवेनर हाउस और दुबई स्थित शेरा टावर्स के पतों पर भेजा गया है इसके अलावा नीरव के एक रिश्तेदार नेहाल डी. मोदी को न्यूयॉर्क स्थित उनके ज्ञात पते पर नोटिस भेजा गया है। इस तरह के निर्देश चार महीने चली कार्यवाही के बाद दिए गए हैं। जो DRT-पुणे के पीठासीन अधिकारी दीपक ठक्कर द्वारा दिए गए हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, नीरव मोदी मार्च में लंदन की सड़कों पर आराम से घूमता हुआ नजर आ रहा था, उससे सवाल पूछे जाने पर उसने हर सवाल के जबाव में "सॉरी नो कमेंट" कह दिया। भारत सरकार उसका सामना भारतीय कानून से करवाने की लगातार कोशिश कर रही है।

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले के दोषी :

पंजाब नेशनल बैंक घोटाला 11 हज़ार करोड़ रुपए (1.8 अरब डॉलर) से ज़्यादा रूपये के घोटाले का मामला है जो, बैंक की मार्केट वैल्यू का क़रीब एक-तिहाई और साल 2017 की आख़िरी तिमाही के मुनाफ़े का 50 गुना था। ये घोटाला मुंबई की एक ब्रांच से गलत ट्रांसेक्शन के द्वारा किया गया था। इस घोटाले में मुख्य तौर पर 2 डायमंड कंपनियों के मालिक नीरव मोदी का नाम सामने था साथ ही गीतांजलि जेम्स लिमिटेड कंपनी के प्रमुख मेहुल चौकसी का नाम भी इस मामले से जुड़ा था।

कैसे हुआ घोटाला :

दरअसल, नीरव मोदी और उनके कुछ जान पहचान के लोगो ने डायमंड इंपोर्ट करने को लेकर लेटर ऑफ़ क्रेडिट के लिए PNB से संपर्क किया और कुछ बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों की मिली भगत से अपने खाते में 11 हजार 600 करोड़ रूपये का लेनदेन दिखा दिया। जिसके आधार पर मुंबई ब्रांच ने लेटर ऑफ़ अंडरटेकिंग जारी कर दिया। इस आधार पर ही नीरव मोदी ने अपनी विदेशी बैंक शाखाओं से लोन ले लिया। 3 भारतीय बैंको ने मुंबई शाखा द्वारा जारी LOU के आधार पर नीरव मोदी को लोन दिया। इस लोन का इस्तेमाल बैंक के नोस्ट्रो (विदेश में भारतीय बैंक) अकाउंट की फंडिंग के लिए किया जाता था। इन अकाउंट से पैसा विदेश की कुछ कंपनियों में भेजा गया। इसके अलावा दिखाया यह गया कि, ये पैसा डायमंड की खरीद के लिए है।

नीरव मोदी से जुड़े कुछ बिंदु:

  • नीरव मोदी का नाम 2017 की फोब्स लिस्ट (सबसे आमिर लोगों की सूची) में 84वें स्थान पर आ चुका है।

  • ये 5 स्टार डायमंड कंपनी के मालिक थे, जिसको नीरव मोदी डायमंड के नाम से भी जाना जाता है।

  • लंदन कोर्ट के फैसले पर नीरव मोदी का चौंका देने वाला बयान जानने के लिए - क्लिक करें

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।