सरकार जून तक कर सकती Air India के असली मालिक की घोषणा
सरकार जून तक कर सकती Air India के असली मालिक की घोषणाSyed Dabeer Hussain - RE

सरकार जून तक कर सकती Air India के असली मालिक की घोषणा

Air India एयरलाइन के लिए 14 दिसंबर 2020 तक (बोलियों का अंतिम दिन) बोलियां लगाई गई थी। वहीं, अब ऐसी खबरें सामने आई हैं कि, सरकार जून में अंतिम घोषणा कर देगी।

राज एक्सप्रेस। 69 हजार करोड़ से ज्यादा के कर्ज तले दबी भारत की सरकारी क्षेत्र की हवाई सेवा प्रदान करने वाली एयरलाइन कंपनी Air India नुकसान के चलते बिकने की कगार पर आ चुकी है। जिसके लिए पिछले दिनों बोली की प्रक्रिया चालू थीं। बहुत समय नुकसान उठाने के बाद केंद्र सरकार ने Air India एयरलाइन को बेचने की योजना बनाई थी। जिसके लिए 14 दिसंबर 2020 तक (बोलियों का अंतिम दिन) बोलियां लगाई गई थी। वहीं, अब ऐसी खबरें सामने आई है कि, सरकार जून में अंतिम घोषणा कर देगी।

Air India के नए मालिक :

दरअसल, हाल ही में नुकसान से गिरी एयरलाइन कंपनी Air India के लिए लगाई जा रही बोलियों की लिस्ट सरकार तक पहुंच गई थी। इस लिस्ट में लगाई गई सभी बोलियों में से बहुत सी बोलियां खारिज कर दिया गया, जबकि, बाकी अब कुछ ही नाम बोली लगाने वालों की लिस्ट में रह गए हैं। वहीं, अब Air India ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि, सरकार मई 2021 तक Air India के खरीददार का चुनाव कर लेगी, साथ ही जून तक इस मामले में अंतिम घोषणा कर दी जाएगी। इस बारे में जानकारी सिविल एविएशन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने दी।

सिविल एविएशन मंत्री पुरी ने बताया :

हाल ही में सिविल एविएशन मंत्री हरदीप सिंह पुरी एक कार्यक्रम में शामिल हुए वही इस बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा है कि, 'Air India को जून के अंत तक नया मालिक मिल जाएगा। इस साल मई में वित्तीय निविदा का चयन कर लिया जाएगा और जून में संभावित खरीदार की घोषणा कर दी जाएगी। सरकारी विमान कंपनी के निजीकरण की मौजूदा प्रक्रिया में कोविड-19 महामारी के कारण देरी हो गई है। वित्तीय निविदा मंगाने की प्रक्रिया जल्द शुरू की जाएगी। सरकार ने इस साल के अंत तक Air India की बिक्री की प्रक्रिया पूरी करने का लक्ष्य तय किया है। जून में नए मालिकों का चुनाव होने के बाद 6 महीने में Air India का प्रबंधन सौंप दिया जाएगा।'

शेष रह गए 2 नाम :

बताते चलें, इससे पहले जब Air India की बोलियाँ पूरी हुई थी और खरीदारों के नाम को शॉर्ट लिस्ट किये गए थे, तब इस लिस्ट में Air India को खरीदने की सिर्फ भारत का बहुत बड़ा समूह Tata Group (टाटा ग्रुप) और हवाई सेवा प्रदाता कंपनी SpiceJet के नाम ही शेष रह गए थे। इनके अलावा लगाई गई बाकी की सभी बोलियों को खारिज कर दिया गया है। इस बारे में जानकारी इस प्रक्रिया से जुड़े सूत्रों से मिली है। इन्हीं सूत्रों से यह बात भी सामने आई है कि, Air India को खरीदने के लिए एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EOI) के स्तर पर कई बोलियां मिली थीं। मूल्यांकन होने पर इनमें से ज्यादातर को खारिज कर दिया गया।

इन लोगों ने भी लगाई थी बोलियाँ :

बताते चलें, Air India को खरीदने के लिए के लिए देशभर से लोगों ने बड़ी-बड़ी कंपनियों ने बोलियाँ लगाई थी, जिनमें से कई प्रमुख नाम ये हैं -

  • Air India को खरीदने के लिए Air India के hi 209 कर्मचारियों ने एकसाथ मिलकर बोली लगाई थी। अगर Air India की भागडोर उन्हें मिल जाती तो इतिहास में पहली बार ऐसा होता कि, कंपनी के ही कर्मचारियों ने बोली लगाकर कंपनी हासिल की हो।

  • डनलप और फाल्कन टायर्स के एस्सार ने भी बोली दर्ज कराई थी। जिसे अब इस लिस्ट से बाहर कर दिया गया है।

  • पवन रुइया ने भी Air India को खरीदने के लिए बोली लगाई थी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co