Airtel को दिसंबर तिमाही में हुआ 850 करोड़ रुपए का नेट फ्रॉफिट
Airtel को दिसंबर तिमाही में हुआ 850 करोड़ रुपए का नेट फ्रॉफिटKavita Singh Rathore -RE

Airtel को दिसंबर तिमाही में हुआ 850 करोड़ रुपए का नेट फ्रॉफिट

भारत की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी भारती एयरटेल (Airtel) ने अपनी दिसंबर तिमाही के आंकड़े जारी किए। इन आंकड़ों से साफ़ समझ आ रहा है कि, कंपनी के हालातों में अब सुधार आ चुका है।

राज एक्सप्रेस। पिछले साल हर सेक्टर की सभी कंपनियों के लिए काफी बुरा साबित हुआ। सभी के हलात कुछ खस्ता नजर आए। हालांकि, कुछ कंपनियों ने इस दौरान भी लाभ कमाया था, लेकिन धीरे-धीरे करके सभी कंपनियां एक बार फिर पटरी पर लौट आई हैं। इसी बीच भारत की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी कही जाने वाली भारती एयरटेल (Airtel) ने अपनी दिसंबर तिमाही के आंकड़े जारी किए। इन आंकड़ों से साफ़ समझ आरहा है कि, कंपनी के हालातों में अब सुधार आचुका है।

Airtel का नेट प्रॉफिट :

दरअसल, Airtel ने दिसंबर तिमाही यानी तीसरी तिमाही आंकड़े जारी किए। इन तजा आंकड़ों के मुताबिक कंपनी को इस दौरान 853.6 करोड़ रुपए का नेट प्रॉफिट कमाया है, जबकि यही आंकड़ा पिछले साल की समान अवधि में 1,035 करोड़ रु का था और कंपनी को उस समय घाटा हुआ था। बता दें कंपनी के प्रॉफिट की मुख्य वजह ऑपरेटिंग ग्रोथ रही। बता दें, पिछली तिमाही के दौरान Airtel का नेट प्रॉफिट 763.20 करोड़ रुपए रहा था।

Airtel की प्रति ग्राहक कमाई :

BSE फाइलिंग के मुताबिक तीसरी तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटेड रेवेन्यू 26.51 हजार करोड़ रुपए रहा। इसके अलावा पिछली तिमाही की तुलना में कंपनी का आर्पू (ARPU) यानी प्रति ग्राहक कमाई भी 2.4% बढ़ी है और यह बढ़कर 166 रुपए पर जा पहुंची। जबकि यह आंकड़ा सितंबर तिमाही में 162 रुपए का था और पिछले साल की समान तिमाही में आर्पू का आंकड़ा 135 रुपए था। वहीं, कंपनी की प्रति मोबाइल टावर कमाई भी 4.4% बढ़ी और बढ़कर 2.43 लाख रुपए पर पहुंच गई।

Airtel का कुल यूजरबेस :

कोरोना काल के दौरान लगभग सभी अपने घरो में थे बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी का काम इंटरनेट की मदद से ही चल रहा रहा था ऐसे में कर्मचारियों का वर्क फ्रॉम होम और स्टूडेंट्स की स्लाइस के लिए सभी को इंटरनेट की आवश्यकता थी। इसी के चलते सभी इंटरनेट का इस्तेमाल कर रहे थे। इस दौरान टेलिकॉम कंपनियों ने भी अपने काफी ग्राहक बटोरे। इस कड़ी में टेलीकॉम रेगुलेटर (ट्राई) के मुकाबिक, कंपनी ने पिछले साल नवंबर में 43.7 लाख नए ग्राहक जोड़े थे, जिससे अब कंपनी का कुल यूजरबेस 33.465 करोड़ का हो गया है। इसके बावजूद पिछली चार तिमाहियों से कंपनी को कुछ घाटा झेलना पड़ा जिसका कारण एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) है।

Airtel का एबीटा :

ऑपरेटिंग लेवल पर Airtel कंपनी का एबीटा 12.17 हजार करोड़ रुपए रहा। जबकि, पिछली तिमाही की तुलना में मार्जिन 100 बीपीएस बढ़कर 45.9% हो गया। तिमाही आधार पर कंपनी के भारतीय ग्राहक बेस में भी 4.9% की बढ़त दर्ज की गई है, जबकि इसमें सालाना आधार पर 8.9% की बढ़त देखने को मिली है। गौरतलब है कि, भारतीय टेलीकॉम सेक्टर में Airtel की हिस्सेदारी 28.97% है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co