एयरटेल ने AP, दिल्ली, मुंबई सर्किल में रिलायंस Jio को बेचा स्पेक्ट्रम
सांकेतिक चित्रNeelesh Singh Thakur – RE

एयरटेल ने AP, दिल्ली, मुंबई सर्किल में रिलायंस Jio को बेचा स्पेक्ट्रम

Jio ने कहा कि व्यापारिक समझौता दूरसंचार विभाग द्वारा जारी स्पेक्ट्रम ट्रेडिंग दिशा निर्देशों के अनुसार किया गया है।

हाइलाइट्स –

  • Airtel ने 3 सर्कल में बेचे स्पेक्ट्रम

  • Jio के साथ करार सुन चकराया मार्केट

  • 800 MHz स्पेक्ट्रम के लिए 1,037.6 करोड़

राज एक्सप्रेस। भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने कहा कि उसने रिलायंस जिओ इन्फोकॉम (Reliance Jio Infocomm) के साथ 800 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम के उपयोग के बारे में एक करार किया है।

कहां कितना? -

भारती एयरटेल के मुताबिक उसने रिलायंस जिओ इन्फोकॉम के साथ अपने 800 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम आंध्र प्रदेश में (3.75 मेगाहर्ट्ज), दिल्ली (1.25 मेगाहर्ट्ज) और मुंबई (2.50 हर्ट्ज) के उपयोग के अधिकारों (‘Right to Use’) को हस्तांतरित करने के लिए समझौता किया है।

अनुबंध की शर्तें -

वैधानिक अनुमोदन के अधीन इस समझौते के माध्यम से एयरटेल प्रस्तावित हस्तांतरण के लिए Jio से 1037.6 करोड़ रुपये प्राप्त करेगा। इसके अलावा, Jio स्पेक्ट्रम से संबंधित 459 करोड़ रुपयों की भविष्य की देनदारियों को भी स्वीकार करेगा।

Jio ने कहा कि व्यापारिक समझौता दूरसंचार विभाग द्वारा जारी स्पेक्ट्रम ट्रेडिंग दिशा निर्देशों के अनुसार किया गया है। जिओ ने कहा कि; "इस स्पेक्ट्रम का उपयोग करने के अधिकार के लिए कुल मूल्य 1,497 करोड़ रुपये है, जो कि 459 करोड़ रुपये के संबद्ध आस्थगित भुगतान देयता के वर्तमान मूल्य सहित किसी भी लेनदेन से संबंधित समायोजन के अधीन है।"

गुणा-भाग कुछ इस तरह -

स्पेक्ट्रम का उपयोग करने के अधिकार के इस व्यापार के साथ, 800MHz बैंड के करार में से Jio के मुंबई सर्कल में 2X15MHz स्पेक्ट्रम जबकि आंध्र प्रदेश और दिल्ली सर्कल में 2X10MHz स्पेक्ट्रम होंगे, जिससे वह आगे चलकर इन सर्कल में इसके स्पेक्ट्रम फुटप्रिंट को मजबूत कर सकेगा।

Jio ने एक बयान में कहा - "स्पेक्ट्रम पदचिह्न विशेष रूप से सन्निहित स्पेक्ट्रम, और बेहतर बुनियादी ढांचे की तैनाती के साथ, RJIL ने अपनी नेटवर्क क्षमता को और बढ़ा दिया है।"

भारती एयरटेल के भारत और दक्षिण एशिया में एमडी और सीईओ गोपाल वित्तल ने एक बयान में कहा कि; इन तीन सर्किलों में ब्लॉक 800 मेगाहर्ट्ज की बिक्री ने हमें ऐसे स्पेक्ट्रम के लिए मूल्य अनलॉक करने में सक्षम किया है जो कि अप्रयुक्त था। यह हमारी समग्र नेटवर्क रणनीति से जुड़ा है।"

डिस्क्लेमर आर्टिकल प्रचलित रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co