MNS और Amazon इंडिया की बैठक, जल्द शामिल होगी मराठी भाषा
Amazon will include Marathi languageSyed Dabeer Hussain - RE

MNS और Amazon इंडिया की बैठक, जल्द शामिल होगी मराठी भाषा

इ-कॉमर्स साईट Amazon ने जल्द ही अपनी ऐप को मराठी में भी पेश करने का एलना किया है। इसके लिए शनिवार को Amazon कंपनी की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के बीच मुंबई में एक बैठक भी हुई।

राज एक्सप्रेस। आज पूरी दुनिया में ऑनलाइन शोपिंग का चलन बहुत तेजी से बढ़ रहा है। इसके अलावा हर कोई अपनी भाषा में शोपिंग करना चाहता है। ऐसे में दुनियाभर में बहुचर्चित ऑनलाइन मार्केटिंग इ-कॉमर्स साईट Amazon ने जल्द ही अपनी ऐप को मराठी में भी पेशकश करने का ऐलान किया है। इसके लिए शनिवार को Amazon कंपनी की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के बीच मुंबई में एक बैठक भी हुई।

Amazon में मिलेगी मराठी भाषा :

दरअसल, दुनियाभर में बहुचर्चित इ-कॉमर्स साईट Amazon ने अपनी एप में मराठी भाषा को जोड़ने का फैसला आज यानि शनिवार को लगभग 20 मिनट तक चली बैठक के बाद लिया है। बता दें, इस बैठक में Amazon इंडिया की ओर से उनकी लीगल टीम ने हिस्सा लिया। उधर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) की तरफ से MNS नेता अखिल चित्रे शामिल हुए। उन्होंने इस बैठक में Amazon ऐप पर मराठी भाषा को शामिल करने की मांग की है।

MNS और Amazon इंडिया की बैठक :

बताते चलें, MNS और Amazon इंडिया की हुई इस बैठक के दौरान MNS ने Amazon के सामने तीन मांगें रखी गईं। जिनमें से एक Amazon ऐप पर मराठी भाषा को शामिल करने की थी। इस मामले में एक लिखित कंफर्मेशन मेल भी भेजने को कहा गया है। इसके अलावा एक अन्य मांग मनसे प्रमुख राज ठाकरे की उनके खिलाफ चल रही अदालत के माफीनामे की है। बता दें, फिलहाल इंडिया ने एमएनएस नेता की ऐप पर मराठी भाषा का ऑप्शन शामिल करने की मांग को मान लिया है।

Amazon के कार्यालय में तोड़फोड़ :

गौरतलब है कि, शुक्रवार को महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के कार्यकर्ताओं ने मुंबई में स्थित Amazon इंडिया के कार्यालय में तोड़फोड़ की थी। बता दें, यह तोड़ फोट MNS के कार्यकर्ता 'नो मराठी, नो अमेजन' की मांग पर गुस्साकर की थी। इसी दौरान MNS के एक कार्यकर्ता ने कहा था कि, 'अगर राज्य में ऑनलाइन व्यवसाय करना है तो मराठी भाषा में ही ऑनलाइन जानकारी दी जानी चाहिए, जिससे महाराष्ट्र के मराठी लोगों के लिए पढ़ना और ऑर्डर करना आसान हो जाएगा। अमेजन की ओर से जो नोटिस MNS प्रमुख राज ठाकरे को भेजी गई है, वो गैरकानूनी है और अमेजन को मराठी भाषा में ऑनलाइन जानकारी पोर्टल पर देनी ही पड़ेगी नहीं तो, जिस तरह पुणे के कोंढवा इलाके में अमेजन के ऑफिस में तोड़फोड़ हुई, वैसी ही तोड़फोड़ अन्य जगह भी देखने को मिलेगी।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co