बढ़ती महंगाई के बीच Amul ने दिया झटका, 5% बढ़ाई सभी प्रोडक्ट की कीमत
बढ़ती महंगाई के बीच Amul ने दिया झटका, 5% बढ़ाई सभी प्रोडक्ट की कीमतSyed Dabeer Hussain - RE

बढ़ती महंगाई के बीच Amul ने दिया झटका, 5% बढ़ाई सभी प्रोडक्ट की कीमत

देश में जारी महंगाई के बीच अब खबर यह है कि, अब दूध के प्रॉडक्ट बनाने वाली कंपनी अमूल (Amul) ने अपने सभी प्रोडक्टों की कीमतें बढ़ाने का ऐलान कर दिया है।

राज एक्सप्रेस। भारतवासियों के लिए नया साल काफी महंगा साबित हो रहा है, ऐसा प्रतीत हो रहा है मानों नया साल देशवासियों के लिए महंगाई ही लेकर आया है। भारत में पहले ही लोग पेट्रोल-डीजल, दालों, फल- सब्जियों और दूध की कीमतें बढ़ने से परेशान थे, ऐसे हालातों में बढ़ रही महंगाई के बीच अब खबर यह है कि, अब दूध के प्रॉडक्ट बनाने वाली कंपनी अमूल (Amul) ने अपने सभी प्रोडक्टों की कीमतें बढ़ाने का ऐलान कर दिया है।

Amul ने बढ़ाई सभी प्रोडक्ट की कीमतें :

दरअसल, भारत में इस साल पिछले कुछ सालों की तुलना में कुछ ज्यादा ही महंगाई बढ़ गई है। हालांकि, इस महंगाई का मुख्य कारण पिछले साल कोरोना के चलते काफी महीने तक लागू रहा लॉकडाउन भी है। नए साल की शुरुआत से ही पेट्रोल-डीजल की कीमतें तो लगातार बढ़ ही रही हैं। वहीं, पिछले दिनों दूध की कीमतें बढ़ने की खबर सामने आई थी जबकि अब खबर है कि, भारत की सबसे बड़ी डेयरी उत्पाद निर्माता कंपनी Amul ने अपने हर प्रॉडक्ट की कीमत में 5% की बढ़ोतरी कर दी है। इन कीमतों में बढ़त दर्ज होने की जानकारी GCMMF के प्रबंध निदेशक ने साझा की।

CMMF के प्रबंध निदेशक ने बताया :

बताते चलें, Amul-ब्रांडेड उत्पादों के मालिक गुजरात सहकारी दूध विपणन संघ (GCMMF) के प्रबंध निदेशक आरएस सोढ़ी ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया है कि, 'पिछले वित्तीय वर्ष में कीमतों में वृद्धि नहीं की गई। पिछले साल दूध की कम कीमतों के कारण, हमने एक इन्वेंट्री बनाई। अब जब हमने कीमतें बढ़ा दी हैं, तो हम धीरे-धीरे पिछले साल के स्टॉक को खत्म करना शुरू कर देंगे।' उन्होंने आगे बताया कि, इस साल वॉल्यूम भी बेहतर है। उच्च कीमत पर इन्वेंट्री के परिसमापन के कारण वित्त वर्ष 2022 में पिछले वर्ष की तुलना में 12 से 13 फीसदी की अतिरिक्त मात्रा होगी।'

FMCG और ITC की श्रेणियों में भी दर्ज हुई बढ़त :

प्रबंध निदेशक आरएस सोढ़ी ने बताया है कि, 'कंपनी का कारोबार साल के दौरान 1.7% से बढ़कर 39,200 करोड़ रुपये हो गया। वित्तीय वर्ष 2021 में ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज लिमिटेड के राजस्व में 13.2 फीसदी की वृद्धि हुई। इस अवधि के दौरान FMCG की अन्य श्रेणियों में, ITC लिमिटेड के राजस्व में 14.7% की वृद्धि देखी गई, लेकिन GCMMF ने पिछले वर्ष की तुलना में अप्रैल-जून तिमाही में बिक्री में 15 से 16% की वृद्धि देखी।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co