मेहुल चौकसी के लापता होने की खबर पर आया एंटीगुआ के प्रधानमंत्री का बयान
मेहुल चोकसी के लापता होने की खबर पर आया एंटीगुआ के प्रधानमंत्री का बयानSocial Media

मेहुल चौकसी के लापता होने की खबर पर आया एंटीगुआ के प्रधानमंत्री का बयान

बीते दिन मेहुल चौकसी के एंटीगुआ और बारबुडा से लापता होने की खबर सामने आई थी। जो कि चौकसी के वकील विजय अग्रवाल ने दी थी। वहीं, अब इस खबर पर एंटीगुआ के प्रधानमंत्री का बयान सामने आया है।

राज एक्सप्रेस। नीरव मोदी और मेहुल चौकसी ने सांठ-गांठ से पंजाब नेशनल बैंक (PNB) जैसे बड़े घोटाले को अंजाम दिया था। यह दोनों ही इस घोटाले के मुख्य आरोपी हैं। इनमें से नीरव मोदी पर लंदन कोर्ट में केस चल रहा है जो कि, अब भारत प्रत्यापित करने तक पहुंच चुका है। वहीं, इसी बीच बीते दिन भगोड़ा हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी के एंटीगुआ और बारबुडा से लापता होने की खबर सामने आई थी। जो कि चौकसी के वकील विजय अग्रवाल ने दी थी। वहीं, अब इस खबर पर एंटीगुआ के प्रधानमंत्री का बयान सामने आया है।

एंटीगुआ के प्रधानमंत्री का बयान :

दरअसल, पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले के मुख्य आरोपियों में शामिल मेहुल चौकसी के एंटीगुआ और बारबुडा से लापता होने की खबर सामने आई है। किसी को इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि, वह कहां गया। फिलहाल स्‍थानीय पुलिस ने उसकी तलाशी में जुटी हुई है। जबकि, ऐसी खबरें भी सामने आरही हैं कि, मेहुल चौकसी के देश छोड़कर भाग गया है। इसी बीच एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन ने एक बयान में कहा है कि, 'अगर मेहुल चौकसी देश छोड़कर भाग गया तो उसकी नागरिकता को रद्द कर दिया जाएगा। हमारे पास आज की तारीख तक इस बात की विश्वसनीय सूचना नहीं है कि चौकसी देश छोड़कर चला गया है और इस बात की पूरी संभावना है कि चौकसी एंटीगुआ एवं बारबुडा में ही था।'

प्रधानमंत्री ने संसद में दिया बयान :

बताते चलें, एंटीगुआ के प्रधानमंत्री ने एंटीगुआ एवं बारबुडा की संसद में अपना बयान देते हुए यह भी कहा था कि, 'अधिकारी चौकसी का पता लगाने के प्रयास में भारत सरकार, पड़ोसी देशों और अंतरराष्ट्रीय पुलिस संगठन के साथ सहयोग कर रहे थे। चोकसी के घर के किसी शख्स ने उसके लापता होने के संकेत दिए, जिसके बाद से देश की पुलिस ने इस बाबत बयान जारी किया। इस बयान को इंटरपोल के साथ साझा किया जाएगा।'

आखिरी बार देखे गए थे अपनी ही कार में :

खबरों की मानें तो, मेहुल चौकसी आखिरी बार अपनी कार में देखे गए थे। वह खुद कार चला कर आईलैंड के दक्षिणी हिस्से में एक मशहूर रेस्टोरेंट में खाना खाने के लिए देर शाम घर से निकले थे। वह इसके बाद से ही लापता है। उनके परिवार के साथ ही अन्य किसी को भी उनकी कोई जानकारी नहीं है। हालांकि, पुलिस ने चौकसी की कार बरामद कर ली है, लेकिन फिलहाल पुलिस को चौकसी का कुछ पता नहीं है।

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले के दोषी :

पंजाब नेशनल बैंक घोटाला, 13 हज़ार करोड़ रुपए से ज़्यादा रूपये के घोटाले का मामला है जो, बैंक की मार्केट वैल्यू का क़रीब एक-तिहाई और साल 2017 की आख़िरी तिमाही के मुनाफ़े का 50 गुना था। ये घोटाला मुंबई की एक ब्रांच से गलत ट्रांसेक्शन के द्वारा किया गया था। इस घोटाले में मुख्य तौर पर 2 डायमंड कंपनियों के मालिक नीरव मोदी का नाम सामने आया था, साथ ही गीतांजलि जेम्स लिमिटेड कंपनी के प्रमुख मेहुल चौकसी का नाम भी इस मामले से जुड़ा था। मेहुल चौकसी, नीरव मोदी का मामा है। CBI की जांच शुरू होने से पहले चौकसी 2018 में भारत से भाग गया था।

कैसे हुआ घोटाला :

दरअसल, नीरव मोदी और उनके कुछ जान पहचान के लोगों ने डायमंड इंपोर्ट करने को लेकर लेटर ऑफ़ क्रेडिट के लिए PNB से संपर्क किया और कुछ बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों की मिली भगत से अपने खाते में 13 हज़ार करोड़ रुपए से ज़्यादा का लेनदेन दिखा दिया। जिसके आधार पर मुंबई ब्रांच ने लेटर ऑफ़ अंडरटेकिंग जारी कर दिया। इस आधार पर ही नीरव मोदी ने अपनी विदेशी बैंक शाखाओं से लोन ले लिया। 3 भारतीय बैंको ने मुंबई शाखा द्वारा जारी LOU के आधार पर नीरव मोदी को लोन दिया। इस लोन का इस्तेमाल बैंक के नोस्ट्रो (विदेश में भारतीय बैंक) अकाउंट की फंडिंग के लिए किया जाता था। इन अकाउंट से पैसा विदेश की कुछ कंपनियों में भेजा गया। इसके अलावा दिखाया यह गया कि, ये पैसा डायमंड की खरीद के लिए है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co