Tim Cook, Apple CEO
Tim Cook, Apple CEO|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

कैसे पड़ा Apple कंपनी की बिक्री से CEO की सैलरी पर असर

यहां पढ़ें, कैसे Apple कंपनी की बिक्री में आई कमी का सीधा असर कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) टिम कुक के सालाना वेतन पर पड़ा और क्यों हुई उन्ही सैलरी में कटौती।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • Apple कंपनी ने CEO की सैलरी में की कटौती

  • Apple के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) है टिम कुक

  • साल 2018 में मिला था सैलरी सहित बोनस

  • 2019 में सालाना वेतन में हुई 41 लाख डॉलर की कटौती

राज एक्सप्रेस। आपने अकसर अच्छे काम को देखते हुए सैलरी में इंक्रीमेंट (वेतन वृद्धि) होते देखा होगा, लेकिन Apple कंपनी में तो उल्टा ही हो गया। दरअसल महंगे मोबाईल और गेजेट्स बनाने वाली कंपनी Apple ने जब इस साल के आकंड़ो में पूरे सालभर की बिक्री पर ध्यान दिया तो वो पुराने सालों के मुकाबले कुछ सही नहीं थी, इस पर कंपनी ने CEO की सैलरी घटाने का फैसला लिया।

क्या है मामला :

दरअसल साल 2019 के दौरान लग्जरी कंपनी Apple की बिक्री कुछ खास नहीं रही, कंपनी के प्रोडक्ट बिक्री का आकंड़ा एक साल के दौरान मात्र 28% ही बढ़ा। बिक्री में कमी चलते Apple कंपनी ने कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) टिम कुक का सालाना वेतन काम कर दिया। जिससे उन्हें 2019 में 116 लाख डॉलर ही प्राप्त हुए। जबकि साल 2018 में उन्हें कुल सालाना वेतन 157 लाख डॉलर मिला था। इतना ही नहीं उन्हें अलग से बोनस मिला था। जबकि, इस साल 2019 में सालाना वेतन में से 41 लाख डॉलर की कटौती हो गई है।

SEC को दी जानकारी :

कंपनी ने इस बात की जानकारी अमेरिका के बाजार नियामक सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन (SEC) को दे दी है। जानकारी के लिए बता दें, यदि इस साल भी कंपनी की बिक्री 100% होती तो, टिम कुक को कंपनी द्वारा 1.20 करोड़ डॉलर (करीब 85 करोड़ रुपये) का बोनस दिया जाता। कंपनी को यह बोनस साल 2018 में मिला था। इसके अलावा कंपनी के CEO टिम कुक का सालाना वेतन 30 लाख डॉलर है। वहीं उन्हें कंपनी द्वारा किये गए प्रदर्शन के आधार पर इसके अतिरिक्त भी प्रोत्साहन बोनस दिया जाता है। इतना ही नहीं कंपनी द्वारा CEO की सुरक्षा को ध्यान में हुए उन्हें सुरक्षा एवं कार्यक्षमता बेहतर बनाये रखने के लिए निजी विमान भी दिया है। वहीं कुक के पास कंपनी के वेतन के साथ ही 11.30 करोड़ डालर के कंपनी के शेयर भी हैं।

कंपनी की बिक्री :

चूँकि, सभी जानते हैं, कि, Apple एक जानी मानी कंपनी है। इसके प्रोडक्ट्स महंगे होने के साथ ही काफी अच्छे होते हैं। कंपनी की हर साल अच्छी खासी बिक्री होती है, क्योंकि देश के ज्यातर पैसे वालों की पहली पसंद Apple कंपनी ही होती है। कंपनी ने साल 2018 में अपने द्वारा करने वाली बिक्री का जो लक्ष्य तय किया था, उससे कहीं ज्यादा बिक्री की थी। इतना ही नहीं कंपनी ने 100% से अधिक का आंकड़ा प्राप्त किया था, लेकिन साल 2019 में कंपनी तय किये गए लक्ष्य से मात्र 28% ही अधिक बिक्री कर पाई है।

बिक्री में आई कमी का कारण :

हालांकि, Apple कंपनी की बिक्री हर साल अच्छी खासी ही होती है, लेकिन पिछले कुछ समय से कंपनी के हालात कुछ सही नहीं चल रहे हैं। इसका एक मुख्य कारण अमेरिका और चीन के बीच चल रही ट्रेड वॉर भी है, जिसके कारण दोनों देशों के संबंध कुछ सही नहीं है और इसका सीधा असर कंपनी की ग्रोथ पर पड़ा है। बताते चलें कि, कंपनी का सबसे लोकप्रिय प्रोडक्ट iPhone है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co