Royal Enfield ने 26 हजार से ज्यादा बाइक्स को किया रिकॉल
Royal Enfield ने 26 हजार से ज्यादा बाइक्स को किया रिकॉल Social Media

Royal Enfield ने 26 हजार से ज्यादा बाइक्स को किया रिकॉल

यदि आप के पास रॉयल एनफील्ड (Royal Enfield) कंपनी की गाड़ी है तो, यह खबर हो सकती है आपके काम की। दरअसल Royal Enfield कंपनी ने अपनी 26 हजार से ज्यादा मोटरसाइकिलों को रिकॉल किया है।

राज एक्सप्रेस। यदि आप के पास रॉयल एनफील्ड (Royal Enfield) कंपनी की गाड़ी है तो, यह खबर हो सकती है आपके काम की। दरअसल Royal Enfield कंपनी ने अपनी 26 हजार से ज्यादा मोटरसाइकिलों को रिकॉल किया है। वाहन निर्माता कंपनियां अपने वाहनों को तब रिकॉल करती है, जब या तो उनमें कोई खराबी आजाती है या फिर ग्राहकों द्वारा की जा रही शिकायत के चलते। फिलहाल कंपनी ने बताया कि, कंपनी ने इन मोटरसाइकिलों को कुछ तकनीकी खराबी के चलते बापस बुलाया है।

Royal Enfield ने रिकॉल की अपनी बाइक्स :

दुनियाभर के लाखों-करोड़ों के दिलों पर राज करने वाली हैवी बाइक निर्माता कंपनी Royal Enfield ने अपने 26 हजार से ज्यादा यूनिट्स को वापस बुलाया है। कंपनी ने अपनी कुल 26,300 यूनिट्स को अलग-अलग देशों से रिकॉल किया है। Royal Enfield ने जिन बाइक्स को रिकॉल किया है, उनका निर्माण 1 सितम्बर से 5 दिसम्बर 2021 के बीच किया गया था। कंपनी द्वारा रिकॉल कि गई मोटरसाइकलों में Royal Enfield की Meteor 350, Classic 350, और Bullet 350 जैसे मॉडल शामिल है। इनमें से सबसे ज्यादा संख्या में जिस बाइक को रिकॉल किया गया है। उसमें कंपनी का सबसे लोकप्रिय मॉडल Royal Enfield Classic 350 भी शामिल है। कंपनी ने इस मॉडल की कुल 26 हजार यूनिट्स को रिकॉल (recall) किया है।

क्या आई खराबी :

Royal Enfield की सबसे लोकप्रिय मॉडल Royal Enfield Classic 350 के ब्रेकिंग सिस्टम में खराबी आने के चलते कंपनी ने इन्हें बापस बुलाया है। कंपनी ने सोमवार को इंडस्ट्रियल बॉडी सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (SIAM) और सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय को इसकी जानकारी देते हुए बताया, ”हम निर्माण के दौरान डेवलपमेंट प्रोटोकॉल और गुणवत्ता समेत सभी वैश्विक सत्यापन मानकों का पालन करते हैं। कंपनी को जो खामी मिली है वह कुछ विशेष परिस्थितियों में मे ही सामने आ सकती है। हम अपने ग्राहकों के लिए न्यूनतम असुविधा के साथ इसे जल्द से जल्द हल करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

कंपनी ने बताया :

कंपनी ने बताया है कि, 'हमने स्पेशल राइडिंग कंडिशन में पाया गया है कि, रियर ब्रेक पेडल पर लगाए गए हाईयर ब्रेकिंग लोड से रिएक्शन ब्रैकेट को नुकसान पहुंचने का खतरा हो सकता है। इससे आगे चलकर ब्रेक नोइस बढ़ सकती है और ब्रेकिंग क्षमता पर भी असर सकता है। इस तकनीक का इस्तेमाल विशेष तौर पर 1 सितंबर, 2021 और 5 दिसंबर, 2021 के बीच निर्मित सिंगल-चैनल ABS, रियर ड्रम ब्रेक क्लासिक 350 मॉडल में किया गया है।'

गौरतलब है कि, बाइक के स्विंग आर्म से जुड़े ब्रेक रिएक्शन ब्रैकेट को ड्राइव के दौरान नुकसान पहुंच सकता है। ऐसी स्थितियों में रियर ब्रेक पेडल पर असाधारण रूप से अधिक ब्रेकिंग लोड लगाया जाता है, तो इससे रिएक्शन ब्रैकेट को संभावित नुकसान हो सकता है। इससे ब्रेकिंग पावर में गिरावट आ सकती है, जिससे दुर्घटनाएं हो सकती हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.