Toyota will no longer expand in India
Toyota will no longer expand in India|Syed Dabeer Hussain - RE
ऑटोमोबाइल

Toyota का बड़ा ऐलान - भारत में नहीं करेगी विस्तार

जानी मानी वाहन निर्माता कंपनी टोयोटा मोटर कॉरपोरेशन (Toyota) अब भारत में विस्तार नहीं करेगी। इस बारे में जानकारी स्वयं कंपनी ने दी है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। जानी मानी वाहन निर्माता कंपनी टोयोटा मोटर कॉरपोरेशन (Toyota Motor Corporation) अब भारत में विस्तार नहीं करेगी। इस बारे में जानकारी स्वयं कंपनी ने दी है। इस मामले में कंपनी का कहना है कि, Toyota कंपनी द्वारा उठाए गए इस कदम का जिम्मेदार ज्यादा टैक्स है। Toyota कंपनी का यह फैसला भारत और के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। इतना ही नहीं कंपनी के इस फैसले से भारत सरकार को बड़ा झटका भी लगा है।

भारत सरकार को लगा बड़ा झटका :

दरअसल, Toyota कंपनी ने अब भारत में विस्तार न करने का ऐलान कर दिया है। कंपनी का कहना है कि, उसने भारत में ज्यादा टैक्स के कारण यह कदम उठाया है, लेकिन कंपनी के इस कदम से भारत सरकार को बड़ा झटका लगा है। क्योंकि, इसका सीधा असर विदेशी निवेशकों को आकर्षक करने के प्रयासों पर पड़ेगा है। गौरतलब है कि, प्रधान मंत्री ने अपने पीछे संबोधनों के दौरान कंपनियों को भारत में निवेश करने के फायदे गिनवाए थे।

वाइस चेयरमैन ने बताया :

इस मामले में Toyota की भारतीय यूनिट Toyota किर्लोस्कर मोटर के वाइस चेयरमैन शेखर विश्वनाथन ने बताया है कि, 'भारत की सरकार द्वारा कारों और मोटर बाइक पर ज्यादा टैक्स वसूलना शुरू कर दिया है। जो वाहनों के उत्पादनको बढ़ने में मुश्किलें पैदा करता है। ज्यादा टैक्स के कारण कारें उपभोक्ताओं की पहुंच से बाहर हो रही हैं। इससे साफ़ है कि, फैक्ट्रियां बेकार पड़ी हैं और नौकरियां पैदा नहीं हो रही हैं। हमारे यहां आने और निवेश करने के बाद यह मैसेज मिला कि, हम आपको नहीं चाहते हैं। यदि कोई सुधार नहीं होता है तब भी हम भारत छोड़कर नहीं जाएंगे। लेकिन हम उत्पादन में बढ़ोतरी नहीं कर पाएंगे।'

भारत में मोटर वाहन पर लगने वाला टेक्स :

भारत में GST लागू होने के बाद से प्रोडक्ट्स को टेक्स के 4 स्लेब में बात दिया गया है। जिनमें लग्जरी आइटम्स को 28% GST टेक्स के स्लेब में रखा गया है। चूँकि मोटर कार, टू-व्हीलर, स्पोर्ट्स यूटीलिटी व्हीकल लग्जरी आइटम्स होने के चलते इनपर 28% GST टैक्स वसूला जाता है। इसके साथ ही वाहनों पर 1 से 22% तक की लेवी लगती है। बताते चलें, किसी भी वाहन पर लगने वाली लेवी वाहन (कार) के प्रकार, लंबाई और इंजन की क्षमता के आधार पर लगाई जाती है। जैसे, 1500 CC से ज्यादा की इंजन क्षमता रखने वाली चार मीटर लंबी SUV पर भारत में 50% टैक्स वसूला जाता है। बता दें, भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों को 5% GST टैक्स के स्लेब में रखा गया है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co