बाबा रामदेव ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहीं कई बातें
बाबा रामदेव ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहीं कई बातेंSocial Media

बाबा रामदेव ने दिल्ली में पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहीं कई बातें, बताया अपना संकल्प

बाबा रामदेव ने अपनी इक्छा बताते हुए नया बयान जारी किया हैं। इस बयान में उन्होंने पूरी दुनिया से एलोपैथी को रिप्लेस करने की बात कही है। इतना ही नहीं उन्होंने इस बात का संकल्प लेने की भी बात कही है।

राज एक्सप्रेस। पिछले साल योग गुरु बाबा रामदेव लगातार ही अपने विवादित बयान के चलते चर्चा में बने रहे। इतना ही नहीं इन्हीं बयानों के चलते उनके ऊपर कई तरह के मामले भी दर्ज हुए। वहीं, अब बाबा रामदेव ने इस बार अपनी इच्छा बताते हुए नया बयान जारी किया है। इस बयान में उन्होंने पूरी दुनिया से एलोपैथी को रिप्लेस करने की बात कही है। इतना ही नहीं उन्होंने इस बात का संकल्प लेने की भी बात कही है।

बाबा रामदेव का संकल्प :

दरअसल, योग गुरु बाबा रामदेव हमेशा से ही आयुर्वेद को प्रमोट करते आए हैं। इतना ही नहीं वह मार्केट में अब तक कई तरह के आयुर्वेदिक प्रॉडक्ट दवाइयां लांच कर चुके है। वहीं, अब योग गुरु बाबा रामदेव ने एक बार फिर भारत को खाद्य तेल में आत्मनिर्भर बनाने की बात करते हुए अगले पांच साल में पांच लाख रोजगार देने की बात कही है। साथ ही उनका संकल्प है पूरी दुनिया से एलोपैथी को रिप्लेस करना। इस मामले में उन्होंने एक लाख करोड़ का टर्नओवर हासिल करने का अपना लक्ष्य बताते हुए यह भी कहा कि, 'हर तरह के माफिया पतंजलि और स्वामी रामदेव को बर्बाद करने की साजिश रच रहे हैं। बता दे, यह सभी बातें उन्होंने दिल्ली में पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहीं। .

योग गुरु बाबा रामदेव का बयान :

योग गुरु बाबा रामदेव ने दिल्ली में पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि, 'लोग मुझे पिछले दो ढाई दशकों से देख रहे हैं। हमने हमेशा मिथ्या आरोपों को झेला है। आज भी पंतजलि के खिलाफ षडयंत्र किया गया। किसी को ब्रांड बनाने में वर्षों लगते हैं और एक आरोप से ब्रांड ढह जाते हैं। बहुत से लोगों को पंतजलि से ईषर्या होती है। रूचि सोया 4300 करोड़ रूपये में अधिग्रहण किया। वह 50 हजार करोड़ की नेटवर्थ वाली कंपनी बन गई है। 2047 में भारत की आजादी के 100 वर्ष होंगे। 40 हजार करोड़ आज हमारा ग्रुप टर्नओवर है। पांच साल में यह एक लाख करोड़ का हो जाएगा। आने वाले चार नाम जुड़ने वाले हैं। पंतजलि आर्युवेद, पंतजलि वैलनेस। हम मीडिया में आ रहे हैं।'

बाबा ने कही रोजगार देने की बात :

योग गुरु बाबा रामदेव ने रोजगार देने की बात कहते हुए बताया कि, 'आज हम पांच लाख लोग रोजगार दे रहे हैं। भारतीय शिक्षा बोर्ड से हम एक लाख स्कूलों को मान्यता देंगे। हम वैलनेस के जरिये लोगों को आपातकालीन स्थिति में इलाज देंगे। सुप्रीम कोर्ट में केसे करेंगे एक इंटरगिटी पैथी होनी चाहिए। केवल एलोपैथी ही मोनोपोली क्यों? हम 15 लाख एकड़ से ज्यादा जमीन पर पाम पौधारोपण करने वाले है।'

मिलावट न करने को लेकर दिया बयान :

बाबा ने अपनी कंपनी के जूस की बात करते हुए बताया कि, हमारी कंपनी में तैयार होने वाले आंवला-एलोवेरा जूस में हम एक बूंद पानी नहीं मिलाते हैं। इतना ही नहीं योग-आयुर्वेद में जितना बड़ा लैब, जितना बड़ा सिस्टम और जितना बड़ा यंत्र हमारे पास है किसी के पास नहीं है। FSSAI घी बनने के बाद उसे दस पैमानों पर जांचती है, जबकि, हमारी कंपनी 75 पैमानों पर जांचती है, उसी के बाद उसे बाजार में उतारा जाता है। हमारे किसी उत्पाद में किसी तरह की कोई मिलावट नहीं होती है मगर प्रतिद्वंदी कंपनियां ऐसा दुष्प्रचार करती हैं कि हम मिलावट नहीं होती हैं। हम सुप्रीम कोर्ट में पैरवी करेंगे कि एक इंटीग्रेटेड पैथी की बात होनी चाहिए, केवल एलोपैथी में विश्व के संपूर्ण आयुर्विज्ञान को समेट दिया जाए, ये अन्यायपूर्ण है।

क्या षडयंत्र रचा जा रहा :

उन्होंने आगे की बात करते हुए कहा कि, 'सोशल मीडिया से लेकर इलेक्ट्रानिक मीडिया और प्रिंट मीडिया तक बाबा को कठघरे में खड़ा करने लगा है, ऐसा दर्शाने लगा जैसे स्वामी रामदेव कोई आतंकवादी हो। हमारा घी का सैम्पल अनधिकृत लैब में भेजा गया और फेल कर दिया गया, गाजियाबाद की लैब ने घी के उसी सैम्पल की जांच की तो बताया कि, इससे अच्छा घी हो ही नहीं सकता। अब लोग खुद ही समझ सकते हैं कि, क्या षडयंत्र रचा जा रहा है। कुछ लोगों ने पतंजलि का नाम खराब किया था, उनको लीगल नोटिस जारी किया गया है। ऐसे लगभग 90 लोग हैं, इन सभी को नोटिस दे दिया गया है। पतंजलि ने करोड़ों लोगों के मन में अपना विश्वास पैदा किया है। ऐसे लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा। ऐसे लोग सामने नहीं आते हैं मगर जो लोग छिपकर काम कर रहे हैं वो भी बच नहीं पाएंगे।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co