कोरोना इफेक्ट: BHEL को सितंबर की तिमाही में उठाना पड़ा नुकसान

भारत की सरकारी हेवी मशीनें बनाने वाले कंपनी 'भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड' (BHEL) ने शुक्रवार को सितंबर की तिमाही के आंकड़े जारी किए। जिनके अनुसार कंपनी को घाटा हुआ।
कोरोना इफेक्ट: BHEL को सितंबर की तिमाही में उठाना पड़ा नुकसान
BHEL September quarterly figuresSocial Media

राज एक्सप्रेस। जहां, कोरोना के चलते हुए लॉकडाउन में कई कंपनियां घाटे में आगे थीं। वहीं, अब लगभग कई सारी कंपनियां पटरी पर आती नजर आ रही हैं, लेकिन फिर भी कई कंपनियां अभी भी ऐसी हैं जिन पर लॉकडाउन का असर अभी भी नजर आ रहा है। इन्हीं कंपनियों में भारत की सरकारी हेवी मशीने बनाने वाले कंपनी 'भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड' (BHEL) भी शामिल है। इस बात का अंदाजा कंपनी के सितंबर की तिमाही के आंकड़ों से लगाया जा सकता है।

BHEL को उठाना पड़ा घाटा :

दरअसल, आज यानि शुक्रवार को हेवी मशीनें बनाने वाली कंपनी 'भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड' (BHEL) ने सितंबर की तिमाही के आंकड़े जारी किए हैं। इन आंकड़ों के अनुसार, कंपनी को इस दौरान 552.38 करोड़ रुपए का घाटा उठाना पड़ा है। जबकि, बीते साल की समान अवधि के दौरान कंपनी को 120.95 करोड़ रुपए का फायदा हुआ था। बता दें, BHEL को सितंबर तिमाही में यह नुकसान कम राजस्व के कारण हुआ है। कंपनी ने इस बारे में जानकारी शेयर मार्केट को दी।

BHEL की आय :

कंपनी द्वारा शेयर मार्केट को जानकारी देते हुए बताया कि, सितंबर तिमाही के दौरान कंपनी की कुल आय साल भर पहले के 6,359.68 करोड़ रुपए से कम होकर 3,793.13 करोड़ रुपए ही रह गई।

BHEL ने बताया :

BHEL कंपनी ने उसे हुए घाटे के बारे में बताये हुए कहा कि, 'कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिए लागू पाबंदियों का अभी भी उसके परिचालन पर असर पड़ रहा है। परियोजनाओं के निष्पादन में तेजी आयी है, लेकिन उबरने की दर धीमी है। अत: इस वित्त वर्ष की सितंबर तिमाही के प्रदर्शन की तुलना साल भर पहले से नहीं की जा सकती है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co