हैकर्स ने Big Basket के यूजर्स का डाटा चुरा कर डार्क वेबसाइट पर डाला

Big Basket के 2 करोड़ यूजर्स का डेटा लीक होने से जुड़ी खबर सामने आई हैं। हैकर ने यूजर्स का यह डेटा चुरा कर बेचने के लिए डार्क वेबसाइट पर डाल दिया था।
हैकर्स ने Big Basket के यूजर्स का डाटा चुरा कर डार्क वेबसाइट पर डाला
Big Basket Two Thousand Users data leakedSyed Dabeer Hussain - RE

राज एक्सप्रेस। पिछले कुछ सालों से हर क्षेत्र में डिजिटलाइज़ेशन का काफी क्रेज बढ़ा है। चाहे वह ऑनलाइन शॉपिंग हो या डिजिटल ट्रांजेक्शन। इसी के चलते ऑनलाइन धोखाधड़ी, डेटा लीक और हैकिंग जैसी घटनायें भी काफी बढ़ गई है। वहीं, अब एक और डेटा लीक होने का मामला सामने आया है। बता दें यह मामला ऑनलाइन ग्रॉसरी शोपिंग ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म बिग बास्केट (Big Basket) से जुड़ा है।

Big Basket से हुआ यूजर्स का टाटा चोरी :

दरअसल, ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म Big Basket से 2 करोड़ यूजर्स के ऑनलाइन डाटा चोरी का मामला सामने आया है। इस बारे में जानकारी देते हुए साइबर इंटेलीजेंस कंपनी Cyble ने बताया कि, हैकर द्वारा यह डाटा चुरा कर लगभग 29.5 लाख रुपए (40,000 डॉलर) में बेचने के लिए डार्क वेबसाइट पर डाला गया है। कंपनी ने अपने यूजर्स के डाटा चोरी होने की शिकायत बेंगलुरु में साइबर क्राइम सेल से की है। इस डाला चोरी के मामले को लेकर Cyble ने एक ब्लॉग जारी किया है।

Cyble का ब्लॉग :

Cyble द्वारा जारी किए गए ब्लॉग में कहा गया है कि, 'हमारी रिसर्च टीम ने अपनी रूटीन वेब मॉनीटरिंग में पाया कि साइबर क्राइम मार्केट में बिग बास्केट के डेटा को 40,000 डॉलर में बेचा जा रहा है, इस डेटा बेस की फाइल करीब 15GB की है, जिसमें करीब 2 करोड़ यूजर्स का डेटा हैं। Cyble के ब्लॉग में यह भी बताया गया है कि, यूजर्स का जो डाटा चोरी हुआ है उसमे यूजर्स के नाम, ई-मेल, पासवर्ड हैश, मोबाइल नंबर, एड्रेस, डेट ऑफ बर्थ, लोकेशन के साथ ही लॉग-इन का IP एड्रेस भी चोरी किय गया है।' Cyble का पासवर्ड से मतलब वन टाइम पासवर्ड (OTP) है। Cyble के ब्लॉग के मुताबिक, यूजर्स का यह डाटा 30 अक्टूबर, 2020 को चोरी हुआ था। इसके बारे में जानकारी बिग बास्केट कंपनी के मैनेजमेंट को भी दे दी गई है।

Big Basket का कहना :

इस मामले में Big Basket कंपनी ने अपनी सफाई पेश करते हुआ कहा कि, ‘कुछ दिन पहले हमें बड़ी डेटा चोरी के बारे में पता चला है। हम साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट्स के साथ मिलकर पता कर रहे हैं कि ये कितना बड़ा है और इसमें कितनी सच्चाई है। साथ ही, इसे तत्काल रोकने के रास्ते भी तलाश रहे हैं। हमने साइबर सेल बेंगलुरू में शिकायत भी दर्ज कराई है। हम इन हैकर्स को पकड़ने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। कस्टमर्स के डेटा की प्राइवेसी और सिक्योरिटी हमारी प्राथमिकता है। हम उनके फाइनेंशियल डेटा जैसे क्रेडिट कार्ड नंबर वगैरह स्टोर करके नहीं रखते हैं और हमें पूरा भरोसा है कि उनका ऐसा डेटा पूरी तरह से सेफ है।’

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co