#BoycottPantaloons
#BoycottPantaloons|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

पैंटालूंस से जुड़े इस किस्से के चलते ट्रेंड हुआ #BoycottPantaloons

इंडियन क्लोथिंग रिटेल कंपनी पैंटालूंस से एक ऐसा किस्सा सामने आया जिसको लेकर ग्राहकों में गुस्सा है। इसी के चलते ट्वीटर पर #BoycottPantaloons ट्रेंड हो रहा। जानें क्या है मामला।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • ट्वीटर पर ट्रेंड करता नजर आ रहा #BoycottPantaloons हैशटैग

  • कंपनी ने किया 25 लोगों को सस्पेंड

  • जनता में है पैंटालूंस को लेकर गुस्सा

  • BJP के सचिव ने पैंटालूंस पर जताया अपना गुस्सा

राज एक्सप्रेस। भारत के प्रसिद्ध फ्यूचर ग्रुप का हिस्सा इंडियन क्लोथिंग रिटेल कंपनी पैंटालूंस (Pantaloons Fashion & Retail Limited) से जुड़ा एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसके चलते सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्वीटर पर #BoycottPantaloons हैशटैग ट्रेंड करता नजर आ रहा है। पश्चिम बंगाल में स्थित पैंटालून स्टोर से जो किस्सा सामने आया है, उसे सुन कर किसी भी भारतीय को गुस्सा आएगा। दरअसल, इस स्टोर में 25 लोगों को सिर्फ इसलिए सस्पेंड कर दिया गया क्योंकि, वो राष्ट्रगान 'जन-गण-मन' गा रहे थे।

क्या है मामला :

दरअसल, कोलकाता के एक पैंटालूंस (Pantaloons) स्टोर में 25 कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया गया। उनकी गलती सिर्फ यह थी कि, वे सभी राष्ट्रगान 'जन-गण-मन' गा रहे थे। वह सभी कर्मचारी इस मामले के खिलाफ कार्यवाही हो, इस मुद्दे को लेकर पिछले 6 दिन से धरने पर बैठे हैं। वहीं अब इस बात से जनता में गुस्सा है। जनता की तरफ से अब प्रश्न यह उठा है कि, क्या इस बात की जानकारी शीर्ष प्रबंधन को है और यदि है तो क्या यह कार्यवाही उनकी मर्जी से ही हुई है। यदि ऐसा हुआ है तो, भारतीय को उनसे नहीं खरीदना चाहिए।

BJP के सचिव ने किया ट्वीट :

BJP के राष्ट्रीय सचिव वाय सत्य कुमार ने भी पैंटालूंस को टैग करते हुए लिखा कि, कोलकाता में राष्ट्रगान गाने के लिए @pantaloonsindia के 25 कार्यकर्ताओं को निलंबित कर दिया गया। वे कार्रवाई के खिलाफ पिछले 6 दिनों से धरने पर हैं। क्या शीर्ष प्रबंधन को इसकी जानकारी है? या टीएमसी के इशारे पर ऐसा कर रहे हैं? राष्ट्रगान हमारी शान है, उसके लिए किसी को कैसे पीछे किया जा सकता है? इनमे अलावा अन्य कई लोगों ने भी अपना गुस्सा जाहिर करते हुए ट्वीट किया।

भारत में पैंटालूंस के स्टोर :

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, भारत के लगभग 40 शहरों और कस्बों में पैंटालूंस (Pantaloons) के 130 फैशन स्टोर हैं। इसमें खुदरा स्थान 1.7 मिलियन वर्ग फुट है। इसके साथ ही कंपनी अपने 4 बिलियन से अधिक सदस्यों के लिए लॉयल्टी प्रोग्राम ग्रीन्कार्ड प्रदान करता है। जिसके द्वारा ग्राहकों को छूट और आकर्षक ऑफर्स मिलते हैं। पैंटालून्स ने अपने स्टोर्स में लगभग 200 ब्रांड शामिल किये है। जिसमें प्राइवेट लेबल और लाइसेंस प्राप्त ब्रांड का मिश्रण भी शामिल है। पैंटालून्स अपने इन ब्रांड के तहत पुरुषों, महिलाओं और बच्चों के लिए प्रोडक्ट बनाना है।

पैंटालूंस ने किया खंडन :

हालांकि, इस मामले को लेकर पैंटालून ने नोट जारी किया है उसमे लिखा है कि, पैंटालून्स स्पष्ट रूप से निराधार और शरारती दावे से इनकार करना चाहते हैं कि कोलकाता में कुछ कर्मचारियों को राष्ट्रगान बजाने के लिए निलंबित कर दिया गया था। ये दुर्भावनापूर्ण आग्रह स्पष्ट रूप से तथ्यों से दूर करने के लिए लक्षित हैं। *एक जिम्मेदार मीडिया संगठन के रूप में, हम आपसे आग्रह करेंगे कि आप इन मनगढ़ंत कहानियों को कोई श्रेय न दें।* पैंटालून कोलकाता में पैदा होने वाला 20 साल पुराना ब्रांड है और पश्चिम बंगाल में इसके रोल में 1215 कर्मचारी हैं। कुछ दिनों पहले, कुछ कर्मचारियों को एक निष्पक्ष और निष्पक्ष प्रक्रिया के माध्यम से जांच की जा रही अनुशासनहीनता के घिनौने काम के कारण निलंबन नोटिस, लंबित जांच की सेवा दी गई थी। ग्राहकों की उपस्थिति में हिंसा के कृत्यों, स्टोर संचालन को बाधित करने, महिला कर्मचारियों को धमकी देने और सहकर्मियों को अपमानित करने जैसे कई कारणों से अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई। ”

“पैंटालून्स स्पष्ट रूप से निराधार और सामान्य दावे से इनकार करना चाहते हैं कि कोलकाता में कुछ कर्मचारियों को राष्ट्रगान बजाने के लिए निलंबित कर दिया गया था। ये दुर्भावनापूर्ण अनुरोध स्पष्ट रूप से तथ्यों से दूर करने के लिए लक्षित हैं। * एक जिम्मेदार मीडिया संगठन के रूप में, हम आपसे अनुरोध करेंगे कि आप इन मनगढ़ंत कहानियों को कोई श्रेय न दें। * फटलुन कोलकाता में पैदा होने वाला 20 साल पुराना ब्रांड है और पश्चिम बंगाल में इसके रोल में 1215 कर्मचारी हैं। कुछ दिनों पहले, कुछ कर्मचारियों को एक निष्पक्ष और निष्पक्ष प्रक्रिया के माध्यम से जांच की जा रही अनुशासनहीनता के घिनौने काम के कारण निलंबन नोटिस, लंबित जांच की सेवा दी गई थी। ग्राहकों की उपस्थिति में हिंसा के कृत्यों, स्टोर संचालन को बाधित करने, महिला कर्मचारियों को धमकी देने और सहकर्मियों को अपमानित करने जैसे कई कारणों से सकारात्मक कार्रवाई की गई। "

Pantaloons Note
Pantaloons NotePantaloons

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co