Share Market
Share MarketRaj Express

एफपीआई की निकासी के सिलसिले पर लगा ब्रेक, नवंबर माह में अब तक 9000 करोड़ की खरीदारी

भारतीय शेयर बाजार में तेजी का नया दौर शुरू हो गया है। अमेरिकी ट्रेजरी यील्ड में गिरावट से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों का भारत के प्रति आकर्षण बढ़ा है।

हाईलाइट्स

  • बाण्ड यील्ड से मिलने वाले रिटर्न में आई गिरावट

  • विदेशी निवेशक अब भारत में बढ़ा रहे अपना निवेश

  • इससे भारतीय बाजार में तेजी का नया दौर शुरू हुआ

राज एक्सप्रेस। भारतीय शेयर बाजार में तेजी का नया दौर शुरू हो गया है। अमेरिकी ट्रेजरी यील्ड में गिरावट और घरेलू बाजार के लचीलेपन की वजह से विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने लगातार दो माह की निकासी के बाद नवंबर में 9000 करोड़ रुपए की खरीदारी की है। इसके साथ ही एफपीआई ने पिछले माह डेट मार्केट में 14860 करोड़ रुपये का शुद्ध निवेश किया था।

एफपीआई ने अक्टूबर में 24,548 करोड़ रुपये और सितंबर में 14,767 करोड़ रुपये की इक्विटी बेची थी। हालांकि इससे पहले 6 महीने (मार्च से अगस्त) तक एफपीआई ने 1.74 लाख करोड़ रुपये की इक्विटी खरीदी थी। ताजा प्रवाह के पीछे अमेरिकी ट्रेजरी यील्ड और कच्चे तेल की कीमतों में आने वाले उतार-चढ़ाव के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है।

पिछले माहीने, बाजार में दो आईपीओ - ​​इरेडा और टाटा टेक - की उल्लेखनीय लिस्टिंग देखने को मिली। जिसमें विदेशी निवेशकों ने भी निवेश किया है। हाल के दिनों में भारतीय बाजारों में विदेशी निवेश बढ़ रहा है। अमेरिकी ट्रेजरी बॉन्ड यील्ड में आई गिरावट ने एफपीआई को बेहतर रिटर्न के लिए भारतीय बाजार की ओर रुख करने पर बाध्य किया है। इस कैलेंडर वर्ष में अब तक एफपीआई ने 1.15 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co