नौ महीनों में IPO के जरिए कंपनियों ने जुटाए करोड़ों रुपये
नौ महीनों में IPO के जरिए कंपनियों ने जुटाए करोड़ों रुपयेKavita Singh Rathore - RE

नौ महीनों में IPO के जरिए कंपनियों ने जुटाए करोड़ों रुपये

साल 2020 में IPO बाजार की रिपोर्ट सामने आई है। इस रिपोर्ट के अनुसार IPO से कंपनियों को काफी लाभ हुआ है। इस लाभ के चलते नौ महीनों में IPO के जरिए इन कंपनियों ने करोड़ों रुपये जुटाए हैं।

राज एक्सप्रेस। जब-जब कंपनियों को पूंजी जुटाने के लिए जरूरत होती है। तब-तब कंपनियां अपना IPO (Initial Public Offering) लेकर मार्केट में आती हैं। जिससे उन कंपनियों को पूंजी जुटाने में निवेशकों का साथ मिल सके। वहीं, अब साल 2020 में IPO बाजार की रिपोर्ट सामने आई है। इस रिपोर्ट के अनुसार IPO से कंपनियों को काफी लाभ हुआ है।

कंपनियों ने जुटाए करोड़ों रूपये :

दरअसल, साल 2020 के दौरान आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (IPO) बाजार बेहद खास स्थिति में रहा। इस दौरान कई निवेशकों ने IPO बाजार में बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया। जिसके चलते IPO के जरिए इन कंपनियों ने करोड़ों रुपये जुटाए हैं। इस मामले में विशेषज्ञों का कहना है कि, साल 2021 में भी IPO बाजार मजबूत रहने की उम्मीद है। कंपनियां इस साल भी IPO लाने के लिए लाइन लगा कर खड़ी हैं। भारतीय कंपनियों ने चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-दिसंबर की अवधि में यानी नौ महीनों के दौरान 92,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं।

IPO बाजार से जुटाई रकम :

बताते चलें, पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि की IPO बाजार से जुटाई रकम की तुलना में 46% अधिक है। सूत्रों की मानें तो, कंपनियों ने अपने बिजनेस के लिए सबसे अधिक राशि राइट्स निर्गम के जरिए जुटाई है। जबकि, इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में कंपनियों ने पुब्लिक इसु से 62,816 करोड़ रुपये जुटाए थे। संसद में शुक्रवार का पेश आर्थिक समीक्षा में कहा गया है कि, अप्रैल-दिसंबर के दौरान सार्वजनिक निर्गम से धन जुटाने वाली कंपनियों की संख्या घटकर 33 रह गई है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 49 कंपनियों ने सार्वजनिक निर्गम से धन जुटाया था।

आंकड़ों के अनुसार :

यदि आंकड़ों पर नजर डालें तो, अप्रैल-दिसंबर के दौरान शेयरों के सार्वजनिक निर्गम से 91,993 करोड़ रुपये की राशि जुटाई है। इसमें से 60,907 करोड़ रुपये की राशि 16 राइट्स निर्गमों से जुटाई गई। जबकि, पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में राइट्स निर्गम से 51,866 करोड़ रुपये जुटाए गए थे।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

AD
No stories found.
Raj Express
www.rajexpress.co