अयोध्या मामले के फैसले के दौरान लोकल मार्केट का रहा ऐसा हाल
Local MarketKavita Singh Rathore -RE

अयोध्या मामले के फैसले के दौरान लोकल मार्केट का रहा ऐसा हाल

कई साल पुराने अयोध्या मंदिर के विवाद का फैसला सभी के लिए बहुत बड़ा फैसला था जिसका सभी भारतवासियों को काफी समय से इन्तजार था, जो अब खत्म हुआ। इस बीच लोकल मार्केट का क्या हाल रहा, उस पर एक नजर डाले।

राज एक्सप्रेस। अयोध्या का फैसला आने से पहले ही लोकल मार्केट्स में खलबली मची हुई थी, हालांकि प्रधानमंत्री मोदी सहित सभी को भारत देश से शांति पूर्वक इस फैसले को स्वीकार करने की उम्मीद थी, इस फैसले के आने का इंतजार भारत के हर एक व्यक्ति को था चाहें वो कोई बड़ा या छोटा बिजनेसमैन हो या फिर कोई सर्विस मैन। इसी के चलते शनिवार को लगभग राज्यों के लोकल मार्केट में सन्नाटा पसरा था। इतना ही नहीं सर्वोच्य न्यायलय द्वारा 9/11/2019 (फैसला आने वाले दिन) को सभी स्कूल-कॉलेज-मदरसा, शासकीय- अशासकीय कार्यालयों में छुट्टी घोषित कर दी गई थी। सड़कों पर चारों तरफ पुलिस के जवान गश्त पर थे।

फैसले का इंतजार :

हर कोई फैसले के बेसब्री इंतजार में TV के सामने बैठा हुआ था, कल पूरे दिन के बाद शाम के समय हल्की-फुल्की चहल-पहल देखने को मिली। यह फैसला करीब 11 बजे आया, जो न हिन्दू पक्ष में था न ही मुस्लिम पक्ष में। फैसले में कोर्ट ने कहा कि, अयोध्या में राम मंदिर बनेगा, साथ ही मस्जिद के लिए 5 एकड़ जमीन अलग से दी जाएगी। कल मार्केट पूरी तरह बंद होने के कारण मॉल्स भी खाली नजर आये।

फिर हुई चहल-पहल :

इस एक दिन के सन्नाटे के बाद आज फिर लोकल मार्केट में अच्छी-खासी चहल-पहल देखने को मिली। सभी दुकानें और मॉल्स फिर से खुल गए। हालांकि, हर दिन जैसी भीड़ आज भी नजर नहीं रही है, लेकिन कल की तुलना में लोग आज काफी एक्टिव दिखे। फैसला आने के बाद से राजनीति और मनोरंजन जगत से जुड़ी बड़ी हस्तियों ने अपने-अपने विचार प्रकट किये। वहीँ बिजनेस जगत से जुड़े महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी के चैयरमेन आंनद महिंद्रा ने ट्वीटर द्वारा अपने विचार प्रकट किये।

आंनद महिंद्रा का कहना :

5 आदमियों द्वारा आने वाले फैसले का इंतजार 1.3bn लोगों को था। इस बेंच के लायक होने के लिए किसी असाधारण साहस की आवश्यकता नहीं है। इतना फैसला लेने के लिए मन का कितना अविश्वसनीय अनुप्रयोग करना आना चाहिए। मैं उनके कर्तव्य को उनके द्वारा निभाने और हमारे राष्ट्र में न्याय की प्रक्रिया को कायम रखने के लिए उन्हें सलाम करता हूं।

आंनद महिंद्रा, चैयरमेन

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co