Corona Virus Affectd Indian-US Stock Market
Corona Virus Affectd Indian-US Stock Market|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

कोरोना की चपेट में भारतीय शेयर बाजार, US में दूसरी बार लोअर सर्किट

दुनिभर में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है जहां, भारत का शेयर बाजार इसकी चपेट में आने से बच नहीं सका। वहीं, दूसरी तरफ अमेरिकी शेयर बाजार डाउ जोंस में एक बाद फिर लोअर सर्किट लग गया।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • दुनिभर में लगातार बढ़ रहा कोरोना वायरस का प्रकोप

  • भारतीय शेयर बाजार में आई जम कर गिरावट

  • पिछले 3 कारोबारी दिन में दूसरी बार लोअर सर्किट लगा

  • एशिया के कई देशों के शेयर बाजार कोरोना की चपेट में

राज एक्सप्रेस। दुनिभर में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है जहां, भारत से कोरोना वायरस से तीसरी मौत की खबर सामने आई है वहीं, भारत का शेयर बाजार भी कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद संभल नहीं पा रहा है और लगतार लुढ़कता ही जा रहा है। दूसरी तरफ अमेरिकी शेयर बाजार डाउ जोंस में एक बाद फिर लोअर सर्किट लग गया। यह पिछले 3 कारोबारी दिन में दूसरी बार है जब लोअर सर्किट लगा हो।

भारतीय शेयर बाजार :

भारतीय शेयर बाजार में खुलते ही सेंसेक्स में 600 अंक से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई तो, इंडेक्स में करीब 3,000 अंकों की गिरावट दर्ज की गई। हालांकि, घरेलू शेयर बाजार में कारोबार की शुरुआत हरे निशान के साथ हुई थी लेकिन थोड़ी ही देर में ये लाल निशान पर पहुंच गए और सेंसेक्स 500 अंक तक गिर गया। जबकि, आज सुबह सेंसेक्स 221.50 अंकों की तेजी के साथ 31,611.57 पर खुला था और निफ्टी भी 88.40 अंकों की बढ़ोतरी दर्ज करता हुआ 9,285 के स्तर पर पहुंच गया था।

अमेरिकी शेयर बाजार :

सोमवार को अमेरिकी शेयर बाजार डाउ जोंस, नैस्डैक व S&P में आई गिरावट के चलते ये दिन अमेरिका के शेयर बाजार में 'ब्लैक मंडे' बन गया। अमेरिकी शेयर मार्केट के कारोबार की शुरुआत 2748.64 अंक की गिरावट से हुई। इस गिरावट के बाद शेयर मार्केट में ट्रेडिंग रोकनी पड़ी और लोअर सर्किट लगने के कारण 15 मिनट के लिए कारोबार पूरी तरह बंद रहा। इससे मार्केट में लगभग 7% की गिरावट दर्ज की गई। आपको याद दिला दें इससे पहले अमेरिकी शेयर बाजार में 12 मार्च को लोअर सर्किट लगा था। जिसका सीधा असर अगले ही दिन भारत के शेयर मार्केट पर भी पड़ा था। वहीं 13 मार्च को सेंसेक्स खुलते ही 3600 प्वाइंट तक लड़के थे।

US फेडरल के ब्याज दरों हुई कटौती :

अमेरिका में फेडरल की ब्याज दरों में कटौती करने के बाद ही सेंसेक्स में बहुत तेज गिरावट दर्ज की गई। कारोबार के आखिर में सेंसेक्स 2713.41 अंक से लुढ़कर 31,390.07 अंक पर पहुंच के बंद हुआ। वहीं, सेंसेक्स में 7.96% की गिरावट दर्ज की गई। दूसरी तरफ निफ्टी 756.10 अंक से लुढकर 9,199.10 अंक पर बंद हुआ।

फाइनेंस सेक्टर पर पड़ा बुरा असर :

बाजार में गिरावट का सबसे ज्यादा असर फाइनेंस सेक्टर पर पड़ा है। इन फाइनेंस सेक्टर में मुख्य तौर पर HDFC, इंड्सइंड, Axis, ICICI, SBI समेत सभी प्रमुख बैंकों के शेयर गिरे हैं। उधर BSE 30 में शामिल कंपनियों के शेयरों में गिरावट दर्ज की गई है।

कई देशों के शेयर बाजार कोरोना की चपेट में :

कोरोना वायरस के चलते भारत सहित एशिया के अन्य कई और शेयर बाजार भी बुरी तरह प्रभावित हो रहे हैं। वहीं, यूरोप के शेयरों बाजारों में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। ब्रिटेन के शेयर बाजार का FTSE 100 में 5.87% की गिरावट दर्ज करता हुआ FTSE 315 अंक से नीचे गिरकर 5,051 अंकों पर कारोबार करता नजर आया। वहीं,

  • फ्रांस के शेयर बाजार का CAC 8.78% गिरा

  • जर्मनी के शेयर बाजार का डीएएक्स 7.66% गिरा

  • इटली के शेयर बाजार का एफटीएसई एमआईबी 8.47% गिरा

  • रुस के शेयर बाजार का एमआईसीईएक्स 3.46% गिरा

  • चीन के शेयर बाजार का शंघाई कंपोजिट 3.46% गिरा

  • हॉन्गकॉन्ग के शेयर बाजार का हैंगसेंग 4.03% गिरा

  • दक्षिण कोरियाके शेयर बाजार का कोस्पी 3.19% गिरा

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co