Air India से सामने आए पेशाब करने वाले मामले में DGCA की कार्रवाई
Air India से सामने आए पेशाब करने वाले मामले में DGCA की कार्रवाईSocial Media

Air India से सामने आए पेशाब करने वाले मामले में DGCA की कार्रवाई

एयरलाइन कंपनी Air India से एक यात्री द्वारा दूसरी महिला यात्री की सीट पर पेशाब करने का मामला सामने आया था। आज यानी शुक्रवार को इस मामले पर बड़ी कार्रवाई करते हुए जुर्माना लगाया है।

DGCA Action Against Air India : कई बार हवाई यात्रा के दौरान यात्री के साथ इस तरह की घटनाएं घट जाती है, जिसको लेकर विमानन कंपनी को शर्मिंदा होना पड़ता है। हालांकि, उन्हें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि, इस तरह की घटना विमान में होनी ही नहीं चाहिए, क्योंकि अगर एसी कोई घटना घटती है तो उसकी जिम्मेदार कंपनी ही होगी। ऐसे में हाल ही में टाटा संस के सवामित्व वाली देश की बड़ी एयरलाइन कंपनी Air India से एक यात्री द्वारा दूसरी महिला यात्री की सीट पर पेशाब करने का मामला सामने आया था। आज यानी शुक्रवार को इस मामले पर बड़ी कार्रवाई करते हुए जुर्माना लगाया है।

क्या है मामला ?

दरअसल, Air India के एक विमान के बिजनेस क्लास से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया था। इस मामले के तहत एक नशे में धुत्त यात्री ने एक महिला यात्री की सीट पर पेशाब कर दी। इस मामले में महिला यात्री ने शिकायत करते हुए मामला दर्ज कराया था कि, “मैं फ्लाइट AI102 पर अपनी बिजनेस क्लास यात्रा के दौरान हुई भयानक घटना के बारे में अपनी गहरी निराशा व्यक्त करने के लिए लिख रही हूं। यह मेरी अब तक की सबसे दर्दनाक उड़ान रही है। उड़ान के दौरान, दोपहर के भोजन के तुरंत बाद लाइट बंद कर दी गई थी। जब मैं सोने की तैयारी कर रही थी, तभी नशे में धुत्त एक यात्री उनकी सीट पर आया और उसने पेशाब कर दी।" इस मामले की पर कार्रवाई करते हुए आज DGCA ने एयरलाइन पर 30 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है।

क्या मिली सजा ?

बताते चलें, Air India के विमान में घटित घटना शर्मसार कर देने वाली थी। इस मामले में हैरानी वाली बात ये है कि, जिस समय यह घटना घटी विमान के क्रू मेम्बर्स भी विमान में मौजूद थे। हालांकि, शुक्रवार को DGCA ने इस मामले में कार्रवाई कर नागरिक उड्डयन नियमों का उल्लंघन करने के चलते Air India पर 30 लाख रुपये का जुर्माना लगाते हुए पायलट-इन कमांड का लाइसेंस भी तीन महीने के लिए सस्पेंड कर दिया है। बता दें, पायलट के खिलाफ यह कार्रवाई विमान नियम 1937 के नियम 141 और लागू DGCA के नागरिक उड्डयन नियमों के तहत अपनी ड्यूटी सही तरह से पूरी न करने के लिए की गई है। इसके अलावा Air India की उड़ान सेवाओं में निदेशक पर तीन लाख रुपये का फाइन लगाया है।

DGCA ने जारी किया था कारण बताओ नोटिस :

बताते चलें, यह कार्रवाई तब हुई है जब इस मामले को लेकर पीड़ित महिला ने एयरलाइन पर सख्त कदम न उठाने को लेकर आरोप लगाए थे। साथ ही महिला का कहना था कि, एयरलाइन उन्हें कंप्रोमाइज करने को कह रही थी। इनसब के बाद DGCA ने पहले Air India को कारण बताओ नोटिस जारी किया था और उसके बाद यह कार्रवाई की है। DGCA ने Air India को नोटिस भेज कहा है कि, 'आपके खिलाफ एक्शन क्यों ना लिया जाए। आपने अपना दायित्व ठीक तरह से नहीं निभाया है, लेकिन फिर भी न्यायिक प्रक्रिया को देखते हुए आपको जवाब देने के लिए दो हफ्ते का समय दिया जाएगा। उसके आधार पर ही आगे की कार्रवाई होगी।

7 जनवरी को हुआ आरोपी गिरफ्तार :

महिला ने आगे यह भी बताया है कि, दूसरे यात्रियों ने उसे हटाने की कोशिश की फिर भी वह नहीं माना। महिला ने AI केबिन क्रू को इस घटना के प्रति असंवेदनशील बताते हुए कहा कि, 'क्रू ने उन्हें केवल कपड़े बदलने के लिए बस एक जोड़ी पजामा और चप्पल दी, लेकिन हरकत करने वाले पुरुष यात्री के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। बता दे, यह घटना पिछले साल 26 नवंबर की है जब एक महिला न्यू यॉर्क से दिल्ली आ रही थी। फ्लाइट में नशे की हालात में यह हरकत करने वाले व्यक्ति का नाम शंकर मिश्रा बतया जा रहगा है। जिसे पुलिस ने 7 जनवरी को बेंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co