यूपीआई पेमेंट और ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के आसान तरीके
यूपीआई पेमेंट और ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के आसान तरीकेSocial Media

यूपीआई पेमेंट और ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के आसान तरीके

कई बार सजग लोग भी शातिर साइबर क्रिमिनल का शिकार हो जाते हैं। यही वजह है कि हमें किसी भी ऑनलाइन या यूपीआई पेमेंट को करने से पहले कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए।

राज एक्सप्रेस। टेक्नोलॉजी के इस दौर में ऑनलाइन पेमेंट का चलन भी तेजी से बढ़ा है। आपके हमारे बीच ऐसा कोई न कोई शख्स जरूर होगा जिसे ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार बनाया गया होगा। कई बार सजग लोग भी शातिर साइबर क्रिमिनल का शिकार हो जाते हैं। यही वजह है कि हमें किसी भी ऑनलाइन या यूपीआई पेमेंट को करने से पहले कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए।

अनवेरिफाइड एप का इस्तेमाल ना करें :

हम कई बार अनवेरिफाइड एप को मोबाइल में यूज़ करना शुरू कर देते हैं और इनके साथ ही अपने खाते की निजी जानकारी जैसे बैंक का नाम, अकाउंट नंबर आदि डाल देते हैं। लेकिन ये एप धीरे-धीरे हमारे फ़ोन को कंट्रोल कर ये जानकारी निकालने लगते हैं। इसलिए ऐसे एप का इस्तेमाल ना करें। खासतौर से उन ऐप्स का जो अननोन सोर्स सैटिंग को ऑन करके इंस्टॉल की जाती है।

अननोन लिंक से पेमेंट ना करें :

आजकल कई लोग हमें लिंक से पेमेंट करने के लिए कहते हैं। लेकिन ऐसा करते वक्त ध्यान रखें कि यह फ्रॉड तो नहीं है। क्योंकि अक्सर धोखाधड़ी करने वाले यह तरीका अपनाते हैं। यहां तक कि आपको ऐसे मैसेज भेजे जाते हैं कि आपने क्रेडिट कार्ड पर ट्रांजेक्शन करने से आपको 5 हजार का कैशबैक मिला है, जिसे आप दी हुई लिंक पर क्लिक करके रिडिम कर सकते हैं।

OTP शेयर ना करें :

हमेशा से RBI भी हमें यह बात कहता है कि किसी के भी साथ हमें OTP शेयर नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसके माध्यम से ठगी होना काफी सरल है।

अंजान लोगों के साथ ट्रांजेक्शन ना करें :

सबसे पहले आपको यह बात ध्यान रखना है कि जिस व्यक्ति को आप जानते नहीं है उसके साथ ऑनलाइन पेमेंट को ना कहे। क्योंकि कई बार अंजान लोगों से बात करने पर हम ऑनलाइन धोखाधड़ी का शिकार हो जाते हैं और अपनी निजी जानकारी भी शेयर कर देते हैं।

साइबर क्राइम होने पर क्या करें?

लेकिन अगर इसके बावजूद भी आप ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार हो जाते हैं तो साइबर क्राइम विभाग को इसकी सूचना दें, ताकि न सिर्फ आपको पैसा वापस मिल सके, बल्कि दूसरे लोगों के साथ होने वाले फ्रॉड को भी रोका जा सके।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co