RBI ने फिर दिया Repo Rate को लेकर झटका
RBI ने फिर दिया Repo Rate को लेकर झटकाKavita Singh Rathore -RE

RBI ने फिर दिया Repo Rate को लेकर झटका, फिर महंगा हुआ लोन

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा एक बार फिर Repo Rate में बढ़ोत्तरी कर दी गई है। हालांकि, कोरोना काल यानी बीते दो साल में 11 बार Repo Rate में कोई बढ़त दर्ज नहीं हुई थी, इसलिए यह बढ़त दर्ज होना लाज़मी था।

राज एक्सप्रेस। देश में किसी भी नीतिगत दरों में होने वाले बदलाव या उस पर चर्चा करने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) और मौद्रिक नीति समिति (MPC) की अहम् बैठक होती है। वहीं, पिछले कुछ समय से इस बैठक को लेकर अंदाजा लगाया जा रहा था कि, देश में एक बार फिर रेपो रेट (Repo Rate) में बढ़त दर्ज हो सकती है और ऐसा ही हुआ है। जी हां,रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा एक बार फिर Repo Rate में बढ़ोत्तरी कर दी गई है। हालांकि, कोरोना काल के कारण पिछले दो साल में लगातार 11 बार Repo Rate में कोई बढ़त दर्ज नहीं हुई थी, इसलिए यह बढ़त दर्ज होना लाज़मी था।

Repo Rate में दर्ज हुई बढ़ोत्तरी :

दरअसल, आप किसी भी बैंक से लोन लेने का मन बना रहे है तो जान लें, यह खबर आपके काम की हो सकती है। खबर यह है कि, अब आपको लोन लेने पर उसकी दरों का और ज्यादा भुगतान करना होगा। पिछले दो साल भारत को कोरोना के चलते आई आर्थिक मंदी से बाहर निकलने के लिए रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा Repo Rate में कोई बढ़त दर्ज नहीं की गई थी, लेकिन अब जब Repo Rate में बढ़त दर्ज होना शुरू हुई है तो यह तीन महीने में दूसरी बार Repo Rate की दर को बढ़ा दिया गया है। हालांकि, RBI द्वारा Repo Rate (ब्याज दरों) में मात्र 0.50% की बढ़ोतरी ही की गई है। दर्ज हुई इस बढ़त के बाद देश में Repo Rate की दर 5.40% हो गई है।

आखिरी बार दर्ज हुई बढ़त :

बताते चलें, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा Repo Rate में आखिरी बार बढ़त 8 जून 2022 में दर्ज हुई थी। हालांकि, उस समय भी दर्ज हुई बढ़त के तहत RBI ने Repo Rate में 0.50% (आधे फीसदी) की ही बढ़ोतरी की थी। उस समय दर्ज हुई बढ़त के बाद Repo Rate 4.90% पर पहुंच गई थी। बता दें, Repo Rate में दर्ज हुई इस बढ़त के बाद सभी बैंक के ग्राहकों के लिए होम लोन (Home Loan), पर्सनल लोन (Personal Loan) और ऑटो लोन (Auto Loan) की दरें महंगी हो जाएंगी। इससे होगा यह कि, लोन लेने वाले ग्राहक को लोन की ज्यादा किस्त (EMI) चुकानी पड़ेगी।

जानकारों का कहना :

जानकारों का कहना है कि, 'रिजर्व बैंक ने महंगाई में कमी लाने के लिए रेपो रेट में यह इजाफा किया है। इस फैसले से साफ है कि होम लोन की ईएमआई भरने वालों को अधिक भुगतान के लिए कमर कस लेनी चाहिए। भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से रेपो रेट में इजाफा किए जाने के बाद से बैंकों ने लोन की दरों में बढ़ोत्तरी शुरू कर दी है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co