ED Calls Anil Ambani for Inquiry
ED Calls Anil Ambani for Inquiry|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

ED ने अनिल अंबानी को पूछताछ के लिए बुलाया ऑफिस

ED की टीम ने रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी को यस बैंक मनी लॉन्ड्रिंग के मामले की पूछताछ करने के लिए ED के ऑफिस बुलाया है। जहाँ उनसे इस मामले में पूछताछ की जा रही है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। हाल ही में यस बैंक के पूर्व डायरेक्टर राणा कपूर का नाम मनी लांड्रिंग जैसे मुद्दे में सामने आया था, इसी के चलते डायरेक्टर राणा कपूर और उनसे जुड़े कुछ अन्य लोगों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज हुआ था। इसके बाद इसी मामले में रिलायंस ग्रुप के चेयरमैन अनिल अंबानी का नाम भी सामने आया था, जिसके कारण प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने सोमवार को अनिल अंबानी के खिलाफ एक नोटिस जारी किया था। वहीं अब ED की टीम ने अनिल अंबानी को यस बैंक मनी लॉन्ड्रिंग के मामले की पूछताछ करने के लिए ED के ऑफिस बुलाया हैं।

सोमवार को किया था नोटिस जारी :

सोमवार को ED द्वारा जारी किये गए नोटिस में अनिल अंबानी को पूछताछ के लिए ED के ऑफिस बुलाया गया था परन्तु उन्होंने स्वास्थ का ईशू बता कर कुछ समय की मौहलत मांगी थी। इसके बाद ED ने आज (19 मार्च) को पेश होने के लिए कहा था। इसलिए उन्हें आज ED के ऑफिस में पेश होना पड़ा।

अधिकारियों ने बताया:

ED के अधिकारियों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, यस बैंक द्वारा जिन कंपनियों ने भी कर्ज लिया और उसे चुकाया नहीं और बिना चुकाये जो एकाउंट्स गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (NPA) घोषित कर दिए गए, उन एकाउंट्स में अनिल अंबानी की कंपनी का नाम भी शामिल है। इसलिए ईडी इस मामले में अनिल अंबानी से भी लगातार पूछताछ कर रही है। अनिल अंबानी की ग्रुप्स की कंपनियों पर भी भारी कर्ज रहा है।

कंपनियों पर है इतना कर्ज :

बता दें कि, अनिल अंबानी की कंपनियों द्वारा यस बैंक से जितना भी कर्ज लिया गया था उसमें से लगभग 12,800 करोड़ रुपये NPA घोषित कर दिया गया था। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने छह मार्च को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया था कि, यस बैंक के बड़े कर्जदारों में अनिल अंबानी ग्रुप सहित Essel, ILFS, DHFL और वोडाफोन कंपनियां शामिल हैं।

सबसे होगी पूछताछ :

अधिकारियों ने बताया है कि, इस मामले में जितनी भी कंपनियों का नाम शामिल है उन सभी को पूछताछ के लिए ED के ऑफिस बुलाया जाएगा। इन सभी कंपनियों से यस बैंक से लिए गए कर्ज की रकम NPA होने से जुडी जानकारी हासिल की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि, मनी लौंड्रिंग को रोकने के लिए अधिनियम के तहत अनिल अंबानी का बयान दर्ज किया जाएगा। उनके अलावा राणा कपूर भी फ़िलहाल ED की हिरासत में ही हैं।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co