Sharad Pawar
Sharad PawarRaj Express

शरद पवार के करीबी के घर ईडी के छापे में 1.1 करोड़ नकद के साथ 39 किलो सोने-हीरे के जेवरात बरामद

ईडी ने धन-शोधन और बैंक धोखाधड़ी के मामले में राकांपा के पूर्व कोषाध्यक्ष ईश्वरलाल जैन और उनके परिवार से जुड़ी कंपनियों पर कार्रवाई की है।

हाईलाइट्स

  • ईडी ने राकांपा के पूर्व कोषाध्यक्ष ईश्वरलाल जैन व उनके परिवार से जुड़ी कंपनियों के परिसरों पर मारे छापे

  • छापेमारी में ईडी अफसरों ने 1.1 करोड़ नकद व 25 करोड़ के स्वर्ण आभूषण और हीरे जवाहरात बरामद किए

  • छापेमारी महाराष्ट्र के जलगांव, नासिक और ठाणे में जैन के 13 ठिकानों पर की गई

राज एक्सप्रेस । प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने की टीम ने धन शोधन और बैंक ऋण धोखाधड़ी के मामले में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के पूर्व कोषाध्यक्ष ईश्वरलाल जैन, उनके परिवार और उनसे जुड़ी कंपनियों के परिसरों पर की छापेमारी में 1.1 करोड़ नकदी के साथ 25 करोड़ रुपए मूल्य के 39 किलो सोने-हीरे के जेवरात बरामद किए हैं।

प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों ने बताया कि यह छापेमारी महाराष्ट्र के जलगांव, नासिक और ठाणे में जैन के 13 ठिकानों पर की गई है। इस दौरान प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने मोबाइल फोन से ऐसे दस्तावेज बरामद किए हैं जो जैन के बेटे मनीष द्वारा संचालित रियल्टी फर्म की लक्जमबर्ग इकाई से 50 मिलियन यूरो के एफडीआई प्रस्ताव का संकेत देते हैं।

जलगांव में 2 बेनामी संपत्तियां व 50 करोड़ की 60 संपत्तियां मिलीं

प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने बताया कि छापेमारी में जलगांव में 2 बेनामी संपत्तियों के अलावा, राजमल लखीचंद समूह से संबंधित 50 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य की 60 संपत्तियों का विवरण एकत्र किया गया है। प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने पत्रकारों को बताया कि जैन द्वारा नियंत्रित 3 ज्वेलरी फर्मों के खातों की जांच के दौरान, उन्हें पता चला कि राजमल लखीचंद समूह से जुड़ी पार्टियों के माध्यम से फर्जी तरीके से कर्ज लिए गए और प्रमोटरों द्वारा उस पैसे को अचल संपत्तियों में निवेश किया गया।

पिछले साल दर्ज किए गए धोखाधड़ी के मामले

बता दें कि पिछले साल दिसंबर में, सीबीआई की दिल्ली इकाई ने राजमल लखीचंद ज्वैलर्स, आरएल गोल्ड और मनराज ज्वैलर्स और इसके प्रमोटरों- ईश्वरलाल जैन, मनीष जैन और उनके परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ तीन बैंक धोखाधड़ी के केस दर्ज किए थे। आरोप लगाया गया है कि जैन ने कथित तौर पर भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) से 353 करोड़ रुपये का ऋण लिया और उसका भुगतान नहीं किया। इन्हीं प्राथमिकी के आधार पर प्रवर्तन निदेशालय ने धन शोधन का मामला दर्ज किया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co