एडटेक स्टार्टअप Harappa Education ने दिखाया 30% कर्मचारियों को बाहर का दरवाजा

नई दिल्ली स्थित एडटेक स्टार्टअप हरप्पा एजुकेशन ने छंटनी के पहले चरण में ही कंपनी से 30% यानी कर्मचारियों को बाहर का दरवाजा दिखा दिया।
एडटेक स्टार्टअप Harappa Education ने की 30% कर्मचारियों की छंटनी
एडटेक स्टार्टअप Harappa Education ने की 30% कर्मचारियों की छंटनीसोशल मीडिया

Harappa Education laid off : पिछले साल के आखिरी महीनों में तो जैसे कंपनियों में छंटनी का ट्रेंड सा चल रहा था। कंपनियों को देखकर वो कहावत काफी फि़ट बैठ रही थी कि, खरबूजे को देखकर खरबूजा रंग बदल रहा है। क्योंकि, उस दौरान एक-एक करके कई दिग्गज कंपनियों ने छंटनी का ऐलान किया था। इसके बाद लागातर कोई न कोई कंपनी छंटनी का ऐलान करती ही आई है। वहीँ, पिछले दिनों लगातार कई दिग्गज कंपनियों द्वारा छंटनी करने के बाद अब नई दिल्ली स्थित एडटेक स्टार्टअप 'हरप्पा एजुकेशन' (Harappa Education) से भी छंटनी करने की खबर सामने आई है।

हरप्पा एजुकेशन ने की छंटनी :

दरअसल, बीते महोनों में लगातार छंटनी की ही खबरें सुनने में आ रही थी और इन सभी खबरों में एक बात जो कॉमन है वो यह है कि, यह सभी दिग्गज कंपनियां ही हैं। कभी facebook, Twitter से तो कभी Amazon से। कई दिग्गज कंपनियों के बाद अब नई दिल्ली स्थित ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म 'हरप्पा एजुकेशन' (Harappa Education) ने भी अपने 30% कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया है। इस प्रकार कंपनी ने अपने लगभग 60 कर्मचारियों की छंटनी कर डाली है। हालांकि, कंपनी अपने और कर्मचारियों को निकाल सकती है। क्योंकि, कंपनी का यह छंटनी का पहला चरण ही था।

बड़े पद के कर्मचारियों की भी हुई छंटनी :

बताते चलें, हरप्पा एजुकेशन में हुई छंटनी को लेकर ऐसा माना जा रहा है कि, कंपनी में अभी और भी छंटनियां हो सकती हैं। क्योंकि, यह अभी सिर्फ पहला चरण ही था। इस छंटनी में कंपनी के बड़े पद के कर्मचारी जैसे चीफ कंटेंट ऑफिसर विपुल राठौर और कटेंट एंटरप्राइज के उपाध्यक्ष तेजस्विनी उन्नी को भी निकाल दिया गया है। बता दें, कंपनी की तरफ से छंटनी करने का कोई औपचारिक कारण नहीं दिया गया है। कंपनी ने बिना कारण दिए ही कई कर्मचारियों की छंटनी कर डाली है।

जुलाई में खरीदी थी कंपनी और अब हो रही छंटनी :

जानकारी के लिए बता दें, रोनी स्क्रूवाला के upGrad द्वारा Harappa Education को पिछले साल जुलाई में 300 करोड़ रुपये में खरीदा था। वहीँ, अब कंपनी ने छंटनी करने का फैसला किया है। हालांकि, कंपनी यह घोषणा दिसंबर के अंतिम सप्ताह में ही कर चुकी थी। सामने आई रिपोर्ट की मानें तो यह छंटनी मुख्य रूप से कंटेंट डिवीजन में की गई है। इन कर्मचारियों को एक महीने का नोटिस देने के आदेश जारी किए गए है। इसके अलावा इन्हें कोई अन्य विच्छेद लाभ नहीं दिया गया है।

टीम लीडर्स को दिए गए आदेश :

बताते चलें, टीम लीडर्स को आदेश दिए गए हैं कि, "वे फायर किए गए कर्मचारियों को इसकी जानकारी दे दें।" बता दें, Harappa Education के अलावा एजुकेशन से जुड़ी BYJU'S, Toppr, WhiteHat Jr, Unacademy, Vedantu, Practically आदि जैसी कंपनियां भी छंटनी कर चुकी हैं। Tracxn की रिपोर्ट की मानें तो, इस अवधि में 7,000-8,000 कर्मचारियों को एडटेक स्टार्टअप्स द्वारा निकाल दिया गया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस यूट्यूब चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। यूट्यूब पर @RajExpressHindi के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co