बड़ी टेक कम्पनीज पर दिखने लगा मंदी का असर
बड़ी टेक कम्पनीज पर दिखने लगा मंदी का असरSyed Dabeer Hussain - RE

बड़ी टेक कम्पनीज पर दिखने लगा है मंदी का असर, होने लगी है कर्मचारियों की छंटनी

ग्लोबल मार्केट में मंदी की मार से कोई भी अछूता नहीं रहा है।आज फेसबुक, ट्विटर, माइक्रोसॉफ्ट, स्नेपचैट जैसी बड़ी कंपनियां कॉस्ट कटिंग पर जोर दे रही है।

राज एक्सप्रेस। बीते कुछ समय से यह देखने को मिल रहा है कि दुनियाभर में अच्छे पैकेज पर लोगों को नौकरी देने वाली टेक कंपनियां कर्मचारियों की छंटनी कर रही हैं। फिर चाहे आप फेसबुक की बात करें या फिर ट्विटर, माइक्रोसॉफ्ट, स्नेपचैट की ही बात क्यों ना करें। बड़ी-बड़ी IT इंडस्ट्री की कंपनियां कॉस्ट कटिंग के लिए कर्मचारियों की संख्या कम करने पर जोर दे रही है। इसका असर ग्लोबल मार्केट की चाल पर भी देखने को मिल रहा है। चलिए जानते हैं कौनसी कम्पनियों ने की है कर्मचारियों की छंटनी?

माइक्रोसॉफ्ट :

सबसे पहले इस सूची में आईटी सेक्टर की सबसे नामी कंपनी का नाम शामिल है। माइक्रोसॉफ्ट ने आर्थिक मंदी का हवाला देते हुए बीते महीने के दौरान करीब 1000 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला है।

माइक्रोसॉफ्ट
माइक्रोसॉफ्टSocial Media

फेसबुक :

इस लिस्ट में फेसबुक जैसा बड़ा नाम भी पीछे नहीं है। फेसबुक ने लागत में कटौती करते हुए साल की शुरुआत में नई नौकरियों पर रोक लगाई थी। जिसके बाद हाल ही में मेटा ने 11,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकाला है।

फेसबुक
फेसबुकSocial Media

अमेजन :

शॉपिंग वेबसाइट अमेजन के द्वारा भी कई कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया है। जबकि कुछ क्षेत्रों में टीमों का काम बंद करने के लिए भी कहा जा चुका है।

अमेजन
अमेजनSyed Dabeer Hussain - RE

नेटफ्लिक्स :

OTT प्लेटफ़ॉर्म के लिए मशहूर नेटफ्लिक्स के यूजर बीते कुछ समय में काफी बढ़ चुके हैं। लेकिन इसके बावजूद मंदी को देखते हुए नेटफ्लिक्स ने कंपनी से करीब 500 कर्मचारियों की छंटनी कर दी है।

नेटफ्लिक्स
नेटफ्लिक्सSocial Media

स्नैपचैट :

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म स्नैपचैट ने भी मंदी की मार को महसूस किया है। इसके सीईओ इवान स्पीगल का कहना है कि स्नैपचैट को भविष्य में सुरक्षित करने के लिए कॉस्ट कटिंग जरुरी है। स्नैपचैट ने करीब 1000 लोगों को नौकरी से निकाला है।

स्नैपचैट
स्नैपचैटSocial Media

ट्विटर :

इस माइक्रोब्लॉगिंग साइट को हाल ही में एलन मस्क ने अपने नाम किया है। इसके बावजूद ट्विटर के द्वारा लगभग 50 फीसदी यानि लगभग 3700 कर्मचारियों को नौकरी से बेदखल किया गया है।

ट्विटर
ट्विटरSocial Media

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co