'अल साल्वाडोर' देश बनने जा रहा दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटी
'अल साल्वाडोर' देश बनने जा रहा दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटीSocial Media

'अल साल्वाडोर' देश बनने जा रहा दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटी

बिटकॉइन आज कल बहुत ट्रैंड में चल रहा है, आपने आज कल हर किसी को बिटकॉइन में इन्वेस्ट करने की बात कहते सुना होगा। वहीं, अब 'अल साल्वाडोर' दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटी बनने जा रही है।

अल साल्वाडोर, अमेरिका। क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) एक ऐसी करेंसी है, जो ज्यादातर सुर्ख़ियों में बनी रहती है। इसको लेकर कई नियम निर्धारित किए गए हैं। क्योंकि, कई देशों में इसे इल्लीगल माना जाता है। क्रिप्टोकरेंसी में सबसे ज्यादा नाम जो सुना जाता है वो बिटकॉइन (Bitcoin) का है और बिटकॉइन आज कल बहुत ट्रैंड में चल रहा है आज कल आपने हर किसी को बिटकॉइन में इन्वेस्ट करने की बात कहते सुना होगा। वहीं, अब 'अल साल्वाडोर' दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटी बनने जा रही है।

दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटी :

जहां, कई देशों में आह भी बिटकॉइन (क्रिप्टोकरेंसी) को इल्लीगल माना जाता है। वहीं, मध्य अमेरिका में स्थित एक देश अल साल्वाडोर दुनिया की पहली बिटकॉइन सिटी बनने की तैयारी में है। इस देश द्वारा तैयार की गई योजना में शुरू में बिटकॉइन-समर्थित बॉन्ड द्वारा वित्त पोषित किया जाएगा। आपको सुनकर जरूर हैरानी हो रही होगी, लेकिन यह जान कर आश्चर्य भी होगा कि, इस बारे में जानकारी किसी खबरों से सामने है आई है बल्कि अल साल्वाडोर के राष्ट्रपति नायब बुकेले ने खुद एक बयान साझा करते हुए दी है। इस बयान में उन्होंने कहा है कि,

"अल साल्वाडोर में निवेश को बढ़ावा देने और क्रिप्टो मुद्रा का उपयोग करने के लिए बिटकॉइन ने अपने निवेश को दोगुना कर दिया है। ला यूनियन के पूर्वी क्षेत्र में बनाए जाने वाले इस शहर को बिटकॉइन से एक नए विकास का आयाम मिलेगा, और इस पर मूल्य वर्धित कर (वैट) को छोड़कर कोई कर नहीं लगाया जाएगा। यहां निवेश करें और अपनी इच्छानुसार पैसे कमाएं। यह जगह पूरी तरह से इसके लिए समर्पित हैं।"

नायब बुकेले, अल साल्वाडोर के राष्ट्रपति

बिटकॉइन को लेकर देश की योजना :

राष्ट्रपति द्वारा यह जानकारी देश में चल रहे एक सप्ताह के बिटकॉइन प्रचार के कार्यक्रम की समापन के दौरान लोगों को संबोधित करते हुए दी गई। ख़बरों की मानें तो देश की योजना है कि, वह बिटकॉइन पर लगाए गए वैट का आधा हिस्सा शहर के निर्माण के लिए जारी किए गए बांडों को निधि देने के लिए इस्तेमाल करेगा जबकि, शेष हिस्सा कर संग्रह कचरा संग्रह जैसी सेवाओं के लिए इस्तेमाल करेगा। इसके साथ ही सार्वजनिक बुनियादी ढांचे को बनाने पर लगभग 300,000 बिटकॉइन को खर्च किया जाएगा। हालांकि, अल साल्वाडोर बिटकॉइन सिटी बन भी सकता है क्योंकि, यहां सितंबर में ही बिटककॉइन को कानूनी रूप से मान्यता मिल गई थी और यह बिटकॉइन को मान्यता देने वाला दुनिया का पहला देश है।

संरचना की जानकारी :

राष्ट्रपति ने शहर की संरचना की जानकारी देते हुए यह बताया कि, 'शहर का एरियल व्यू बिटकॉइन जैसा दिखाई देगा। इसके अलावा इस शहर में कॉमर्शियल और आवासीय इमारतों के साथ एयरपोर्ट का निर्माण भी किया जाएगा। साल 2022 में अल साल्वाडोर में बिटकॉइन को लेकर प्रारंभिक बांड जारी करने की योजना बनाई गई है।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co