Facebook ने हटाए कोरोना से जुड़े करोड़ों पोस्ट, भारत में चलाएगा नया अभियान
Facebook को #ResignModi के खिलाफ एक्शन लेना पड़ा भारी Kavita Singh Rathore - RE

Facebook ने हटाए कोरोना से जुड़े करोड़ों पोस्ट, भारत में चलाएगा नया अभियान

Facebook ने कोरोना से जुड़े करोड़ों पोस्ट तो हटाए ही साथ ही लोगों को शिक्षित और जागरूक करने के लिए जल्द ही एक नया अभियान शुरू करने का फैसला किया है।

राज एक्सप्रेस। भारत में एक तरफ कोरोना का प्रकोप कम होने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं, ऐसे लगातार बढ़ रहे मामलों से बने डर के माहौल में लोग कोरोना या कोरोना की वैक्सीन को लेकर अफवाहें और और फेक खबरें फैलाने में भी पीछे नहीं हट रहे हैं। इस तरह की गलत खबरों से लोगों में डर और घबराहट और अधिक बढ़ती जा रही हैं। इस बात को मद्देनजर रखते हुए दुनियाभर में बहुचर्चित मैसेंजिंग ऐप Facebook ने करोड़ों पोस्ट तो हटाए ही साथ ही लोगों को शिक्षित और जागरूक करने के लिए जल्द ही एक नया अभियान शुरू करने का फैसला किया है।

Facebook करेगा नए अभियान की शुरुआत :

आपने कई बार सोशल मीडिया प्लेटफार्म Facebook पर कोरोना के इलाज या कोरोना को लेकर अन्य कई गलत खबरें और अफवाहें पढ़ी होंगी। बता दें, Facebook द्वारा जब भी इस तरह की कोई खबर गलत पाई जाती है, तो वह बिना किसी की अनुमति के उसे हटा देता है। इसी प्रकार Facebook ने सोशल मीडिया से कोविड-19 से जुड़े गलत व भ्रामक 1.2 करोड़ से ज्यादा पोस्ट डिलीट किए हैं। इसके अलावा कोरोना को लेकर लोगों को शिक्षित और जागरूक बनाने के लिए भारत में एक अभियान शुरू करने का फैसला किया है। इस अभियान के द्वारा लोगों को प्रोत्साहित किया जाएगा कि, वे उन्हें मिलने वाली सूचनाओं की किसी विश्वसनीय स्रोत से जांच करें।

Facebook ने सोशल मीडिया से हटाए पोस्ट :

दरअसल, Facebook ने कोरोना महामारी के दौरान अपने फोटो शेयरिंग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Instagram और Facebook दोनों पर पोस्ट किये गए दुनिया भर में 1.2 करोड़ से ज्यादा पोस्ट हटाए हैं, इन पोस्ट के तहत लोगों ने कोरोना को लेकर या तो नुकसानदेह सूचना दी या फिर कोई अन्य गलत जानकारी। इन वैक्सीन को भी गलत तरीके से पेश किया गया था। Facebook ने जानकारी दी है कि, उसकी तरफ से दोनों प्लेटफॉर्म से ऐसे 16.7 करोड़ पोस्ट को लेकर चेतावनी भी जारी की गई है क्योंकि, इन जानकारियों को जांचकर्ताओं ने गलत बताया था।

Facebook का कहना :

Facebook कंपनी का कहना कि, 'वह लोगों को सही स्रोतों के साथ जोड़ने और खासकर कोविड-19 महामारी से जुड़ी गलत सूचना से निपटने के लिए काम कर रही है। कंपनी ने भ्रामक सूचनाओं की जांच के लिए छह तरीके तैयार किए गए हैं और इन आसान तरीकों के बारे में Facebook पर जानकारी दी जाएगी। इसके जरिए लोग न केवल हेडलाइन बल्कि पूरी स्टोरी के स्रोत के बारे में जान पाएंगे।  यह अभियान अंग्रेजी सहित हिंदी, तमिल, तेलुगू, ओड़िया, मलयालम, मराठी, कन्नड़, गुजराती और बांग्ला में चलाया जाएगा।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co