Raj Express
www.rajexpress.co
 LVMH and Tiffany deal
LVMH and Tiffany deal|Kavita Singh Rathore -RE
व्यापार

LVMH फैशन ग्रुप ने की ज्वेलरी कंपनी टिफनी से सबसे बड़ी डील

दुनिया के सबसे बड़े लग्जरी LVMH फैशन ग्रुप और ज्वेलरी कंपनी टिफनी की डील अपने अंतिम चरणों में है। दोनों कंपनियां जल्द ही मर्ज होकर कार्य करेंगी। यह डील LVMH ग्रुप की अब तक की सबसे बड़ी डील है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • फैशन कंपनी LVMH खरीदेगी ज्वेलरी कंपनी टिफनी को

  • दुनियाभर में है टिफनी कंपनी के स्टोर

  • यह डील LVMH कंपनी की सबसे बड़ी डील है

  • कंपनी के पास लगभग 14 हजार कर्मचारी है

राज एक्सप्रेस। दुनिया की सबसे बड़ी लग्जरी फैशन कंपनी LVMH (Louis Vuitton) ने जल्द ही अमेरिका की 182 साल पुरानी बहुत ही जानी-मानी ज्वेलरी कंपनी टिफनी (Tiffany) को खरीदने का मन बना लिया है। कंपनी ने यह डील 16.2 अरब डॉलर (भारतीय करेंसी में 1.16 लाख करोड़ रुपए) में पक्की की है। इस डील से जुड़ी जानकारी फ्रांस की LVMH कंपनी ने सोमवार को दी। कंपनी ने यह भी कहा कि, यह डील कंपनी की सबसे बड़ी डील है और LVMH कंपनी टिफनी कंपनी को 135 डॉलर प्रति शेयर के भाव पर खरीदेगी।

दुनियाभर में कंपनी के स्टोर :

जानकारी के लिए बता दे कि, लग्जरी फैशन कंपनी टिफनी (Tiffany) की शुरुआत 1837 में न्यूयॉर्क से हुई थी। इस कंपनी की खास पहचान इसके ब्लू बॉक्स हैं। मतलब यह कि, कंपनी अपने सभी प्रोडक्ट की पैकिंग ब्लू कलर के बॉक्स में करती है, जो अपने दुनियाभर के 300 स्टोर्स से डिलीवरी करती है। इस कंपनी के पास कुल कर्मचारियों की संख्या लगभग 14 हजार है। 1961 में आई फिल्म ब्रेकफास्ट एट टिफनी में भी इसके बारे में बताया गया था।

बिक्री में कमी :

पिछले कुछ सालों से टिफनी की बिक्री में लगतार कमी दर्ज की गई है, जो 2015 तक काफी बढ़ गई, हालांकि 2017 में कंपनी को रेवेन्यू में बढ़ोतरी दर्ज की गई। इसका एक मुख्य कारण अमेरिका और चीन के बीच चल रही ट्रेड वॉर भी है। दरअसल टिफनी कंपनी को खरीदने पर LVMH के ज्वेलरी बिजनेस की काफी पहुंच बढ़ेगी, क्योंकि LVMH के पास काफी बड़े ब्रांड जैसे ज्वेलरी ब्रांड बुल्गारी और घड़ियों का ब्रांड टैग ह्युर के साथ ही क्रिश्चियन डायर, फेंडी और लुइस वेटन समेत कुल 75 ब्रांड हैं। इस डील द्वारा टिफनी कंपनी को अपने अफोर्डेबल प्रोडक्ट्स के लिए ग्राहक बढ़ने की उम्मीद है। LVMH ग्रुप के दुनियाभर में कुल 4,590 स्टोर हैं जिनमें लगभग 1.56 लाख कर्मचारी कार्य करते हैं।

कुछ मुख्य बिंदु :

  • बीते वित्त वर्ष में LVMH ग्रुप का रेवेन्यू 10% बढ़कर 50 अरब डॉलर (3.58 लाख करोड़ रुपए) रहा।

  • बीते वित्त वर्ष में टिफनी कंपनी का रेवेन्यू 6.53% बढ़कर 4.44 अरब डॉलर (31,839 करोड़ रुपए) रहा।

  • टिफनी कंपनी को खरीद कर LVMH ग्रुप अमेरिका में विस्तार कर सकेगा।

  • LVMH ग्रुप के रेवेन्यू में अमेरिका का सिर्फ एक चौथाई हिस्सा है, जबकि टिफनी को वहां से 40% रेवेन्यू मिलता है।

  • टिफनी कंपनी का चीन में भी काफी कारोबार फैला है।

  • लग्जरी इंडस्ट्री में पिछले साल टिफनी का काफी अच्छा प्रदर्शन रहा।

  • टिफनी का मार्केट कैप 15 अरब डॉलर (1.07 लाख करोड़ रुपए) है।

  • LVMH ग्रुप का 220 अरब डॉलर (15.77 लाख करोड़ रुपए) है।

LVMH के चेयरमैन और CEO :

LVMH के चेयरमैन और CEO बर्नार्ड अरनॉल्ट (70) फ्रांस के सबसे बड़े और दुनिया के तीसरे बड़े अमीर व्यक्ति हैं। ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के अनुसार, उनकी नेटवर्थ 100 अरब डॉलर (7.17 लाख करोड़ रुपए) है, जो की फ्रांस की जीडीपी के 3% के बराबर है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।