First Indian Company will Build Metro Coach
First Indian Company will Build Metro Coach|Social Media
व्यापार

मेट्रो कोच निर्माण कार्य करेगी उत्तर प्रदेश की पहली भारतीय कंपनी

देश में जल्द ही भारत की पहली कंपनी द्वारा मेट्रो कोच का निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा। बताते चलें, यह भारतीय कंपनी उत्तर प्रदेश की कंपनी है। यमुना प्राधिकरण द्वारा 12 कंपनियों को जमीन आवंटित की गई।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। देश में जल्द ही भारत की पहली कंपनी द्वारा मेट्रो कोच का निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा। जो, गौतमबुद्ध नगर के यमुना एक्सप्रेस-वे विकास प्राधिकरण क्षेत्र में तैयार करेगी। बताते चलें, मेट्रो कोच का निर्माण करने वाली यह भारतीय कंपनी उत्तर प्रदेश की कंपनी है। इसके अलावा इस निर्माण कार्य से देश में बेरोजगारी की समस्या में कुछ हद तक कमी आएगी। क्योंकि, इस निर्माण कार्य से देश में 12 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार प्राप्त होंगे।

12 कंपनियों को की गई भूमि आवंटित :

दरअसल, बुधवार को यमुना प्राधिकरण द्वारा ऑनलाइन इंटरव्यू करा कर 12 कंपनियों को भूमि का आवंटन किया है। इन 12 कंपनियों में मुख्य रूप से PPS इंटरनेशनल, पूजा इंटरनेशनल, अफोर्डेबल एक्सपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड, स्टार्टअप स्टूडियो, शिखा मैनेजमेंट सॉल्यूशन, साईं क्रिएशन सहित अन्य 12 कंपनियां शामिल है। बता दें, यह कंपनियां यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में लगभग 248 करोड़ का निवेश करेंगी।

12 कंपनियों को की गई भूमि आवंटित :

दरअसल, बुधवार को यमुना प्राधिकरण द्वारा ऑनलाइन इंटरव्यू करा कर 12 कंपनियों को भूमि का आवंटन किया है। इन 12 कंपनियों में मुख्य रूप से PPS इंटरनेशनल, पूजा इंटरनेशनल, अफोर्डेबल एक्सपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड, स्टार्टअप स्टूडियो, शिखा मैनेजमेंट सॉल्यूशन, साईं क्रिएशन सहित अन्य 12 कंपनियां शामिल है। बता दें, यह कंपनियां यमुना प्राधिकरण क्षेत्र में लगभग 248 करोड़ का निवेश करेंगी। बताते चलें, इन कंपनियों में शामिल होने वाली पहली भारतीय कंपनी PPS इंटरनेशनल है जो, उत्तर-प्रदेश में मेट्रो कोच का निर्माण कार्य करेगी। बताते चलें, इस कंपनी को 20 एकड़ जमीन प्राप्त हुई है।

जर्मन टेक्नोलॉजी के आधार पर तैयार होंगे कोच :

बताते चलें कि, प्राप्त खबरों के अनुसार यह कंपनियां नए कोच जर्मन टेक्नोलॉजी के आधार पर स्टेनलेस स्टील से तैयार किए जाएंगे। हालांकि, नए कोच वर्तमान में मौजूद मेट्रो कोच से थोड़े छोटे होंगे परन्तु इन की स्पीड पहले जैसे ही होगी। कंपनी शुरुआत में 115 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। इस प्रकार 500 लोगों को सीधे रोजगार अवसर प्राप्त होंगे। कंपनी वर्तमान में भारतीय रेल के लिए ओवरहेड इलेक्ट्रिसिटी केबल, कैटिलिवर और इलेक्ट्रिकल प्लग्स का निर्माण करती है।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी का कहना :

यमुना एक्सप्रेस-वे विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. अरुण वीर सिंह ने बताया कि, "मेट्रो कोच बनाने के लिए PPS इंटरनेशनल कंपनी को 20 एकड़ जमीन आवंटित की गई है। मेड इन इंडिया और मेक इन इंडिया की तर्ज पर यह भारतीय कंपनी मेट्रो कोच बनाएगी। यह कंपनी मेट्रो लाइट और मेट्रो के नए कोच बनाएगी।"

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co