foreign exchange reserves increased
foreign exchange reserves increased Raj Express

विदेशी निवेशकों की गतिविधियां बढ़ने से तीन माह के उच्च स्तर पर पहुंचा विदेशी मुद्रा भंडार

24 नवंबर को खत्म सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 2.538 अरब डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 597.935 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया है। यह तीन माह का उच्चतम स्तर है।

हाईलाइट्स

  • इन दिनों अमेरिकी व यूरोपीय निवेशकों को ज्यादा लुभावने दिख रहे हैं भारतीय बाजार

  • इसी वजह से उन्होंने 24 नवंबर को खत्म सप्ताह में भारत में बड़ी मात्रा में निवेश किया है

  • विदेशी निवेश बढ़ने से देश के विदेशी मुद्रा भंडार में संतोषजनक वृद्धि देखने को मिली है।

राज एक्सप्रेस। 24 नवंबर को खत्म सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 2.538 अरब डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 597.935 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया है। बता दें कि यह तीन माह का उच्चतम स्तर है। दरएसल, विदेशी निवेशकों के भारतीय बाजारों की ओर लौटने से बीते चार दिनों से शेयर बाजार में तेजी देखने को मिली है। इस समय विदेशी निवेशकों को अमेरिका और यूरोपीय देशों की तुलना में भारतीय बाजार ज्यादा लुभावने दिखने लगे हैं। यही वजह है विदेशी पोर्टफोलियो इनवेस्टर्स (एफपीआई) ने भारतीय शेयर बाजार की ओर रुख किया है। इनकी आमद बढ़ने की वजह से 24 नवंबर को खत्म सप्ताह में भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में संतोषजनक वृद्धि देखने को मिली है।

इस सप्ताह अपने विदेशी मुद्रा भंडार में 2.538 अरब डॉलर का इजाफा हुआ है। इसके साथ ही देश का कुल मुद्रा भंडार बढ़कर 597.935 अरब डॉलर हो गया है। यह तीन महीने का उच्चतम स्तर है। इससे पिछले सप्ताह में भी विदेशी मुद्रा भंडार में 5.077 अरब डॉलर से ज्यादा की वृद्धि हुई थी। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के आंकड़ों के अनुसार 24 नंवबर 2023 को समाप्त सप्ताह के दौरान अपने विदेशी मुद्रा भंडार में भारी बढ़ोतरी हुई है। इस दौरान विदेशी मुद्रा भंडार 2.538 अरब डालर बढ़ कर 597.935 अरब डालर हो गया है। इससे एक सप्ताह पहले भी अपना भंडार $5.077 अरब डालर बढ़ा था। इससे पहले अक्टूबर 2021 में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 645 अरब डॉलर के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया था।

आरबीआई के साप्ताहिक आंकड़ों में बताया गया है कि आलोच्य सप्ताह के दौरान भारत की विदेशी मुद्रा आस्तियों में बढ़ोतरी देखने को मिली है। बीते 24 नवंबर को समाप्त सप्ताह के दौरान फारेन करेंसी ऐसेट में (एफसीए) में $2.14 अरब डालर की बढ़ोतरी हुई है। एफसीए भंडार अब $528.531 अरब डालर का हो गया है। बता दें कि विदेशी मुद्रा भंडार में विदेशी मुद्रा आस्तियां या फॉरेन करेंसी असेट (एफसीए) का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। विदेशी मुद्रा आस्तियों में यूरो, पौंड और येन जैसी मुद्राओं में होने वाले उतार-चढ़ावों के प्रभाव को भी शामिल किया जाता है। नवंबर माह की 24 तारीख को समाप्त सप्ताह के दौरान भारत के गोल्ड रिजर्व (स्वर्ण भंडार) में भी बढ़ोतरी हुई है।

इस सप्ताह गोल्ड रिजर्व में 296 मिलियन डॉलर की बढ़ोतरी हुई है। अब देश का सोने का भंडार बढ़कर 46.338 अरब डालर का का हो गया है। बीते सप्ताह देश के स्पेशल ड्रॉइंग राइट या विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) में भी बढ़ोतरी देखने को मिली है। समीक्षाधीन सप्ताह के दौरान एसडीआर 87 मिलियन डॉलर बढ़ कर 18.218 बिलियन डॉलर तक जा पहुंचा है। रिजर्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार, समीक्षाधीन सप्ताह में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के पास रखे हुए देश के मुद्रा भंडार में भी बढ़ोतरी हुई है। आलोच्य सप्ताह के दौरान इसमें 14 मिलियन डालर की बढ़ोतरी हुई है। अब यह बढ़ कर 4.848 अरब डालर तक चला गया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co