Former Supreme Court judge Markandey Katju said on Nirav Modi case
Former Supreme Court judge Markandey Katju said on Nirav Modi case|Kavita Singh Rathore - RE
व्यापार

नीरव मोदी मामले में बोले सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू

नीरव मोदी के प्रत्यर्पण मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा एक बयान जारी किया है।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

राज एक्सप्रेस। पंजाब नेशनल बैंक से सामने आये बड़े घोटाले का मुख्य आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी जिसे भारत द्वारा भगोड़ा घोषित कर दिया गया था, उसे 19 मार्च को लंदन में पकड़ा गया था और तब से उस पर लंदन में ही केस चल रहा है। अब नीरव मोदी के प्रत्यर्पण मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा एक बयान जारी किया है।

पूर्व जज मार्कंडेय काटजू का बयान :

दरअसल, लंदन में चल रहे नीरव मोदी मामले में लंदन के वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट में सुबूत दिए गए। इसी दौरान सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू बचाव पक्ष की तरफ से गवाह के तौर पर पेश हुए थे। इस दौरान नीरव मोदी द्वारा किये गए PNB बैंक के करोड़ों के घोटाले के मामले पर सुनवाई के दौरान 130 मिनट के अपने बयान में सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने कहा, 'नीरव मोदी प्रत्यर्पित किए जाने पर भारत में निष्पक्ष ट्रायल नहीं मिल पाएगा।' उन्होंने आगे आरोप लगाया कि 'भारत में न्यायिक व्यवस्था चौपट हो गई है।'

पूर्व जज मार्कंडेय काटजू का दावा :

पूर्व जज मार्कंडेय काटजू ने दावा किया कि, 'जांच एजेंसियां CBI और ED राजनीतिक नेताओं के इशारों पर काम कर रहे हैं। पांच-दिवसीय सुनवाई में नीरव मोदी के प्रत्यर्पण पर सुनवाई होनी है। जजों को यह तय करने की आवश्यकता है कि, क्या भारत सरकार द्वारा पेश साक्ष्य के आधार पर भारत में उसके खिलाफ प्रथम दृष्टया मामला है।'

बताते चलें, काटजू ने अपने आरोपों का समर्थन करते हुए कई मामलो की चर्चा की। जिसमे साल 2019 में पूर्व जस्टिस रंजन गोगोई की पीठ द्वारा लिया गया अयोध्या का फैसला भी शामिल हैं। उन्होंने इसी मौके पर रिटायरमेंट के बाद जजों की नियुक्ति, मीडिया ट्रायल और न्यायपालिका में भ्रष्टाचार का मामला भी उठाया।

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) घोटाले के दोषी :

ज्ञात हो, पंजाब नेशनल बैंक घोटाला 11 हज़ार करोड़ रुपए (1.8 अरब डॉलर) से ज़्यादा रूपये के घोटाले का मामला है जो, बैंक की मार्केट वैल्यू का क़रीब एक-तिहाई और साल 2017 की आख़िरी तिमाही के मुनाफ़े का 50 गुना था। ये घोटाला मुंबई की एक ब्रांच से गलत ट्रांसेक्शन के द्वारा किया गया था। इस घोटाले में मुख्य तौर पर 2 डायमंड कंपनियों के मालिक नीरव मोदी का नाम सामने था साथ ही गीतांजलि जेम्स लिमिटेड कंपनी के प्रमुख मेहुल चौकसी का नाम भी इस मामले से जुड़ा था।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co