Sco released GDP growth rate forecast
Sco released GDP growth rate forecast Raj Express

वर्ष 2023-24 में 7.3 % रह सकती है ग्रोथ रेट, एससीओ ने जारी किया GDP का पूर्वानुमान

केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने सालाना जीडीपी ग्रोथ का पहला अग्रिम अनुमान जारी किया है। सीएसओ के पूर्वानुमान के अनुसार जीडीपी ग्रोथ रेट 7.3 रहेगा।

हाईलाइट्स

  • एक फरवरी 2024 को केंद्र लोकसभा चुनाव से पहले अपना अंतरिम बजट पेश करेगी।

  • 2023-24 में देश की जीडीपी 171.79 लाख करोड़ रुपये रह सकती है।

  • सीएसओ के पूर्वानुमान के अनुसार कृषि क्षेत्र का ग्रोथ रेट सबसे कम रहने वाला है।

राज एक्सप्रेस। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने सालाना जीडीपी ग्रोथ का पहला अग्रिम अनुमान जारी किया है। सीएसओ के पूर्वानुमान के अनुसार चालू वित्त वर्ष 2023-24 में देश की अर्थव्यवस्था 7.3 फीसदी के दर से विकसित होगी। वित्त वर्ष 2022-23 में जीडीपी 7.2 फीसदी रही थी। केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने जीडीपी के पूर्वानुमान जारी करते हुए बताया है कि वर्ष 2023-24 में देश की जीडीपी 171.79 लाख करोड़ रुपये रह सकती है। जबकि, पिछले वित्त वर्ष 2022-23 में देश की जीडीपी 160.66 लाख करोड़ रुपये रही थी।

इसका मतलब यह हुआ कि मौजूदा वित्त वर्ष में जीडीपी में 7.3 फीसदी विकास दर देखने को मिल सकती है। पिछले वित्तवर्ष में 2022-23 में जीडीपी की विकास दर 7.2 फीसदी रही थी। एक फरवरी 2024 को केंद्र सरकार लोकसभा चुनाव से पहले अपना अंतरिम बजट पेश करेगी। सांख्यिकी मंत्रालय के जीडीपी के आंकड़ों का इस्तेमाल करते हुए केंद्र सरकार विभिन्न क्षेत्रों के लिए अपना बजट निर्धारित करेगी। जीडीपी को लेकर जारी किए गए पूर्वानुमान के अनुसार 2023-24 में कंस्ट्रक्शन क्षेत्र का प्रदर्शन सबसे शानदार रहने रह सकता है।

कंस्ट्रक्शन क्षेत्र का ग्रोथ रेट 10.7 फीसदी रहने का अनुमान है। जो बीते साल 10 फीसदी देखने में आया था। मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर का प्रदर्शन भी शानदार रहने का अनुमान है। पूर्वानुमान के अनुसार मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की विकास दर 6.5 फीसदी रहने वाली है.जो पिछले साल की समान अवधि में 1.3 फीसदी रहा था। कृषि क्षेत्र की विकास दर 1.8 फीसदी रहने का अनुमान है, पिछले साल की समान अवधि में 4 फीसदी रही थी। माइनिंग और क्वैरिंग 2023-24 में 8.1 फीसदी की ग्रोथ दिख सकती है, जबकि एक साल पहले यह 4.6 फीसदी रही थी।

इलेक्ट्रिसिटी, गैस, जलापूर्ति और दूसरे यूटिलिटी का ग्रोथ रेट 8.3 फीसदी रहने का अनुमान है, जबकि एक साल पहले विकास दर 9 फीसदी रही थी। ट्रेड, होटल्स, ट्रांसपोर्ट, कम्यूनिकेशन, ब्रॉडकास्टिंग से जुड़ी सेवाएं मौजूदा वित्त वर्ष में 6.3 फीसदी के दर से विकास करेंगी, जिन्होंने पिछले वित्तवर्ष में 14 फीसदी के दर से विकास किया था। फाइनैंशियल, रियल एस्टेट और प्रोफेशनल सर्विसेज 8.9 फीसदी के दर से विकास करेगा जबकि 2022-23 में 7.1 फीसदी विकास किया था। पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन,डिफेंस और दूसरे सर्विसेज 7.7 फीसदी के दर से विकास करेगा जबकि एक साल पहले 2022-23 में यह विकास दर 7.2 फीसदी रही है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co