GoAir कर्ज चुकाने के मकसद से लाने जा रही अपना IPO
GoAir IPOKavita Singh Rathore - RE

GoAir कर्ज चुकाने के मकसद से लाने जा रही अपना IPO

वाडिया ग्रुप की एयरलाइन कंपनी GoAir भी मार्किट में अपना IPO लेकर मार्केट में उतरने वाली है। इस बारे में जानकारी SEBI से मिली मंजूरी मिलने पर सामने आई।

GoAir IPO : जब-जब कंपनियों को कारोबार का विस्तार करने या किसी अन्य कारण के लिए पूंजी जुटाने की आवश्यकता होती है। तब-तब कंपनियां अपना IPO (Initial Public Offering) लेकर मार्केट में उतरती हैं। जिससे उन कंपनियों को पूंजी जुटाने में निवेशकों का साथ मिल जाता है। जब कंपनियां लिस्ट हो जाती हैं तब निवेशकों के साथ ही कंपनियों को भी काफी मुनाफा होता है। इसी कड़ी में अब वाडिया ग्रुप की एयरलाइन कंपनी GoAir भी अपना IPO लेकर मार्केट में उतरने वाली है। इस बारे में जानकारी SEBI से मिली मंजूरी मिलने पर सामने आई।

GoAir का IPO :

यदि आप अपना पैसा IPO में लगाने का मन बना रहे थे, तो यह आपके लिए किसी सुनहरे मौके से कम नहीं है। एयरलाइन कंपनी GoAir अपना 3,600 करोड़ रुपये का IPO लेकर मार्केट में आने की तैयारी कर रही है। कंपनी ने बताया है कि, एयरलाइन कंपनी ने कई मुश्किलों का सामना करने के बाद शेयर मार्केट में लिस्टिंग के लिए भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) के पास दस्तावेज जमा कर दिए हैं। कंपनी को मुश्किल इसलिए हुई क्योंकि GoAir इससे पहले भी अपना IPO लाने वाली थी, लेकिन कई कारणों के चलते कंपनी अपना IPO नहीं ला सकी थी।

IPO से मिलने वाली रकम का इस्तेमाल :

बताते चलें, IPO से हासिल होने वाली रकम का इस्तेमाल GoAir अपना कर्ज चुकाने में करेगी। इस बारे में जानकारी देते हुए कंपनी ने बताया कि, 'IPO से मिलने वाली रकम का इस्तेमाल उसके बकाए कर्ज का पेमेंट में किया जाएगा। इसके साथ ही विमानों के पट्टा किराया पेमेंट और भविष्य के रखरखाव में भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। कंपनी का लक्ष्य इस IPO से शेयर्स जारी कर 3,600 करोड़ रुपये की रकम जुटाने का है।'

GoAir की योजना :

GoAir की योजना 3,600 करोड़ रुपये की रकम जुटाने की है, जिसमे से 2,015 करोड़ रुपये यानि 56% का इस्तेमाल कंपनी पर कर्ज का समय से पहले या निर्धारित अवधि पर भुगतान करने में करना चाहती है। इसके अलावा शेष राशि का इस्तेमाल रकम चुकाने के लिए भी खर्च करेगी। बता दें, कंपनी को इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन को 254 करोड़ रुपये का भुगतान करना हैं। इस भुगतान के बाद एयरलाइन के पास एक्सपैंशन और कंपनी की अन्य जरूरतों के लिए 1,000 करोड़ रुपये के आसपास की रकम शेष बचेगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co