Google और Apple ने स्टोर से डिलीट की पॉपुलर गेमिंग ऐप 'Fortnite'
IT सेक्टर की प्रमुख ऐपल और गूगल दोनों कंपनियों ने अपने स्टोर से पॉपुलर मल्टीप्लेयर गेमिंग ऐप 'Fortnite' को डिलीट कर दिया है। यानी अब कोई यूजर इस ऐप को इन दोनों स्टोर से डाऊनलोड नहीं कर सकेगा।
Google और Apple ने स्टोर से डिलीट की पॉपुलर गेमिंग ऐप 'Fortnite'
Google-Apple deleted gaming app 'Fortnite' from storeKavita Singh Rathore -RE

राज एक्सप्रेस। Google और Apple दोनों ही कंपनिया अपने Apple और प्ले स्टोर (Google Play Store) को समय-समय पर अपडेट करती रहती है। कई बार यह कंपनियां यूजर्स को नुकसान पहुंचाने वाली या अननेसेसरी ऐप्स को हटा भी देती है। पिछले कुछ समय से स्टोर से ऐप्स हटाने का सिलसिला लगातार चल रहा है। कभी ऐप पर बेन लगने पर ऐप्स को स्टोर से हटाया जा रहा तो कभी किसी और कारण से। वहीं, अब दोनों कंपनियों द्वारा अपने स्टोर से पॉपुलर गेमिंग ऐप डिलीट कर दी है।

दोनों कंपनियों ने स्टोर से हटाई गेमिंग ऐप :

दरअसल, ऐपल और गूगल दोनों कंपनियों ने अपने स्टोर से पॉपुलर मल्टीप्लेयर गेमिंग ऐप 'Fortnite' को डिलीट कर दिया है। यानी अब कोई यूजर इस ऐप को इन दोनों स्टोर से डाऊनलोड नहीं कर सकेगा। इस ऐप को डिलीट करने का कारण इस ऐप का पेमेंट सिस्टम है। बताते चलें, जब भी कोई ऐप अपनी सेवा देने के बदले अपने ग्राहक से पैसा वसूलती है तो उसे उस राशि के कुछ परसेंट (%) हिस्सा स्टोर (Google और Apple) को देना पड़ता है। ज्ञात हो कि, Fortnite गेमिंग ऐप में पेमेंट का सिस्टम है।

दोनों कंपनियों ने क्यों हटाई गेमिंग ऐप :

बताते चलें, Fortnite गेमिंग ऐप निर्माता कंपनी Epic Games ने दोनों कंपनियों के स्टोर्स को बायपास करते हुए ऐप में पेमेंट का मोड डायरेक्ट कर दिया है। जिसके करण इससे दोनों ही स्टोर्स की कंपनियों को इस पेमेंट का कुछ भी भाग नहीं मिल रहा था। क्योंकि इस पेमेंट मोड़ के तहत यूज़र्स डायरेक्ट Epic Games कंपनी को पेमेंट कर सकते हैं। इससे Epic Games के डायरेक्ट पेमेंट मोड़ के चलते इन ऐप परचेज रेवेन्यू में से 30% हिस्सा गूगल और ऐपल कंपनियों को नहीं मिल रहा था। जिससे कंपनी को इस ऐप के जरिये कोई फायदा नहीं हो रहा था।

ऐपल कंपनी का बयान :

बताते चलें, इस मामले पर ऐपल कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा है, ‘Epic ने अपने ऐप में एक फ़ीचर एनेबल किया है जिसे ऐपल ने रिव्यू या अप्रूव नहीं किया है। उन्होंने ऐसा ऐप स्टोर की इन ऐप परचेज की गाइडलाइन का उल्लंघन करने के मक़सद से किया है जो उन हर डेवेलपर्स पर लागू होता है जो गुड्स एंड सर्विस बेचते हैं।"

गूगल कंपनी का बयान :

गूगल ने भी एक बयान जारी कर कहा है कि, "एंड्रॉयड के ओपन इकोसिस्टम की वजह से डेवेलपर अलग-अलग ऐप स्टोर के ज़रिए ऐप्स का डिस्ट्रिब्यूशन करते हैं। Fortnite एंड्रॉयड के लिए दूसरे ऐप स्टोर के ज़रिए उपलब्ध होगा, लेकिन पॉलिसी के तहत कंपनी इसे ऑफिशियल गूगल प्ले स्टोर से हटा रही है।" बताते चलें, इस ऐप को एंड्रॉयड स्मार्टफ़ोन्स में दूसरे ऐप स्टोर जैसे सैमसंग गैलेक्सी स्टोर या फिर दूसरे ऐप लाइब्रेरी से डाउनलोड किया जा सकता है।

Epic Games ने किया मुकदमा :

बताते चलें, गेम निर्माता कंपनी Epic Games ने अपने स्टोर्स से अपने गेमिंग ऐप Fortnite को हटाने के कारण गूगल और ऐपल कंपनियों के खिलाफ मुकदमा दायर कर दिया है। कंपनी का आरोप है कि, ऐपल और गूगल की इन ऐप पेमेंट पॉलिसी एंटी कंप्टीटिव है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co