महिलाओं को निर्वस्त्र कर तलाशी लेने वाले मामले में कतर सरकार ने मांगी माफी

2 अक्टूबर को दोहा-सिडनी जा रही कतर एयरवेज एयरलाइन की फ्लाइट में महिलाओं के पूरे कपड़े उतरवा कर तलाशी लेने वाले मामले में कतर सरकार ने उन महिलाओं से माफी मांगी है।
महिलाओं को निर्वस्त्र कर तलाशी लेने वाले मामले में कतर सरकार ने मांगी माफी
Government Apologizesd in Qatar Airways MatterSyed Dabeer Hussain - RE

ऑस्ट्रेलिया। हवाई यात्रा के दौरान एयरपोर्ट पर तलाशी होना स्वाभाविक बात है, लेकिन हाल ही में एक खबर सामने आई थी जिसके तहत 2 अक्टूबर को दोहा-सिडनी जा रही कतर एयरवेज एयरलाइन की फ्लाइट में महिलाओं के पूरे कपड़े उतरवा कर तलाशी ली गई थी। हालांकि, इस प्रकार तलाशी लेने के पीछे एक वजह थी, लेकिन तब भी इस घटना पर ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने गंभीर चिंता जताई थी। वहीं, इस मामले में अब कतर सरकार ने उन महिलाओं से माफी मांगी है।

कतर सरकार ने मांगी माफी :

कतर एयरवेज एयरलाइन की 10 फ्लाइट्स 2 अक्टूबर को दोहा से सिडनी जा रही थीं। इस फ्लाइट में यात्रा कर रही 13 महिलाओं को हमाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर उतारकर उन्हें एक एंबुलेंस में ले जाकर उनके कपड़े उतरवा (निर्वस्त्र) कर तलाशी ली गई। दरअसल, ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि, एयरपोर्ट पर डस्टबिन में एक नवजात शिशु का शव मिला था और यह तलाशी उस नवजात की माँ का पता लगाने के लिए ली गई थी। इस घटना पर ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरीसन ने गंभीर चिंता जताते हुए इसे एक भयावह और असहनीय हरकत बताया था। जिस पर कतर सरकार ने इन महिलाओं से माफी मांगी है।

ऑस्ट्रेलियाई के प्रधानमंत्री का कहना :

इस घटना के सामने आने पर इस बात का खुलासा हुआ कि, ऐसा कुल 10 फ्लाइट्स में यात्रा कर रही महिलाओं के साथ हुआ था। इस मामले पर ऑस्ट्रेलियाई के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने कहा-

'यह अकल्पनीय, भयावह और न कबीले बर्दाश्त हरकत है। मैं भी एक बेटी का पिता हूं। ऑस्ट्रेलियाई हो या कोई और, मैं जानता हूं कि, इन महिलाओं पर क्या गुजरी होगी।'
स्कॉट मॉरिसन, ऑस्ट्रेलियाई के प्रधानमंत्री

ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री का कहना :

ऑस्ट्रेलिया के विदेश मंत्री मैरिसे पेन का कहना है कि, ऐसा एक नहीं बल्कि, 10 फ्लाइट्स की महिलाओं को झेलना पड़ा है। इन 10 फ्लैट्स में कुल 18 महिलाओं की तलाशी ली गई। जिनमें से 13 ऑस्ट्रेलिया की थीं। साथ ही उन्होंने अलग-अलग हवाई अड्डों के नाम भी बताये।

कतर एक इस्लामिक देश :

गौरतलब है कि, कतर एक इस्लामिक देश है और यहां चाइल्डबर्थ जैसे मामलों के लिए बहुत ही सख्त कानून बनाये गए हैं। इस घटना के सामने आने क़तर सरकार को काफी विरोध झेलना पड़ रहा है। शायद यही कारण है कि, वहां की सरकार ने शर्मिंदा होकर माफी मांगी है।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co