गुजरात उद्योग-खनन विभाग ने ई-कॉमर्स दिग्गज अमेजन के साथ किया एमओयू
गुजरात उद्योग-खनन विभाग ने ई-कॉमर्स दिग्गज अमेजन के साथ किया एमओयूSocial Media

गुजरात उद्योग-खनन विभाग ने ई-कॉमर्स दिग्गज अमेजन के साथ किया एमओयू

गुजरात सरकार के उद्योग एवं खनन विभाग और अमेजन इंडिया के बीच आज यहां एक समझौता ज्ञापन हुआ जिसके चलते राज्य के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम 200 से अधिक देशों में अपने उत्पाद निर्यात कर सकेंगे।

गांधीनगर, गुजरात। गुजरात सरकार के उद्योग एवं खनन विभाग और अमेजन इंडिया के बीच आज यहां एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) हुआ जिसके चलते राज्य के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) 200 से अधिक देशों में अपने उत्पाद निर्यात कर सकेंगे।

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की उपस्थिति में राज्य के एमएसएमई आयुक्त रणजीत कुमार और अमेजन के ग्लोबल सीईओ अभिजीत कामरा ने इस एमओयू पर हस्ताक्षर किए। मुख्यमंत्री ने इस एमओयू का स्वागत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 'आत्मनिर्भर भारत' का जो विचार और देशी उत्पादों की निर्यात वृद्धि पर जो जोर दिया है उसके आधार पर गुजरात की एमएसएमई इकाइयों को अब अमेजन के साथ मिलकर वैश्विक बाजार तक पहुंचने का अवसर मिलेगा। व्यापार-वाणिज्य, परिश्रम और साहस तो गुजरातियों की तासीर है। केवल कमाई की ही नहीं बल्कि कारोबार को लगातार बढ़ाते रहने की अपेक्षा के साथ गुजराती निरंतर कार्यरत रहते हैं। गुजरात के व्यापारियों ने बरसों पूर्व अफ्रीका और दक्षिण एशिया के देशों में व्यापार-वाणिज्य को विकसित किया है। गुजरात सरकार और अमेजन के बीच हुए इस एमओयू के अंतर्गत अमेजन इंडिया की ओर से ई-कॉमर्स एक्सपोर्ट की क्षमता निर्माण (कैपेसिटी बिल्डिंग) सुविधाओं का निर्माण होने से राज्य के लाखों एमएसएमई उद्योगों के 'मेड इन इंडिया-मेड इन गुजरात' उत्पाद अंतरराष्ट्रीय बाजारों और उपभोक्ता वर्ग तक आसानी से पहुंच सकेंगे और 'वोकल फॉर लोकल' की मंशा होगी।

राज्य सरकार की आज शाम जारी आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार इसके अंतर्गत अमेजन विशेष रूप से कपड़ा, रत्न एवं आभूषण और हस्तकला कारीगरी की वस्तुओं तथा स्वास्थ्य देखभाल उत्पादों के तहत हर्बल एवं ऑर्गेनिक उत्पादों के लिए गुजरात के एमएसएमई क्षेत्र को दुनियाभर के ग्राहकों तक पहुंचाने में मददगार होगा।

वित्तीय वर्ष 2020-21 में गुजरात देश के कुल निर्यात में 21 फीसदी हिस्सेदारी के साथ इस क्षेत्र में देश का अग्रिम राज्य है। अब इस एमओयू के परिणामस्वरूप उद्योग विभाग के सहयोग से अमेजन राज्य में एमएसएमई क्लस्टर्स वाले मुख्य शहरों अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत, भरुच और राजकोट आदि में बीटूसी (बिजनेस टू कस्टमर) ई-कॉमर्स एक्सपोर्ट के संबंध में प्रशिक्षण सत्र, वेबिनार और कार्यशाला का आयोजन कर एमएसएमई इकाइयों को उनके उत्पाद विश्व बाजार तक पहुंचाने में सहायक बनेगा।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co