HCL Tech करेगी ऑस्ट्रेलियाई कंपनी DWS Ltd का अधिग्रहण

"HCL Tech इसके अलावा DWS Ltd के शेयरधारकों को कंपनी द्वारा हाल ही में घोषित किया गया 0.03 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर प्रति शेयर लाभांश भी देगी।"
HCL Tech करेगी ऑस्ट्रेलियाई कंपनी DWS Ltd का अधिग्रहण
अधिग्रहण से HCL Tech की ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में बढ़ेगी ताकत।- Social Media

हाइलाइट्स –

  • अधिग्रहण से मजबूत होगी HCL Tech

  • डिजिटलाइजेशन में बढ़ेगा HCL का रुतबा

  • ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में बढ़ेगी ताकत

राज एक्सप्रेस। सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख स्वदेशी कंपनी एचसीएल टेक्नोलॉजीज (HCL Technologies) इसी क्षेत्र की ऑस्ट्रेलियाई कंपनी डीडब्ल्यूएस लिमिटेड (DWS Ltd) का अधिग्रहण करेगी।

ख्यात कंपनी है DWS Ltd -

डीडब्ल्यूएस ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में कारोबार करती है। मेलबर्न, सिडनी, एडिलेड, ब्रिस्बेन और कैनबेरा में उसके कार्यालय है। वित्त वर्ष 2019-20 में डीडब्ल्यूएस समूह का राजस्व 16.79 करोड़ डॉलर रहा।

कंपनी ने बताया कि सौदे के लिए अभी नियामक मंजूरियां मिलना बाकी हैं। कंपनी ने नियामक मंजूरियों के बाद दिसंबर 2020 तक अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी हो जाने की उम्मीद जताई है।

ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में आसानी -

HCL Technologies ने सोमवार को इस बारे में घोषणा की। HCL Tech के इस कदम से कंपनी को ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बाजारों में स्थिति मजबूत करने में आसानी होगी।

एचसीएल टेक्नोलॉजीज ने शेयर बाजार को बताया कि पूरी तरह चुकता आधार पर कुल 13.18 करोड़ शेयर्स के बदले 15.82 करोड़ ऑस्ट्रेलियाई डॉलर यानी 850.33 करोड़ रुपयों का भुगतान किया जाएगा।

HCL Tech इसके अलावा DWS Ltd के शेयरधारकों को कंपनी द्वारा हाल ही में घोषित किया गया 0.03 ऑस्ट्रेलियाई डॉलर प्रति शेयर लाभांश भी देगी।

एचसीएल टेक्नालॉजीज ने उम्मीद जताई है कि डीडब्ल्यूएस का अधिग्रहण करने से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में जारी डिजिटल प्रक्रिया में कंपनी HCL Tech का योगदान और कद उल्लेखनीय रूप से बढ़ेगा।

एचसीएल टेक्नोलॉजीज के इस कदम से प्रमुख उद्योगों में भी एचसीएल के ग्राहक आधार को मजबूती प्राप्त होगी। कंपनी की इस घोषणा के बाद सोमवार को सेंसेक्स में सबसे ज्यादा चार फीसद से अधिक तेजी एचसीएल टेक में देखने को मिली।

नियामक मंजूरी बाकी -

सौदे के बारे में कंपनी ने जानकारी दी है कि इस बारे में अभी नियामक मंजूरी मिलना बाकी है। ऐसी उम्मीद है कि नियामक मंजूरी की प्रक्रिया के बाद इस सालांत दिसंबर 2020 तक अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

DWS Ltd एक नजर -

मेलबर्न, सिडनी, एडिलेड, ब्रिसबेन और कैनबरा में कार्यालय संचालित करने वाली IT सॉल्यूशंस फर्म DWS Ltd में 700 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं। समाचार एजेंसी के अनुसार वित्तीय वर्ष 2020 में कंपनी की आय 16.79 करोड़ ऑस्ट्रेलियाई डॉलर रही।

कंपनी डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन, एप्लीकेशन डेवलपमेंट एंड सपोर्ट, प्रोग्राम एंड प्रोजेक्ट मैनेजमेंट के साथ ही कंसल्टिंग जैसी आईटी सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदान करती है।

कंपनी ने दी जानकारी -

एक नियामक फाइलिंग में एचसीएल टेक्नोलॉजीज ने कहा कि; पूर्णतः तरलता आधार पर 131.83 मिलियन शेयर्स की संख्या पर विचार करने के बाद कुल इक्विटी मूल्य पे-आउट 158.2 मिलियन ऑस्ट्रेलियाई डॉलर यानी लगभग 850.33 करोड़ रुपये होगा।

इनका अनुमोदन -

अधिग्रहण की योजना की प्रक्रिया ऑस्ट्रेलिया में अदालत से अनुमोदित की जाएगी और यह सौदा ऑस्ट्रेलिया के विदेशी निवेश समीक्षा बोर्ड, ऑस्ट्रेलियाई प्रतिस्पर्धा आयोग और न्यूजीलैंड ओवरसीज इन्वेस्टमेंट कार्यालय के अनुमोदन के अधीन होगा।

सहायक कंपनी का रोल -

एचसीएल ऑस्ट्रेलिया सर्विसेज प्रोपराईटरी लिमिटेड (HCL Australia Services Pty Ltd) जो कि एचसीएल टेक्नोलॉजीज की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है लेन-देन की प्रक्रिया देखेगी। इसके लिए डीडब्ल्यूएस शेयरधारकों की मंजूरी की भी आवश्यकता होगी।

उत्कृष्ट परिणाम का प्रतिनिधित्व -

"यह अधिग्रहण डीडब्ल्यूएस से जुड़े शेयरधारकों, कर्मचारियों, ग्राहकों और अन्य व्यापार भागीदारों जैसे सभी हितधारकों के लिए एक उत्कृष्ट परिणाम का प्रतिनिधित्व करता है।"

डैनी वालिस, सीईओ और प्रबंध निदेशक, DWS Ltd

विस्तार से उत्साहित -

"हम ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में एचसीएल टेक्नोलॉजीज के इस विस्तार के लिए उत्साहित हैं और हमें विश्वास है कि हमारी संयुक्त ताकत हमारे ग्राहकों की डिजिटल परिवर्तन यात्रा और नवाचारों में तेजी लाएगी।"

माइकल हॉर्टन, कार्यकारी उपाध्यक्ष एवं कंट्री मैनेजर, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड, एचसीएल टेक्नोलॉजीज

हॉर्टन ने कहा कि एचसीएल 20 वर्षों से इस क्षेत्र में निवेश कर रही है और डिजिटलाइजेशन को सक्षम करने और स्थानीय पारिस्थितिकी तंत्र को बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। सोमवार को HCL Technologies के शेयर बीएसई पर 4.01 प्रतिशत की बढ़त के साथ 843.65 रुपये पर कारोबार कर रहे थे।

डिस्क्लेमर – आर्टिकल प्रचलित रिपोर्ट्स पर आधारित है। इसमें शीर्षक-उप शीर्षक और संबंधित अतिरिक्त प्रचलित जानकारी जोड़ी गई हैं। इस आर्टिकल में प्रकाशित तथ्यों की जिम्मेदारी राज एक्सप्रेस की नहीं होगी।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co