Hero MotoCorp बंद कर रही अपने प्लांट और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट
Hero MotoCorp बंद कर रही अपने प्लांट और मैन्युफैक्चरिंग यूनिटSocial Media

Hero MotoCorp बंद कर रही अपने प्लांट और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट

टू-व्हीलर निर्माता कंपनी हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp) ने अपनी सभी प्लांट और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट को लेकर बड़ा फैसला किया है।

राज एक्सप्रेस। दुनियाभर में कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है। इसी बीच भारत में कोरोना की दूसरी लहर देखने को मिल रही है। जो काफी भयानक है। इस लहर में कई लोगों की जानें चली गईं। साथ ही देशभर से एक एक दिन में लाखों में मामले सामने आ रहे हैं। इसका बुरा असर देश की कंपनियों और आम लोगों पर पड़ रहा है क्योंकि कई राज्यों में लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। जिसके कारण कई कंपनियां और ऑफिस को भी बंद कर दिया गया है। वहीं, अब टू-व्हीलर निर्माता कंपनी हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp) ने अपनी सभी प्लांट और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट को लेकर बड़ा फैसला किया है।

Hero MotoCorp का बड़ा फैसला :

दरअसल, देशभर में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के चलते देश की सबसे बड़ी टू-व्हीलर निर्माता कंपनी Hero MotoCorp ने अपने सभी प्लांट और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट को बंद करने का फैसला किया है। इस बारे में जानकारी देते हुए कंपनी ने बताया है कि, Hero MotoCorp के सभी प्लांट और मैन्युफैक्चरिंग यूनिट को चरणबद्ध तरीके से 22 अप्रैल से 1 मई तक इन बंद रखा जाएगा। कंपनी इस समय का इस्तेमाल अपने मैन्युफैक्चरिंग प्लांट्स में जरूरी मेंटेनेंस वर्क करने में इस्तेमाल करेगी। इसी के साथ ही कंपनी द्वारा किए इस टेम्पररी शटडाउन के दौरान कंपनी का ग्लोबल पार्ट्स सेंटर (GPC) भी बंद रहेगा।

कंपनी के मैन्युफैक्चरिंग प्लांट :

बताते चलें, आज देश में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 21.50 लाख के पार पहुंच गई है। देश के अलग अलग राज्यों के हर क्षेत्र हर सेंटर से कोरोना के मामले लगातार सामने आ ही रहे हैं। इन सब को ध्यान में रखते हुए ही कंपनी ने इतना बड़ा फैसला लिया है। इस फैसले के तहत Hero MotoCorp अपने हरियाणा के गुरुग्राम और घारूहेरा के मैन्युफैक्चरिंग प्लांट को भी बंद रखेगी। इसके अलावा कंपनी के अन्य मैन्युफैक्चरिंग प्लांट आंध्र प्रदेश के चित्तूर, उत्तराखंड के हरिद्वार, राजस्थान के नीमराना और गुजरात के हलोल में भी स्थापित हैं। इन सभी फैक्ट्रियों में काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या 80,000 से ज्यादा है।

कंपनी ने बताया :

कंपनी ने स्टॉक एक्सचेंज फाइलिंग में बताया कि, 'इस शटडाउन से डिमांड को पूरा करने की कंपनी की क्षमताओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा। इस शटडाउन की भरपाई आने वाले समय में की जाएगी। उसके सभी कॉर्पोरेट ऑफिस में वर्क फ्रॉम होम हो रहा है और बहुत कम कर्मचारी रोटेशन बेसिस पर ऑफिस आते हैं।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

No stories found.
Top Hindi News Bhopal,Trending, Latest viral news,Breaking News - Raj Express
www.rajexpress.co