HP भी बना रही छंटनी की योजना
HP भी बना रही छंटनी की योजना Social Media

HP भी बना रही छंटनी की योजना, कंपनी ने अभी से दी जानकारी

कई IT कंपनियों के बाद लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफ्रैक्चरर कंपनी 'हैवलेट पैकर्ड' यानी 'HP' इंक से सामने आई है। खबर यह है कि, HP भी अपने कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखने की योजना बना रही है।

HP Layoff Worker : आज IT सेक्टर की कंपनियों में ऐसा लग रहा है, जैसे छंटनी का ट्रेंड सा चल रहा है और इन कंपनियों को देखा कर वो कहावत काफी फिर बैठ रही है कि, खरबूजे को देखा कर खरबूजा रंग बदल रहा है। यानी एक कंपनी ने छंटनी का ऐलान किया तो अब लगातार कोई न कोई IT सेक्टर की कंपनी छंटनी का ऐलान करती ही जा रही है। वहीँ, पिछले दिनों लगातार कई दिग्गज कंपनियों द्वारा छंटनी करने की खबर देने के बाद अब यही खबर लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफ्रैक्चरर 'हैवलेट पैकर्ड' यानी 'HP' इंक से सामने आई है। खबर यह है कि, HP भी अपने कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखने की योजना बना रही है।

HP की कर्मचारियों को बाहर निकालने की योजना :

दरअसल, पिछले दिनों Meta, BYJU'S, Amazon और Unacademy द्वारा अपने कर्मचारियों की छंटनी करने का ऐलान किया। वहीं, अब खबर है कि, लैपटॉप और इलेक्ट्रॉनिक्स मैन्युफ्रैक्चरर 'हैवलेट पैकर्ड' (HP इंक) अपने लगभग 6,000 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा सकती है। जो कि, कंपनी के टोटल वर्कफोर्स का लगभग 12% हिस्सा होगी। हालांकि, इस खबर के साथ यह भी खबर है कि, कंपनी यह योजना इस साल या अगले साल के लिए नहीं बल्कि 2025 तक के लिए बना रही है। यानी कंपनी अपनी इस योजना को पूरा करने का साल 2025 तक पूरा करेगी। वर्तमान समय में देखा जाए तो HP कंपनी में 50,000 से ज्यादा कर्मचारी कार्य करते हैं।

HP ने की घोषणा :

बताते चलें, HP ने अपनी वित्तीय वर्ष 2022 की फुल ईयर की रिपोर्ट जारी करने के साथ ही छंटनी की घोषणा की है। कंपनी के अनुसार, कोरोना काल में जब सब ऑनलाइन हो रहा था तब कंपनी के कंप्यूटर (पीसी) और लैपटॉप सेगमेंट में जोरदार बढ़त दर्ज हुई थी, लेकिन अब बिक्री में काफी गिरावट दर्ज हुई है। इसका नतीजा यह हुआ है कि, HP ने वर्कफोर्स घटाने की योजना बनाई है। HP ने चौथी तिमाही के रेवेन्यू की जानकारी देते हुए बताया है कि, 'चौथी तिमाही में रेवेन्यू साल दर साल 0.8% घटकर 14.80 बिलियन डॉलर हो गया। पर्सनल सिस्टम सेगमेंट में रेवेन्यू, जिसमें PC शामिल हैं, 13% गिरकर 10.3 बिलियन डॉलर हो गया। प्रिंटिंग रेवेन्यू 7% कम होकर 4.5 बिलियन डॉलर हो गया।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

No stories found.
| Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.co