IMF Chairman statement on global recession
IMF Chairman statement on global recession|Social Media

कोरोना से हुए नुकसान को देखते हुए IMF की चेयरमैन ने दिया बड़ा बयान

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से होने वाले नुकसान को देखते हुए इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड (IMF) की चेयरमैन क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने अपनी बात रखते हुए कहां कि, अब हम अब मंदी के दौर में हैं।

राज एक्सप्रेस। कोरोना वायरस जैसी महामारी की चपेट में आने से पूरी दुनिया में लाखों लोगों की जान जा चुकी हैं। इसका बुरा असर दुनियाभर के शेयर मार्केट और अर्थव्यवस्था पर भी पड़ता नजर आ रहा है। इसकी चपेट में आने से दुनियाभर के देशों अर्थव्यवस्था लगातार गिरती नजर आ रही है। वहीं, कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप से होने वाले नुकसान को देखते हुए इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड - IMF (अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष) की चेयरमैन क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने अपनी बात रखते हुए कहा कि, अब हम अब मंदी के दौर में हैं।

Last updated

IMF की चेयरमैन का कहना :

दरअसल, शुक्रवार को इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड (IMF) की चेयरमैन क्रिस्टालिना जॉर्जीवाने कोरोना वायरस को गंभीरता से लेते हुए स्पष्ट करते हुए कहा कि, 'COVID-19 महामारी दुनियाभर की अर्थव्यवस्था को मंदी की ओर धकेल रही है, अब हम मंदी के दौर में हैं। इस मंदी के चलते बड़े-बड़े विकासशील देशों को भी मदद के लिए बड़े पैमाने पर धन की जरूरत पड़ेगी। मौजूदा समय में हमने जिस मंदी में प्रवेश किया है, वो स्थिति 2009 में वैश्विक वित्तीय संकट से भी ज्यादा खराब है।

Last updated

2.5 ट्रिलियन डॉलर की आवश्यकता :

आईएमएफ की चेयरमैन ने बताया कि, "दुनिया भर में आर्थिक गतिविधियां अचानक से ठप हुई है और मंदी के साथ उभरते बाजारों को 2,500 अरब डॉलर के वित्त की आवश्यकता है। हमारा मानना है कि, यह आंकड़ा कम है। अब तक 80 से अधिक देशों ने मॉनिटरी फंड से आपात सहायता का अनुरोध किया है।’’

Last updated

अपर्याप्त घरेलू संसाधन :

बताते चलें कि, उभरते बाजारों में सरकारों द्वारा बीते कुछ सप्ताहों में 83 बिलियन डॉलर से अधिक की राशि का पलायन किया जा चुका है और इससे बहुत कुछ कवर भी किया जा सकता है, लेकिन फिर जाये तो, घरेलू संसाधन अपर्याप्त ही हैं। इसके अलावा कुछ देशों पर पहले से ही अधिक कर्ज का बोझ है।

Last updated

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Last updated

Raj Express
www.rajexpress.co