भारत स्वदेशी ऐप स्टोर तैयार करने की तैयारी में जुटा
भारत टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भी आत्म निर्भर बनने की तैयारी में जुटा है। क्योंकि, भारत अन्य ऐप स्टोर्स की तरह ही जल्द ही खुद का ऐप ईकोसिस्टम पर आधारित स्टोर लांच करने की तैयारी में जुटा है।
भारत स्वदेशी ऐप स्टोर तैयार करने की तैयारी में जुटा
India is preparing Swadeshi App StoreKavita Singh Rathore -RE

राज एक्सप्रेस। हाल ही में लॉकडाउन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र अपने संबोधन के दौरान आत्मनिर्भर भारत की बात करते हुए ऐसे कार्यो को बढ़ावा दिया था जो, भारत को आत्मनिर्भर बनने में सहायक हैं। वहीं, अब भारत टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भी आत्म निर्भर बनने की तैयारी में जुटा हुआ है, इस बात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता हैं कि, भारत अन्य ऐप स्टोर्स की तरह ही जल्द ही खुद का ऐप ईकोसिस्टम पर आधारित स्टोर लांच करने की तैयारी में जुटा है।

स्वदेशी ऐप स्टोर :

खबरों के अनुसार, भारत वर्तमान में स्वदेशी ऐप स्टोर को तैयार करने पर काम कर रहा हैं। जैसे ही यह तैयार होगा भारत में इसे लांच कर दिया जाएगा। भारत में लांच होने के बाद ये दुनियाभर के बहुचर्चित Google कंपनी के प्ले स्टोर और Apple कंपनी के Apple स्टोर को सीधी टक्कर देगा। बता दें, यह ऐप भारत के ऐप डेवलपर्स और बिजनेसमैन्स ने देसी ऐप स्टोर तैयार करने की डिमांड पर तैयार किया जा रहा है। चर्चा है कि, मोदी सरकार इस मामले पर विचार करेगी।

स्वदेशी ऐप स्टोर पहले से मौजूद :

दरअसल, हाल ही में Google ने अपने प्ले स्टोर से बहुचर्चित पेमेंट ऐप Paytm को हटा दिया था। इस मामले के बाद से ही इस स्वदेशी ऐप स्टोर को लेकर हो रही मांग और तेजी से की जाने लगी। वैसे अगर देखा जाये तो, भारत में एक स्वदेशी ऐप स्टोर पहले से ही मौजूद है, परंतु इन पर फिलहाल केवल उमंग, आरोग्य सेतु और डिजिलॉकर जैसे सरकारी ऐप्स ही उपलब्ध हैं। इस मामले में यह भी चर्चा हैं कि, शुरुआत करने के लिए इसे एक्सपेंड किया जा सकता है। खबरों के मुताबिक, किसी भी स्मार्टफोन में गूगल प्ले स्टोर के साथ ऑप्शनल ऐप स्टोर भी प्री लोड मिले इसके लिए स्मार्टफोन निर्माता कंपनियों के लिए एक पॉलिसी बनाना जरूरी है।

IT मंत्री ने बताया :

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री (IT Minister) रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर कर बताया कि, 'उन्हें भारतीय ऐप डेवलपर्स का आईडिया पसंद आया है। अत्मनिर्भर भारत ऐप ईकोसिस्टम तैयार करने के लिए इंडियन ऐप डिवेलपर्स को प्रोत्साहित करना चाहिए।'

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Related Stories

Raj Express
www.rajexpress.co