India's First Bullet Train
India's First Bullet Train|Social Media
व्यापार

इन रूट्स पर चलती नजर आएगी भारत की पहली बुलेट ट्रेन

अब भारत के कई रूट्स पर भारत की पहली बुलेट ट्रेन चलती नजर आएगी। जिसके लिए कई हाई स्पीड कॉरिडोर बन कर तैयार हैं और कई बनने की तैयारी में हैं। यहाँ पढ़े, किन रूट्स पर चलेगी भारत की पहली बुलेट ट्रेन।

Kavita Singh Rathore

Kavita Singh Rathore

हाइलाइट्स :

  • भारत में चलती नजर आएगी बुलेट ट्रेन

  • कई रूट्स के लिए हाई स्पीड कॉरिडोर बन कर तैयार

  • कई हाई स्पीड कॉरिडोर बनने की तैयारी जारी

  • मुंबई और अहमदाबाद के बीच चलाई जाएगी पहली बुलेट ट्रेन

राज एक्सप्रेस। अब भारतवासियों के लिए है ख़ुशी की खबर, क्योंकि अब भारत में भी बुलेट ट्रेन चलती नजर आएगी। यह भारत की पहली बुलेट ट्रेन होगी जो, फिलहाल कई रूट्स पर चलाई जाएगी। इन रुट्स के लिए हाई स्पीड कॉरिडोर बन कर तैयार हो चुके हैं। कई और भी हाई स्पीड कॉरिडोर बनाने की तैयारी चल भी रही है। यहाँ पढ़े, किन रूट्स पर चलेगी यह ट्रेन और कहां बन रहे नए रूट्स।

इन रूट्स पर चलेगी बुलेट ट्रेन:

भारत में यह बुलेट ट्रेन मुंबई और अहमदाबाद के बीच चलाई जाएगी जिसके लिए हाई स्पीड कॉरिडोर बनाने की तैयारी पूरी हो गई है। इसके साथ ही भारत में कुल 6 हाई स्पीड कॉरिडोर के निर्माण का कार्य जारी है। इन नए निर्मित कॉरिडोर में दिल्ली से अमृतसर तक जाने का भी एक नया रूट तैयार किया जाएगा। दिल्ली से निकल कर अमृतसर तक पहुंचने तक के इन रूट्स के बीच चंडीगढ़, लुधियाना, जालंधर भी पड़ेगा। जानकारी के लिए बता दें, यह बुलेट ट्रेन दिल्ली से अमृतसर तक के बीच के मार्ग की कुल लंबाई 459 किमी तय करेगी।

विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (DPR) :

प्राप्त जानकारी के अनुसार, इसी साल अर्थात 2020 के कुछ ही महीनों के अंदर इस ट्रेन की एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (DPR-Detailed Project Report) बनाई जाएगी। जो रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव द्वारा प्रमाणित की जाएगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, इन नए निर्मित कॉरिडोरस पर चलने वाली बुलेट ट्रेन में से हाईस्पीड कॉरिडोर पर चलने वाली ट्रेन की रफ़्तार अधिकतम 300 किलोमीटर प्रति घंटा और सेमी हाईस्पीड कॉरिडोर पर चलने वाली ट्रेन की रफ़्तार अधिकतम 160 किलोमीटर प्रति घंटा होगी।

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने बताया :

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने बताया कि, "पूरे देश में मुंबई और अहमदाबाद के बीच तैयार हो रहे हाईस्पीड कॉरिडोर की तर्ज पर कुल छह कॉरिडोर के लिए मार्गों को चिह्नित कर लिया गया है। इनके निर्माण का कार्य विस्तृत परियोजना रिपोर्ट बनने के बाद ही शुरू किया जाएगा। इस रिपोर्ट में इन रूट्स की जानकारी विस्तार से दी जाएगी। जिससे जमीन की उपलब्धता, ट्रैक अलाइनमेंट और यातायात की क्षमता का अध्ययन करने में आसानी होगी।"

नए 6 कॉरिडोर :

  • दिल्ली-चंडीगढ़-लुधियाना-जालंधर-अमृतसर कॉरिडोर - 459 किमी लंबा

  • दिल्ली-नोएडा-आगरा-लखनऊ-वाराणसी कॉरिडोर - 865 किमी लंबा

  • दिल्ली-जयपुर-उदयपुर-अहमदाबाद कॉरिडोर - 886 किमी लंबा

  • मुंबई-नासिक-नागपुर कॉरिडोर - 753 किमी लंबा

  • मुंबई-पुणे-हैदराबाद कॉरिडोर - 711 किमी लंबा

  • चेन्नई-बंगलूरू-मैसूर कॉरिडोर - 435 किमी लंबा

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

ताज़ा ख़बर पढ़ने के लिए आप हमारे टेलीग्राम चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। @rajexpresshindi के नाम से सर्च करें टेलीग्राम पर।

Raj Express
www.rajexpress.co